एम डी एम रसोईयों की बैठक रविवार 22 जनवरी को मोहगांव में संगठन सशक्तिकरण की मुहिम में बैठकें मवई और बीजाडांडी में संपन्न - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Saturday, January 21, 2023

एम डी एम रसोईयों की बैठक रविवार 22 जनवरी को मोहगांव में संगठन सशक्तिकरण की मुहिम में बैठकें मवई और बीजाडांडी में संपन्न



दैनिक रेवांचल टाइम्स - मंडला मध्यान भोजन संचालन कार्य में भोजन पकाकर परोसने वाले रसोइयों की आवश्यक बैठकें मवई और बीजाडांडी विकासखंड मुख्यालयों में इसी हफ्ते संपन्न हुई हैं।आज रविवार 22 जनवरी रविवार को मोहगांव विकासखंड मुख्यालय में बैठक होनी है।जिसमें विकासखंड के सभी रसोईयों को पहुंचने की अपील भी की गई है इस तरह जिले के सभी विकास खंडों में  समस्याओं को आपस में साझा करते हुए रसोईया संगठन को मजबूत बनाने के उद्देश्य से  एमडीएम रसोइयों की बैठकों का दौर लगातार जारी है

प्रदेश संगठन से गायत्री विश्वकर्मा ने जानकारी दी है,कि शासन के द्वारा रसोईयों के लिए जानबूझकर पनपाई जा रही तरह -तरह की समस्याएं पर समस्याएं निकलकर आ रही हैं। कहीं पर एक शाला एक परिसर कर दिये जाने,तो कहीं पर दर्ज संख्या कम होने के कारण स्कूलों को मर्ज किये जाने की नीति के चलते भी बड़ी संख्या में रसोईया काम से अलग होकर प्रताड़ित हैं।अल्प मानदेय के बाद भी समय पर भुगतान नहीं किया जाता है।इस तरह की समस्यायों के निदान के लिए संगठन शासन प्रशासन का ध्यान केंद्रित कर लगातार प्रयास करते आ रहा है।पिछले महीने मंडला -डिंडोरी में बड़े आंदोलन कर शासन के ध्यान में लाये जाने की कोशिश की गई थी।इसके पहले दर्जनों ज्ञापन आंदोलन कर सरकार का ध्यान आकर्षित करना चाहा गया।इसके बाद भी अब तक सरकार चुप्पी साधे हुई है। जिससे रसोइयों के परिवार में आर्थिक तंगी के साथ आक्रोश बढ़ता जा रहा है।जल्द ही जबलपुर संभाग के सभी जिलों के रसोईया एक बहुत बड़ी क्रांति लाने के लिए मजबूर हैं। रसोईया कुंवर सिंह मरकाम जिले के सभी विकास खंडों में भ्रमण करते हुए बैठकों का दौर जारी रखे हुए हैं।मध्य प्रदेश के 4 लाख  से अधिक रसोईया नियमित रोजगार की आश लगाए लगातार 4 दशकों से अत्यंत कम मानदेय दर पर पूरे समय शासन का काम करते आ रहे हैं।50 रुपए महीने मानदेय से बढ़कर चालीस साल बाद 2 हजार महीने का हो पाया है।जो एक परिवार को पालने के लिए कुछ भी नहीं है।रसोईयाओं की मांग है,कि उनको दस महीने रोजगार से बढ़ाकर बारह महीने और सम्मानजनक वेतन दिये जाने की मांग जल्द से जल्द पूरी हो।प्रदेश कोषाध्यक्ष जयंती बाई अहिरवार ने संगठित होकर आंदोलन करके सरकार पर दबाव बनाने की अपील प्रदेश के सभी रसोईयों से की है।रसोईया उत्थान संघ समिति से संयोजक पी.डी. खैरवार ने संगठन की मजबूती के लिए सभी जिलों में बैठकों का दौर चलाकर रसोइयों को जागरूक करने का बीणा उठाया है।

No comments:

Post a Comment