शुक्रवार के उपाय: आज के दिन किए गए ये चार उपाय आपको बनाएंगे धनवान, मां लक्ष्मी बरसाएंगी कृपा - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Friday, August 5, 2022

शुक्रवार के उपाय: आज के दिन किए गए ये चार उपाय आपको बनाएंगे धनवान, मां लक्ष्मी बरसाएंगी कृपा

 




रेवांचल टाईम्स:सप्ताह के सातों दिन किसी न किसी देवी-देवता को समर्पित है और आज शुक्रवार का दिन है. यह दिन मां लक्ष्मी को समर्पित है जिन्हें धन की देवी भी कहा जाता है. मां लक्ष्मी का पूजन व अराधना (Maa Laxmi Pujan Vidhi) करने से जातक को जीवन में कभी धन संबंधी समस्या का सामना नहीं करना पड़ता. अगर कोई व्यक्ति को आर्थिक संकट से जूझ रहा है तो उसे शुक्रवार के दिन मां लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए (Shukrawar ke din aise kare puja) कुछ विशेष उपाय अपनाने चाहिए.मां लक्ष्मी को धन की देवी कहा जाता है और इसलिए लोग इन्हें प्रसन्न करने के लिए अलग-अलग तरीके से पूजा-पाठ करते हैं. यदि आप धनवान बनना चाहते हैं और मां लक्ष्मी का आशीर्वाद पाना चाहते हैं तो शुक्रवार के दिन पूजा करते समय उन्हें लाल रंग के वस्त्र अर्पित करें. यदि संभव हो तो सुहाग का सामान जैसे कि लाल बिंदी, सिंदूर और लाल चूड़ियां अर्पित करनी चाहिए.
शुक्रवार के दिन श्री लक्ष्मी नारायण का पाठ अवश्य करना चाहिए. ऐसा करने से मां लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं और धन प ऐश्वर्य का वरदान देती हैं. ध्यान रखें कि श्री लक्ष्मीनारायण का पाठ करने के बाद भगवान को खीर का भी भोग लगाना चाहिए.
शुक्रवार के दिन अपने हाथ में लाल रंग के पांच पुष्प लें और मां लक्ष्मी का स्मरण करें. इसके बाद इन फूलों को अपने तिजोरी या अलमारी में रख दें. कहते हैं कि इससे मां लक्ष्मी अपने जातकों पर कृपा बरसाती हैं.
अगर आप धन प्राप्ति की इच्छा रखते हैं तो शुक्रवार के दिन एक लाल रंग का कपड़ा लें और उसमें सवा किलो चावल रखें. ध्यान दें कि चावल खंडित नहीं होने चाहिए. फिर इसकी पोटली बनाकर हाथ में रखें और ‘ओम श्रीं श्रीये नम: ’ मंत्र का पांच माला तक जाप करना चाहिए. फिर इस पोटली को तिजोरी में रख दें.

डिस्क्लेमर: यहां दी गई सभी जानकारियां सामाजिक और धार्मिक आस्थाओं पर आधारित हैं.रेवांचल टाईम्स इसकी पुष्टि नहीं करता. इसके लिए किसी एक्सपर्ट की सलाह अवश्य लें.

No comments:

Post a Comment