पंच को भूमिहीन बताकर कर दिया गया शासकीय भूमि का आवंटन पंचायत और राजस्व की कार्यप्रणाली पर लग रहे गंभीर आरोप... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Wednesday, November 9, 2022

पंच को भूमिहीन बताकर कर दिया गया शासकीय भूमि का आवंटन पंचायत और राजस्व की कार्यप्रणाली पर लग रहे गंभीर आरोप...




रेवांचल टाईम्स - आदिवासी बाहुल्य जिला मंडला में सब मनमाने तरीके से चल रहा है और जिला प्रशासन के जिम्मदारो ने कसम खा ली है जो भी करगें अपने मन ही करेंगे जनता को जैसा लगे वैसा करे हमे कौन रोक सकता हैं हमे तो सरकार ने अधिकार दे दिया अब जनता को लगता है तो जाए जहाँ लगे वहाँ शिकायत करे ओर आज कल शिकायतों में होता भी क्या है सब को सब पता है जिनके पास शिकायत जानी है वो भी तो सरकार द्वारा बैठाये हुए जिम्मेदार है।


       वही जानकारी के अनुसार बिछिया की सीमावर्ती और कान्हा राष्ट्रीय उद्यान से लगी ग्राम पंचायत कटंगामाल में एक ऐसा मामला सामने आया है जिससे प्रशासन पर कई प्रश्नचिन्ह खड़े हो रहे हैं।  


मामला ये है कि ग्रा.पं. कटंगामाल के वार्ड क्रमांक 04 के पंच जगदीश यादव को भूमिहीन बताकर जमीन आवंटित की गई है  जो लोग वाकई में भूमिहीन हैं उन लोगों के साथ अन्याय है । 


पंच का नगरीय क्षेत्र की शासकीय भूमि में है कब्जा और मकान

पंच जगदीश यादव का बिछिया नगर परिषद क्षेत्र की शासकीय भूमि जो कि वार्ड क्रमांक 14 इंदिरा कॉलोनी में स्थित है पर कब्जा और मकान दोनो है तो यह व्यक्ति भूमिहीन कैसे हो गया।  नगर परिषद के पंचनामा, पूर्व पार्षद के पंचनामा सहित अन्य समस्त दस्तावेज इस बात को प्रमाणित करते हैं कि जगदीश यादव पिता डीलन यादव द्वारा बिछिया को शासकीय भूमि में कब्जा किया गया है । 


कटंगा में शौचालय भी है स्वीकृत

बड़ी अजीब बात है कि उक्त पंच जिसे भूमिहीन बताया जा रहा है उसे ग्राम पंचायत ने शौचालय का लाभ भी दिया है । अब सवाल ये है कि जब व्यक्ति भूमिहीन है तो शौचालय योजना का लाभ लेने हेतु भूमि के दस्तावेज तो दिए होंगे और ग्राम पंचायत ने योजना की राशि भी प्रदान कर दी है । और अब ग्राम पंचायत खुद ही उक्त व्यक्ति को भूमिहीन बताकर भ्रष्टाचार करवा रही है । 


पंच के पिता के नाम में है कई एकड़ जमीन

पंच जगदीश यादव के पिता के नाम पर कई एकड़ भूमि ग्राम सरही ग्राम पंचायत कटंगमाल में स्थित है जिसमे जगदीश यादव द्वारा खेती आदि का कार्य भी किया जाता है और आगे भूमि में पिता की संतानों का हिस्सा उसे प्राप्त होगा ही तो फिर कैसे वह भूमिहीन हो गया??


खेत तालाब योजना की राशि के गबन का भी लग चुका है आरोप - शिकायत भी हो चुकी

पंच जगदीश यादव के ऊपर खेत तालाब योजना की राशि के गबन का आरोप भी लगा है । इसके पहले वाली पंचवर्षीय में जगदीश की पत्नी ग्राम में पंच थी और जगदीश के पिता डीलन यादव के नाम से पंचायत के सचिव बस्त राम धुर्वे की मिलीभगत से खेत तालाब योजना का लाभ लिया गया, किंतु ग्रामीणजनो का आरोप है कि जगदीश ने अपने पिता की जो भूमि बताई है उस पर कोई खेत तालाब नही बनाया है और इसको जांच होनी चाहिए।

No comments:

Post a Comment