महात्मा गांधी योजना में मुर्दे भी कर रहे है काम और ले रहे भुगतान...जिम्मेदार मौन... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Saturday, August 20, 2022

महात्मा गांधी योजना में मुर्दे भी कर रहे है काम और ले रहे भुगतान...जिम्मेदार मौन...




रेवांचल टाईम्स - कहने को प्रदेश में भ्रष्टाचार एक भी नही है पर इसकी जमी हकीकत कुछ और ही व्याय करती है आज प्रदेश में ऐसी कोई ग्राम पंचायत नही है जिनमे भ्रष्टाचार नही किया गया हो पर कागजों में सब एक नम्बर है सब का साथ सबका विकास चल रहा है, पर सरकार ने जिनको जिम्मेदारी सोफी उनका उद्देश्य है कि सबका साथ केवल हमारा विकास, वही  ग्राम पंचायतों के जिम्मेदार चाहे तो जिंदा तो जिंदा मुर्दो से भी काम ले सकते इनसे सब डरते है और रही बात भ्रष्टाचार की तो दूर दूर तक नही करते है क्योंकि इनके वरिष्ठ लोग सब साफ पाक रहते है। शिकायत होती है पर कुछ निकल कर आता नही और जॉच करेगा कौन और अगर जांच हुई भी दोषी निकलता ही नही क्योंकि सब की भूमिका एक सी होती है।

         वही जानकारी के अनुसार सिवनी जिले की ग्राम पंचायत जामुनपानी ने जो कर दिया है उसे तो अवार्ड से नवाजा जाना चाहिए क्योंकि कोरोना के बाद जिंदा लोगो को काम नही मिल रहा है और पंचायत के जिम्मेदार तो मुर्दो तक से मजदूरी करवा ली और उसकी हाजरी भर कर पैसे भी निकाल लिए गए वही मृत महिला जा रही थी, मनरेगा के काम में और पैसे भी निकल रहे थे ।

       वैसे तो भारत की कुछ चुनिंदा स्कीमों में मनरेगा स्कीम को सबसे अच्छी स्कीमों में गिना जाता है मगर भ्रष्ट पंचायत के सरपंच सचिव और रोजगार सहायक और उपयंत्री इस योजना में भी भ्रष्टाचार करके अपना निजी स्वार्थ और अपने करीबी को लाभ पहुचाने से बाज नहीं आते इसी प्रकार एक मामला ग्रामीणों ने उजागर किया है जनपद पंचायत केवलारी अंतर्गत ग्राम पंचायत जामुन पानी में 2021 में मृत महिला कि मनरेगा में हाजिरी 2022 तक भरी जा रही थी और ऑनलाइन पेमेंट भी हो रहा था और पेमेंट निकल भी रहा था ग्रामीणों ने इसकी शिकायत कलेक्टर व जिला पंचायत सीईओ आदि से की है ।


ग्रामीणों ने बताया कि 16 अगस्त को ग्राम सभा की बैठक में यह बात सामने आई कि सीलो कुसराम जिसकी मृत्यु 2021 में  हो गई थी, उसके नाम से मस्टररोल में हाजरी 2022 में भी भरकर उसे काम करते दिखा कर ऑनलाइन पेमेंट भी किया जा रहा था। इस संबंध में जब ग्रामीणों द्वारा सचिव और रोजगार सहायक से पूछा गया तो कुछ उचित जवाब नहीं दे पाए तब ग्रामीणों द्वारा इस भ्रष्टाचार की शिकायत कलेक्टर एवं जिला पंचायत में भी की गई है।

      वही ग्रामीणों ने बताया कि पंचायत के सहायक सचिव सुनील कुमार चन्देल एवं सचिव मो० सादिक खान के व्दारा ग्राम के मृतक महिला सीलो कुशराम के बचत खाता में एक वर्ष से मनरेगा कार्य के रूपये जमा कर स्वयं के व्दारा एटीएम / बैंक बाऊचर के माध्यम से रुपये निकाले गये , जिसके साक्ष्य में मस्टररोल की छाया प्रति संलग्न है । 2 यह कि सहायक सचिव सुनील कुमार चन्देल के व्दारा फर्जी जाबकार्ड और अपने परिवार के सभी सदस्यों के जाब कार्ड बनाकर , मनरेगा के पैसे डालकर गबन किया जा रहा है साथ ही ग्राम के अन्य लोग भी है जिनके फर्जी जाबकार्ड बनाकर राशि आहरण इनके व्दारा की गई है , सहायक सचिव एवं सचिव के व्दारा ग्राम पंचायत के अधिनस्थ मेटो को एक दिन में दो हाजिरी की राशि दी जाती है । यह कि सहायक सचिव एवं सचिव के व्दारा पीएम आवास योजना में गरीब हितग्राही अरविन्द साहू , संतोष रजक , मनोज चन्देल आनन्द विश्वकर्मा से रूपये की अवैध वसूली की है , एवं पैसे रूपये नहीं देने पर योजना का लाभ न देने की धमकी दी गई । 3 यह कि कन्यादान योजना के तहत मिलने वाली हितग्राहि सुशील / गुलाब मेहरा , सुरेश विश्वकर्मा , छोटी बाई पति सुमन झारिया , से 15000 / -पन्दह हजाररूपये , 10000 / -दस हजार रूपये , 13000 / -तेरह हजार रूपये सहायक सचिव एवं सचिव के व्दारा लिये गये है । 5 यह कि तुलसीराम कुशराम एवं मनीराम के नाम फर्जी दो - दो जान कार्ड बनाया गया एवं फर्जी बचत खाता खोलकर मनरेगा कार्य में मजदूरों की फर्जी हाजिर भर कर राशि आहरण की गई है । 6 यह कि सुबको पति मोहन के जाबकार्ड में रोजगार सहायक सुनील चन्देल की पत्नि नीलम चन्देल का नाम दर्ज कर राशि आहरण किया जा रहा है उपरोक्त बातो एवं तथ्यों की जानकारी आम सभा में हुई ।


इनका कहना है

     इस बारे में पूरी जानकारी रोजगार सहायक ही दे सकते हैं मुझे इसके बारे में कोई जानकारी नहीं है किसी भी मस्टररोल में मेरे हस्ताक्षर नहीं हैं भ्रष्टाचार में मेरा कोई लेना देना नहीं है।


मो० सादिक खान 

सचिव

ग्रामपंचायत जामुनपानी

No comments:

Post a Comment