दिल से जुड़ी समस्याओं से लेकर बाल झड़ने तक इन पांच बीमारियों में फायदेमंद है अंकुरित मेथी - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Tuesday, December 20, 2022

दिल से जुड़ी समस्याओं से लेकर बाल झड़ने तक इन पांच बीमारियों में फायदेमंद है अंकुरित मेथी



अपने को सेहतमंद और फिट रखने के लिए आप सब भी अंकुरित दालें और बीज (Sproute) का सेवन करते होंगे. अंकुरित दालों और बीजों के सेवन के लाभ ही इतने हैं कि हर कोई इनका दीवाना है. जिन लोगों का वजन ज्यादा होता है, खासतौर पर वह स्प्राउट्स का नियमित तौर पर सेवन करते हैं. स्प्राउट्स हमें कई तरह की बीमारियों से भी बचाते हैं और बीमारी में जल्द से जल्द स्वस्थ होने में भी मदद करते हैं. आज हम एक अलग तरह के स्प्राउट्स की बात करेंगे. जी हां इस लेख में हम अंकुरित मेथी (Sprouted Fenugreek) यानी मेथी के स्प्राउट की बात करेंगे और जानेंगे यह किन-किन बीमारियों में फायदेमंद होती है.
मेथी में ऐसा क्या है

मेथी एक प्रकार का हर्ब यानी जड़ी बूटी है, जिसका वैकल्पिक चिकित्सा में लंबे समय से इस्तेमाल हो रहा है. इसके स्वास्थ्य से जुड़े बहुत से लाभ होते हैं. मेथी का पौंधा 60-90 सेंटीमीटर तक ऊंचा होता है. इसके हरे पत्तों को साग के रूप में खाया जाता है. मेथी के पीले या गोल्डन ब्राउन दानों का इस्तेमाल औषधि के रूप में होता है. पारंपरिक चीनी चिकित्सा पद्धति में मेथी का इस्तेमाल त्वचा रोगों और अन्य बीमारियों को ठीक करने के लिए किया जाता है. खासतौर पर भारत के लगभग सभी घरों में मेथी का किसी न किसी रूप में इस्तेमाल होता है. यहां तक कि आजकल साबुन और सैंपू में भी मेथी का प्रयोग होता है. मेथी में बहुत से पोषक तत्व होते हैं. चलिए उन पोषक तत्वों के बारे में जानते हैं.
1 चम्मच (11.1 ग्राम) मेथी दानों में पोषक तत्व 1 चम्मच मेथी दानों में 35 कैलोरी होती हैं
फाइबर 3 ग्राम
प्रोटीन 3 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट 6 ग्राम
फैट – 1 ग्राम
आयरन – आपकी दैनिक जरूरत का 20 फीसद
मैंगनीज – आपकी दैनिक जरूरत का 7 प्रतिशत
मैग्नीशियम – आपकी दैनिक जरूरत का 5 फीसद
अंकुरित मेथी खाने से होते हैं क्या-क्या फायदे

मेथी के पत्तों को साग के रूप में खाया जाता है. इसके अलावा कसूरी मेथी के रूप में भी इनका इस्तेमाल होता है. मेथी के दाने कई तरह से उपयोग में लाए जाते हैं. इनकी सब्जी बनाई जाती है, मसालों के रूप में इस्तेमाल होता है. मेथी के दानों को भूनकर उन्हें पीस लें तो उससे बहुत ही सुंगधित और लाभदायक चाय भी बनाई जाती है. इसके अलावा अंकुरित मेथी के भी कई चिकित्सीय लाभ हैं. मेथी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए जानी जाती है. कुल मिलाकर कह सकते हैं कि मेथी का हर तरह से सेवन लाभदायक (Benefits of Methi) होता है. इस आर्टिकल में हम आगे सिर्फ अंकुरित मेथी के दानों (Sprouted Fenugreek Seeds Benefits) की ही बात करेंगे.
ऐसे तैयार करें अंकुरित मेथी

