गलती से भी न करें इन चीजों का दान, जिंदगी पर पड़ सकता है बहुत बुरा असर - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Tuesday, December 20, 2022

गलती से भी न करें इन चीजों का दान, जिंदगी पर पड़ सकता है बहुत बुरा असर

 


रेवांचल टाईम्स: सनातन धर्म में दान करना सबसे बड़ा पुण्य का काम बताया गया है और कहते हैं दान करने से देवी-देवताओं का आशीर्वाद प्राप्त होता है. धार्मिक मान्यताओं के अनुसार दान करने की प्रवृति व्यक्ति को सफल बनाती है. लेकिन दान हमेशा सोच-समझकर ही करना चाहिए. बिना​ विचारे दान करने से आप पुण्य की बजाय पाप के भागीदार बन सकते हैं. इसलिए दान करते समय थोड़ा सतर्क रहें और ध्यान रखें कि किन चीजों का दान करना आपके लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है.

काला तिल

वैदिक शास्त्र के अनुसार काले तिल का सीधा संबंध राहु और केतु से माना गया है. साथ ही इसका संबंध शनि ग्रह से भी है और कहते हैं कि तिल का दान अवश्य करना चाहिए. लेकिन ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक तिल का दान करना आपकी सेहत के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है और आपको आर्थिक हानि का भी सामना करना पड़ सकता है.
माचिस

ज्योतिष शास्त्र में बताया गया है कि कभी भूलकर भी माचिस का दान नहीं करना चाहिए. माचिस का दान करने से परिवार की शांति भंग हो जाती है और बिना वजह के झगड़े होने लगते हैं.
लोहे का सामान

कहते हैं कि लोहे का सामान दान करने से आपको आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ सकता है. इसके अलावा लोहे का सामान दान करने शारीरिक समस्या भी सामने आती हैं. क्योंकि लोहे का सीधा संबंध शनिदेव है और लोहे में शनिदेव का वास माना गया है. लोहे का सामान दान करने से शनिदवे नाराज होते हैं.
नमक

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार भूलकर भी नमक का दान नहीं करना चाहिए. क्योंकि नमक का दान करने से आपको शनि की साढ़ेसाती झेलनी पड़ सकती है. साथ ही नमक का दान करने से व्यक्ति कर्ज में भी डूब जाते हैं.

डिस्क्लेमर: यहां दी गई सभी जानकारियां सामाजिक और धार्मिक आस्थाओं पर आधारित हैंरेवांचल टाईम्स.  इसकी पुष्टि नहीं करता. इसके लिए किसी एक्सपर्ट की सलाह अवश्य लें.

No comments:

Post a Comment