जिला पशु चिकित्सालय मंडला में चल रही है भारी अनिमित्ताये...जलाई जा रही है सरकारी दवाई... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Saturday, November 26, 2022

जिला पशु चिकित्सालय मंडला में चल रही है भारी अनिमित्ताये...जलाई जा रही है सरकारी दवाई...




रेवांचल टाईम्स - आदिवासी बाहुल्य मंडला जिले के जिला पशु चिकित्सालय में इन दिनों प्रभारी जिला चिकित्सा अधिकारी ड्रा. सुरेन्द्र सिंह तेकाम के द्वारा की जा रही भारी अनिमित्ताये, जगह जगह लगा हुआ है गंदगी का अंबार, साथ ही  जिन पशुओं का उपचार किया गया उनके मेडिकल वेस्ट सिरिंज निदील, कॉटन गेज खाली दवाइयों की शीशिया रैपर आदि जगह जगह बिखरे नजर आ रही है। वही पशु चिकित्सालय में पशु पालकों को सरकारी दवाईयां नही दी जा रही है और पशु पालकों को सरकारी दवाइयां न देते हुए  बाहर की दवाइयां लिखी जा रही है। सरकारी दवाईयों का समय में उपयोग नही किया जाता और और दवाइयाँ कार्यालय में रखे रखे  एक्सपायरी हो जाती है जिन्हें कार्यायल के पीछे कचरे में सरकारी दवाइयों को जलाया जा रहा हैं। 

              वही प्रभारी जिला पशु चिकित्सक डॉ. सुरेन्द्र सिंह तेकाम के द्वारा जिन  पशुओ का ईलाज और ओपरेशन किया जा रहा है ऑपरेशन के बाद पशुओं में समस्याएं बनी रहती है पूर्ण ईलाज नही हो सकने के कारण अनेक पशु समय से पहले ही काल के गाल में समा जाते है जिनकी उन पशु पालको के द्वारा अनेको बार शिकायतें भी की गई है पर इन डॉ की हुई शिकायत पर जिला पशु पालन एव डेरी विभाग के द्वारा नही दिया जा रहा है इनके कार्यो पर ध्यान जिस कारण से अब पशु पालक सरकारी इलाज से डरने लगे है और अपने पशुओं प्राईवेट ईलाज करवा रहे है सरकारी व्यवस्था ठप्प हो चुकी है।

               वही जानकारी के अनुसार विगत पंद्रह दिनों पहले डॉ सुरेंद्र सिंह तेकाम के द्वारा ग्राम लफरा में जाकर एक पड़ा/भैंस का इलाज किया गया जो कि वह झनका नामक बीमारी से ग्रसित था ,इस बीमारी को लेकर पशु पालक बलराम साहू ग्राम- लफरा के द्वारा इलाज के लिए डॉक्टर तेकाम को बुलाया गया ,मौके पर डॉक्टर पहुँच देखे और देखने के बाद उनका कहना था कि बीमारी का ईलाज केवल ऑपरेशन है और जल्द से जल्द ऑपरेशन करना पड़ेगा पशु पालक ने डॉक्टर की फ़ीस देकर पड़ा का ऑपरेशन करवा लिया पर कही न कही डॉक्टर तेकाम के द्वारा लापरवाही वरती गई और  ऑपरेशन सफल नही हुआ और अब पडा चलने फिरने लायक तक नही रहा जिस कारण से पशु पालक परेशान है।

     इनका कहना है...

पड़ा कुछ माह पहले अचानक चलने फिरने असमर्थ हो गया था ज्यादा नही चलने के कारण हमने इलाज के सरकारी पशु अस्पताल के डॉक्टर से चैक करवा चैक करने के बाद ड्राक्टर साब कह रहे है कि सर्जरी करना पड़ेगा उसके बाद ठीक हो जायेगा दीपावाली के पहले ऑपरेशन किये पर पड़ा सही नही हो पाया ऑपरेशन के बाद से और ज्यादा तकलीफ़ बढ़ गई घर पर ही घास देना पड़ रहा है मेरा तो बहुत नुकसान हो गया है डॉक्टर साहब कह रहे कि फिर से ऑपरेशन कर देते है पर हमने मना कर दिया।

                                    विजय साहू

                               पशु मालिक लफरा


हॉस्पिटल में आई सरकारी दवाइयां जो कि एक्सपायरी हो चुकी थी जिन्हें साफ सफाई के दौरान उन दवाइयों को जला दी गई है। और ग्राम लफरा में जो पशु का ईलाज किया है वह कुछ कारण से सही इलाज नही हो पाया था पर हमने पशु मालिक से बात कर ली है फिर से उस पशु का ऑपरेशन कर ठीक कर दिया जायेगा।

                                         डॉ सुरेन्द्र तेकाम

                       प्रभारी जिला पशु चिकित्सालय मंडला

No comments:

Post a Comment