1 साल पहले हुई मृत महिला भी मनरेगा योजना में कर रही हैं, पंचायत ने मजदूरी 300दिन की हाजरी का निकाला भुगतान किया भ्रष्टाचार... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Sunday, December 18, 2022

1 साल पहले हुई मृत महिला भी मनरेगा योजना में कर रही हैं, पंचायत ने मजदूरी 300दिन की हाजरी का निकाला भुगतान किया भ्रष्टाचार...




रेवांचल टाईम्स - मंडला जिले भ्रष्ट अधिकारियों कर्मचारियों के द्वारा किये जा रहे भ्रस्टाचार भी अजब गजब है न इन्हें अपने वरिष्ठ अधिकारियों का ख़ौफ़ ओर न ही नोकरी गवाने की एक तरह से देखा जाए तो सही है क्योंकि इस जिले में केवल और केवल भ्रस्टाचार कर रहे अधिकारियों और कर्मचारियों ही कार्य कर सकते है।

 प्रदेश के मुखिया कितना भी छन्ना लगा ले पर आज भ्रष्ट और भ्रस्टाचार में लगाम लगाना मुश्किल ही नही न मुमकिन है प्रदेश और जिले की मुखिया कितना ही सख्त कानून बना ले कोई भी आदेश निकाल दे पर पालन करने वाले तो वही भ्रष्ट लोग है जिन्हें किसी प्रकार का भय नही बेख़ौफ़ है।

                 वही जानकारी के अनुसार विकास खण्ड नैनपुर की ग्राम पंचायत रमपुरी के रोजगार सहायक और सचिव ने मिलकर निकली राशि औरअन्य मजदुरो के साथ भी कर रहे फर्जीवाड़ा 


जनपद पंचायत के अधिकारियों की मिली भगत मगर कार्यवाही करने से कतरा रहें हैं। अधिकारी


मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री लगातार कह रहें कि हर स्तर पर भ्रष्टाचार खत्म करना है। मगर उसके कर्मचारी और अधिकारी लगातार और तेज गति से घोटाला कर रहें हैं। और उसकी कोई आवाज उठता है। खुली चुनोती देते हैं। वही ऐसा एक मामला नैनपुर विकासखंड के ग्राम पंचायत  तुमरी टोला का सामने आया है। जिसमें ठुमरी टोला निवासी मनोज उईके की मां भदली बाई  15/7/2021/ को इनकी मृत्यु हो गई थी ।जिसका मृत्यु प्रमाण पत्र भी परिवार के साथ हैं।मगर अचानक भदली बाई मनरेगा में मजदूरी करने जाने लगी तो पूरा परिवार अचंभित हो गया कि जो महिला 1साल पहले मर चुकी हैं। तो वह कैसे मजदूरी कर रही हैं। और भुगतान भी ले रही हैं। बकायदा उनके जांबकार्ड में मजदूरी दर्ज हो रही हैं। और भुगतान भी निकल रहा हैं। मगर भुगतान कौन ले रहा हैं। यह बड़ा सवाल हैं। वही 

ग्राम के ही दो अन्य व्यक्ति जो मृत हो चुके हैं। वे भी मनरेगा में मजदुरी कर रहे  हैं। 


रोजगार सहायक और सचिव ने निर्माण कार्य मे भी फर्जीवाड़ा...

ग्राम सचिव और रोजगार जय प्रकाश यादव सालों से कारनामो किया हैं। अगर जाँच होती हैं। तो ऐसे प्रकरण सामने निकल आएंगे की प्रशासन भी सक् में पड़ जायेगा वही सचिव और रोजगार सहायक की पोल खुली तो मृत महिला के पुत्र के नाम पर मनरेगा और बैगर सहमति के मनोज उईके जांबकार्ड से ओनलाइन से डिलीट कर दिया मगर सचिव और रोजगार सहायक की चालाकी काम नही आई मगर प्रशासन क्या कार्यवाही करता हैं। या एक बार हितग्राही भटकता रह जायेगा वही ग्राम वासियों ने बतया हैं। सचिव और रोजगार सहायक ने निर्माण कार्यों में भी जमकर घोटाला किया है। वही जानकारी के अनुसार रोजगार सहायक ने पंचायत में घोटाला कर नैनपुर नगर में प्लॉट खरीदा हैं। वही ऐसे अनेकों कारनामे हैं। जोकि उजागर होने वाले हैं। 

वही सचिव गरीब आदिवासियों का खुला शोषण भी कर रहा हैं। मगर जो भी देखना हैं। कि इतना बड़ा मामला कही दब कर ना रह जाये।

No comments:

Post a Comment