हितग्राही के मरणोपरांत पंचायत द्वारा आहरित की गई राशि, सचिव एवं रोजगार सहायक द्वारा भ्रष्टाचार को अंजाम दिया गया... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Wednesday, December 28, 2022

हितग्राही के मरणोपरांत पंचायत द्वारा आहरित की गई राशि, सचिव एवं रोजगार सहायक द्वारा भ्रष्टाचार को अंजाम दिया गया...




रेवांचल टाईम्स - मण्डला, जिले में आये दिन ग्राम पंचायतों में भ्रष्टाचार, लापरवाही, राशि आहरण, फर्जी भुगतान, गुणवत्ताहीन निर्माण कार्य जैसे मामले सामने आ रहे हैं, परन्तु शासन-प्रशासन पर बैठे आला-अधिकारियों द्वारा दी जा रही संरक्षण और उक्त प्रकरणों में अपनी हिस्सेदारी बटोरने के चलते दोषियों के हौसले बुलंद होते जा रहे हैं नतीजा जिले में उक्त मामले थमने और कम होने की वजाए तेजी से फल-फूल रहा है। मामला जनपद पंचायत बिछिया अंतर्गत ग्राम पंचायत मेढा़ताल का जहां सचिव और रोजगार सहायक सचिव की मिलीभगत के चलते मृत महिला के नाम पर प्रधानमंत्री आवास की राशि आहरित कर लिया गया है। मामले की जानकारी को लेकर संवाददाता के द्वारा ग्राम पंचायत मेढा़ताल सचिव संजीव चक्रवर्ती से मामले की जानकारी ली गई तो सचिव ने बताया कि मृत महिला सरोज पति बालमुकुंद की मृत्यु 2016 में हो गई है और सरोज बाई अपने मायके में रहती थी और वहीं उसकी मृत्यु हुई है, वहीं सचिव चक्रवर्ती ने बताया कि सरोज बाई को ग्राम पंचायत से विधवा पेंशन योजना का लाभ दिया जा रहा था परन्तु उनकी मरणोपरांत उक्त योजना की पात्रता पंचायत द्वारा समाप्त कर दिया गया। जहां सरोज बाई पति बालमुकुंद की मृत्यु के बाद ग्राम पंचायत द्वारा विधवा पेंशन योजना,राशन पर्ची तथा मृत्यु प्रमाण पत्र जारी कर मृतक हितग्राही का शासन की योजनाओं से पात्रता समाप्त कर दिया गया था तो मृत्यु के बाद उस हितग्राही के नाम पर प्रधानमंत्री आवास योजना की दो किश्तों की राशि दूसरे के बैंक खाते में क्यों डाल दिया गया।

बगैर आवास निर्माण किए राशि आहरण कर लिया गया

जनपद पंचायत बिछिया अंतर्गत ग्राम पंचायत मेढाताल में पदस्थ रोजगार सहायक सचिव प्रीति झारिया द्वारा अपने सास के नाम पर प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ देने का मामला सामने आया जबकि रोजगार सहायक की सास रातरानी झारिया पति धन्नु लाल झारिया का बेटा ईश्वर प्रसाद झारिया मानिकपुर विद्यालय में शिक्षक है और बहु प्रीति झारिया उसी ग्राम पंचायत में रोजगार सहायक सचिव के पद पर पदस्थ हैं, बावजूद इसके उसको प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ दिया गया जबकि हितग्राही के बेटा-बहू शासकीय पद पर पदस्थ हैं। ग्राम पंचायत मेढाताल का पीएम आवास का दूसरा मामला यह है कि हितग्राही सरोज बाई झारिया पति बालमुकुंद झारिया की वर्षों पहले मृत्यु हो गई है और सचिव एवं रोजगार सहायक सचिव के द्वारा बगैर निर्माण कार्य प्रारंभ किए पहली किश्त 25000/- एवं दूसरी किश्त 45000/- की राशि परिजनों के खाते में राशि डालकर सचिव एवं रोजगार सहायक द्वारा भ्रष्टाचार के चलते बटवारा कर लिया गया है जबकि वास्तविकता यह है कि पहली किश्त प्लंत लेवल तक लिए होती है और दूसरी किश्त लेंटर लेवल तक के लिए दूसरी किश्त स्वीकृत किया जाता है परन्तु जिम्मेदारों द्वारा बगैर निर्माण कार्य प्रारंभ के दोनों किश्तों का भुगतान कर दिया गया है। वहीं ग्राम पंचायत सचिव संजीव चक्रवर्ती का कहना है कि कुछ राशियों का भुगतान पंचायत की जानकारी के बगैर हितग्राहियों के खाते में ऊपर से ही भुगतान कर दिया जाता है।

सरपंच-उपसरपंच द्वारा की गई कलेक्टर से शिकायत

ग्राम पंचायत मेढाताल सरपंच श्यामकली एवं उपसरपंच रामस्नेही यादव द्वारा जिला कलेक्टर के पास लिखित शिकायत दर्ज कराई गई है जिसमें सचिव एवं रोजगार सहायक सचिव द्वारा खुलेआम भ्रष्टाचार करके रोजगार सहायक सचिव की सास रातरानी झारिया पति धन्नु लाल झारिया के नाम बगैर निर्माण कार्य प्रारंभ किए हितग्राही के खाते में राशि भुगतान कर शासकीय राशि का गबन करने को लेकर शिकायत किया गया है परन्तु अभी तक जिम्मेदारों की उदासीनता एवं शिकायत को ठण्डे बस्ते में डाल कर शासन-प्रशासन द्वारा लापरवाहियों एवं भ्रष्टाचारीयों के हौंसले बुलंद किया जा रहा जिसका नतीजा यह है कि जनता का विकास कम और भ्रष्टाचारीयों का विकास अधिक हो रहा है साथ ही आला-अधिकारियों की हिस्सेदारी भी बराबर समय पर पहुंच रही हैं जिसके एवज में जिम्मेदारों द्वारा संरक्षण का दोहफा प्रदान किया जा रहा है।

इनका कहना है--------

01--आपके द्वारा दी गई जानकारी अनुसार यदि बगैर निर्माण कार्य के हितग्राहियों को राशि स्वीकृत की गई है तो संबंधित के खिलाफ कार्यवाही कर राशि बसूली की जाएगी एवं वैधानिक कार्यवाही किया जावेगी।

                                एस.आर.झारिया

                               प्रधानमंत्री आवास

                             जिला प्रभारी मण्डला।

02--कुछ राशियों का भुगतान पंचायत की बगैर जानकारी के हितग्राहियों के खाते में ऊपर से डाल दिया जाता है।

                                   संजीव चक्रवर्ती

                            सचिव ग्राम पंचायत मेढाताल।

No comments:

Post a Comment