देश के सबसे बड़े अंतरराष्ट्रीय फर्जी पासपोर्ट और वीजा रैकेट का भंडाफोड़, नकली कागजात बनाकर लोगों को भेजते थे विदेश - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Saturday, August 20, 2022

देश के सबसे बड़े अंतरराष्ट्रीय फर्जी पासपोर्ट और वीजा रैकेट का भंडाफोड़, नकली कागजात बनाकर लोगों को भेजते थे विदेश



नई दिल्ली: सबसे बड़े अंतरराष्ट्रीय फर्जी पासपोर्ट और वीजा रैकेट चलाने वाले चार लोगों को आईजीआई एयरपोर्ट (IGI Airport) पुलिस ने गिरफ्तार किया है. आईजीआई एयरपोर्ट की डीसीपी तनु शर्मा ने बताया कि उनके पास से 325 फर्जी पासपोर्ट, 175 फर्जी वीजा और अन्य संबंधित चीजें बरामद की गई हैं. ये सबसे बड़ा रैकेट माना जा रहा है, जो पकड़ा गया है. पुलिस अधिकारी ने कहा, गिरोह का मास्टरमाइंड जाकिर यूसुफ शेख है. आईजीआई यूनिट को गिरोह के बारे में सूचना मिली थी, जिसके बाद इसका भंडाफोड़ किया गया. इससे पहले आईजीआई एयरपोर्ट के थाने में पीपी एक्ट का मामला दर्ज किया गया था, जिसमें गुजरात के गांधीनगर निवासी यात्री रवि रमेशभाई चौधरी को फर्जी पासपोर्ट के आरोप में कुवैत से पकड़ा गया था.

जांच के दौरान पाया गया कि फर्जी पासपोर्ट की व्यवस्था मुंबई के निवासी जाकिर यूसुफ शेख और मुश्ताक उर्फ जमील पिक्च रवाला नामक एजेंटों द्वारा की गई थी, जिन्हें रवि रमेशभाई चौधरी से गुजरात के नारायणभाई चौधरी नाम के एक स्थानीय एजेंट ने मिलवाया गया था. पुलिस ने जांच के दौरान शेख और पिक्च रवाला दोनों एजेंटों को उनके साथी इम्तियाज अली शेख उर्फ राजू भाई और संजय दत्ताराम चव्हाण को मुंबई से गिरफ्तार किया.

325 भारतीय पासपोर्ट, 175 वीजा, 1200 से अधिक टिकट, 11 अंतरराष्ट्रीय ड्राइविंग परमिट, 75 पासपोर्ट जैकेट, 17 आधार कार्ड, 12 रंगीन प्रिंटर, जाली भारतीय पासपोर्ट बनाने के लिए डाई, दो लेमिनेशन मशीन, एक पेपर कटर मशीन, दो यूवी मशीन, फोटो पॉलीमर स्टाम्प बनाने की मशीन और अन्य आपत्तिजनक सबूत बरामद किए गए. फरार एजेंट नारायण भाई की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं.

No comments:

Post a Comment