चंडी देवी की पूजा, ढोल मंजीरे मृदंग की धुन पर थिरकते हुए नजर आये अहीर शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सिंगारपुर के ग्रांउड में ब्याही गई मड़ई... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Monday, November 7, 2022

चंडी देवी की पूजा, ढोल मंजीरे मृदंग की धुन पर थिरकते हुए नजर आये अहीर शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सिंगारपुर के ग्रांउड में ब्याही गई मड़ई...




रेवांचल टाईम्स - मंडला जिले कि जनपद पंचायत मोहगांव अंतर्गत ग्राम पंचायत सिंगारपुर में 5 और 6 नवम्बर 2022 दिन शनिवार- रविवार को दो दिवसीय मड़ई का आयोजन किया गया है जिसमें मड़ई में आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों का मडई में जमावड़ा लगा रहा, क्योंकि सिंगारपुर मडई विकासखंड मोहगाँव के सबसे बडी कहलाने वाले मड़ई है। वही मडई के दौरान रिस्तेदारी तय की जाती है जिसमें  युवा- युवतियों ने अपने शादी के लिए मन पसन्द करते हैं l सिंगारपुर मड़ई में पंडा ने चंडी देवी की पूजा कर ढोल मंजीरे की धुन के साथ अहीर समाज ने जयकारे लगाए। परंपरागत वेशभूषा में ढोल की धुन पर झूमते अहीरों को देखने लोगों का तांता लगा रहा। सिंगारपुर के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सिंगारपुर परिसर के बीच में मुख्य मड़ई का आयोजन किया गया। मड़ई में पहुंचे पंडा- पुजारी ने मडई स्थल में चंडी माता जी स्थापित किये, पंडा पुजारी व अहीरों ने पूजा अर्चना कर चंडी माता की परिक्रमा लगाकर अपने मनोकामनाएँ पूर्ण किए। यदि कुछ विशेष आकर्षण होता है तो वह है आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र के परंपरागत वेशभूषा में सजे अहीरों का नृत्य। इसके अलावा मड़ई में आने वाले लोग झूला झूलने के लिए उमड़ पड़े। यहां भी झूले के इर्द गिर्द लोगों का हूजुम लगा रहा। वहीं दुकानों में लोगों के द्वारा खरीदारी भी की। जिसमें गन्ना मिठाई सिंघाडे खिलौनें सहित अन्य सामग्रियों की जमकर खरीदी की गई।


मडई में रहा महंगाई का रोना 

सिंगारपुर मडई में पहुंचे ग्रामीणों ने बताया है कि इस वर्ष हर वस्तुओं की कीमतों में भारी बढोतरी रही इस कारण से कम सामान खरीदने में मजबूर होना पड़ा। इस प्रकार से मडई में लोगों के द्वारा महंगाई की रोना रोते हुए दिखाई देते रहे। मडई में पहुंचे यादव बंधु गोरे लाल यादव, श्याम लाल यादव, सुरेश यादव, प्रमोद यादव, राजेश यादव ने बताया कि इस मडई में हम प्रति वर्ष ब्याहने आते हैं सिंगारपुर मडई को मुख्य रुप मनाते आ रहें हैं। ग्राम पंचायत सिंगारपुर के द्वारा अहीरों के लिए उत्तम व्यवस्था की गई जिसमें सभी यादव बंधु ग्राम पंचायत को धन्यवाद प्रेषित किये गये। बिलगढा से आये सुरेश यादव ने बताया कि सिंगारपुर मडई  आने जाने में भारी परेशानियों का सामना कर पहुँचते हैं क्योंकि जंगली क्षेत्र, उबड- खाबड व नर्मदा नदी पार कर पहुँचते हैं या फिर मजबूर होकर  35-40 किलो मीटर चक्कर लगाते हुए सिंगारपुर मडई ब्याहने पहुँचते हैं। चंडी माता की पंडा पुजारी ग्राम डोंगरगाँव निवासी हल्केराम भारतीया ने बताया कि सिंगारपुर मडई में कई पीढी से चंडी माता जी को स्थापित करते आ रहे हैं। यहाँ पर क्षेत्रीय ग्रामीणों के पंडा पहुँच कर अपने देवी देवताओं की पूजा अर्चना कर आशीर्वाद ग्रहण करते हैं वही अहीरों ने भी चंडी माता की पूजा-अर्चना कर आशीर्वाद ग्रहण करते हैं। 


 इस दौरान मुख्यातिथि के रुप में जनपद पंचायत मोहगाँव अध्यक्ष गत सिंह भवेदी, ग्राम पंचायत सिंगारपुर सरपंच श्रीमती अंजलि मरावी, उपसरपंच राजेश चक्रवर्ती, सचिव गोपाल सिंह धुर्वे, ग्राम रोजगार सहायक सुरेश कुमार विश्वकर्मा, थाना मोहगाँव पुलिस प्रशासन मौजूद रहा, वही ग्राम रक्षा समिति थाना अध्यक्ष प्रकाश पाटवेकर, ग्राम व क्षेत्रीय वरिष्ठ नागरिक धरम दास बैरागी, राजेंद्र दुबे, राम किशोर कुर्मेश्वर, अजय बैरागी, अशोक झारिया, अनिल दुबे, पतिराम धुर्वे गरभू सिंह धुर्वे, चंद्र सिंह मरकाम, प्रेम कुमार गौतम, बरतू सिंह धुर्वे, रुपराम धुर्वे, अरुण बैरागी, कैलाश संत, जयपाल मार्को, फग्गन सिंह मरावी, हल्के राम कुडापे, राजेश सिंह धुर्वे, गोपाल पदम, कोमल मुहारे, समाज सेवी हीरा सिंह उइके, इंद्रमेन मार्को सहित आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों ने सिंगारपुर मड़ई में शामिल हुए। इस प्रकार से सिंगारपुर की दो दिवसीय मडई शांति पूर्वक संपन्न हुआ।

No comments:

Post a Comment