मेथी के दानों को अंकुरित करने के लिए उन्हें रातभर पानी में भिगोना पड़ता है और फिर इन्हें गीले कपड़े में गर्म स्थान पर 1-2 दिन के लिए रख दें. अंकुरित होने के बाद मेथी के दानों का पोषण कई गुना बढ़ जाता है. जैसा कि हमने ऊपर इसके पोषक तत्वों के बारे में बताया है. इनमें आयरन, प्रोटीन, फाइबर, कार्बोहाइड्रेट, मैग्नीशियम, मैंगनींज, पोटेशियम, कैल्शियम, जिंक, विटामिन बी और विटामिन सी जैस पोषक तत्व पाए जाते हैं. इतने सारे पोषक तत्वों की वजह से ही मेथी के दानों का उपयोग औषधि के रूप में किया जाता है.
अंकुरित मेथी से कंट्रोल होता है वजन

मेथी के बीजों में पॉलिसेकेराइड होता है, जिसे गैलेक्टोमेनन के रूप में भी जाना जाता है. मेथी में 75 फीसद तक घुलनशील फाइबर होता है, जो आपको पेट भरा होने का एहसास दिलाता है और आपको मोटापे से दूर रखता है. मेथी में मिलने वाले ऐसे तत्वों से बार-बार भूख नहीं लगती है, जिसकी वजह से व्यक्ति खाना कम खाता है. इस तरह से वजन को नियंत्रित करने में भी अंकुरित मेथी लाभदायक साबित होती है.
दिल को स्वस्थ रखने के लिए अंकुरित मेथी खाएं

एक शोध के अनुसार अगर नियमित तौर पर अंकुरित मेथी के दानों का सेवन किया जाए तो इससे कोलेस्ट्रॉल का स्तर नियंत्रण में रहता है और हार्ट अटैक की आशंका कम हो जाती है. यही नहीं मेथी के अंकुरित दाने खाने स ट्राइग्लिसराइड भी कंट्रोल होती है. बता दें कि ट्राइग्लिसराइड और कोलेस्ट्रॉल ही हृदय रोगों का प्रमुख कारण होते हैं. इस तरह से अंकुरित मेथी के दाने खाने से हृदय स्वस्थ रहता है.
बुखार में भी फायदेमंद है अंकुरित मेथी

अंकुरित मेथी के दानों का सेवन करने से वात और कफ दोष नियंत्रित रहते हैं. मेथी में कई ऐसे तत्व होते हैं जो बुखार को नियंत्रित कर सकते हैं. मेथी में ताकत और पोषण देने की क्षमता होती है और इस तरह से यह आमतौर पर होने वाली कमजोरी को दूर करने में भी मददगार होती है.
डायबिटीज में फायदेमंद है अंकुरित मेथी

अगर आप या आपका कोई करीबी डायबिटीज से पीड़ित है तो आपको या उन्हें जरूर अंकुरित मेथी के दानों का सेवन करना चाहिए. इससे मिलने वाले लाभों के बारे में जानकर आप हैरान रह जाएंगे. क्योंकि यह अमीनो एसिड का बेहतरीन स्रोत हैं, इसलिए मेथी के दाने शरीर में इंसुलिन के उत्पादन को बढ़ावा देते हैं. इससे हाई ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित करने में मदद मिलती है. अपनी शुगर लेवल को नियंत्रित करने के लिए आपको अंकुरित मेथी के दानों का सेवन करना होगा.
बाल झड़ने की समस्या दूर करती है मेथी

अंकुरित मेथी के बीज खाने से आपकी बाल झड़ने की समस्या का भी हल हो सकता है. इनमें बड़ी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं, जो मुक्त कणों (Free Radicals) से लड़ते हैं. मेथी आपक बालों को जड़ से पोषण देने के साथ ही उनके फॉलिकल्स की समस्याओं को भी प्रभावी ढंग से सुलझाती है. अंकुरित मेथी दाने खाने से आपके बाल घने होने में मदद मिलेगी. मेथी दानों में पाया जाने वाला प्रोटीन और निकोटीनिक अम्ल आपके बालों के लिए बहुत ही लाभदायक होता है.

No comments:

Post a Comment