गोवर्धन पूजा आज, इस शुभ मुहूर्त में करें भगवान कृष्ण का पूजन - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Wednesday, October 26, 2022

गोवर्धन पूजा आज, इस शुभ मुहूर्त में करें भगवान कृष्ण का पूजन



इस साल सूर्य ग्रहण की वजह से गोवर्धन पूजा की डेट में बदलाव हो गया है और यही वजह है कि गोवर्धन पूजा ​दिवाली के अगले दिन नहीं की गई. बल्कि आज यानि 26 अक्टूबर को गोवर्धन की जाएगी. कई जगहों पर इसे अन्नकूट पूजा भी कहा जाता है. इस दिन घरों में गोबर से गोवर्धन भगवान की प्रतिमा बनाई जाती है और फिर विधि-विधान से उसका पूजा किया जाता है. गोवर्धन पूजा के दिन भगवान कृष्ण को भोग लगाने के लिए मीठे पुए और चूरमा बनाया जाता है. आइए जानते हैं गोवर्धन पूजा का शुभ मुहूर्त.
गोवर्धन पूजा 2022 शुभ मुहूर्त

गोवर्धन पूजा कार्तिक माह के कृष्ण पक्ष की प्रतिपदा तिथि के दिन मनाई जाती है और इस बार यह तिथि 25 अक्टूबर को शाम 4 बजकर 18 मिनट पर शुरू हुई. जो कि 26 अक्टूबर को दोपहर 2 बजकर 42 मिनट तक रहेगी. 25 अक्टूबर को सूर्य ग्रहण की वजह से गोवर्धन पूजा 26 अक्टूबर यानि आज की जाएगी. आमतौर पर गोवर्धन पूजा शाम के समय की जाती है और पंचांग के अनुसार शाम 4 बजकर 8 मिनट से लेकर शाम 6 बजकर 18 मिनट तक पूजा के लिए बेहद ही शुभ समय है. गोवर्धन पूजा का महत्व

हिंदू धर्म में गोवर्धन पूजा का विशेष महत्व है और इस त्योहार को बड़ी धूमधाम के साथ मनाया जाता है. खासतौर पर ब्रज क्षेत्र यह सबसे महत्वपूर्ण त्योहार है. पौराणिक कथाओं के अनुसार एक बार भगवान कृष्ण ने ब्रजवासियों को इंद्र देवता के प्रकोप से बचाया था. पौराणि क​थाओं के अनुसार द्वापर काल में भगवान श्रीकृष्ण ने इंद्र देवता के घमंड को तोड़कर समस्त गोकुलवासियों की उनके प्रकोप से रक्षा की थी. भगवान श्रीकृष्ण ने गोवर्धन पर्वत को एक उंगली पर उठाकर सभी गोकुलवासियों को बचाया था. इसके बाद इंद्र का घमंड टूटा और उन्होंने भगवान श्रीकृष्ण से माफी मांगी थी.

No comments:

Post a Comment