जल जीवन मिशन पर ग्रामोद्योग संस्थान के द्वारा 3 दिवसीय प्रशिक्षण - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Wednesday, August 3, 2022

जल जीवन मिशन पर ग्रामोद्योग संस्थान के द्वारा 3 दिवसीय प्रशिक्षण

मण्डला 3 अगस्त 2022

            जल जीवन मिशन पर ग्रामोद्योग संस्थान के द्वारा तीन दिवसीय प्रशिक्षण सम्पन्न मंडला जल जीवन मिशन के द्वारा पी.एच.ई. विभाग के अंतर्गत ग्रामस्तरीय सामुदायिक कार्यकर्ताओं का तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम ग्रामोद्योग संस्थान के द्वारा कटरा में आयोजित किया गया। प्रशिक्षण के समापन अवसर पर जिला पंचायत के अध्यक्ष संजय कुशराम ने कहा कि जल है तो कल है, जब हमारे आसपास पानी बचेगा तो हमारा जीवन भी बचेगा। हमने पानी की समस्या को करीब से देखा है लेकिन यह हमारा सौभाग्य है कि देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में जल जीवन मिशन के तहत हर घर जल पहुंचाने की महत्वकांक्षी योजना आज धरातल पर उतर रही है। यह योजना हमारे जीवन के लिए संजीवनी है। उन्होंने कहा कि हम इस योजना में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करें और हमेशा अपना अंशदान देकर गांव में शुद्ध पानी की आपूर्ति कराने में निरंतर कार्य करते रहें। उन्होंने प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे सभी प्रशिक्षणार्थियों को गांव में इस योजना को लेकर जन जागरूकता फैलाने के लिए आग्रह किया।

           


इस अवसर पर जिला पंचायत उपाध्यक्ष कमलेश तेकाम ने कहा कि जल से ही अपना कल है और इस जल पर ही हमारा पूरा जीवन निर्भर है। इसलिए इस योजना को सफल बनाने में सिर्फ सरकार की ही जिम्मेदारी नही है हम सभी की सामूहिक जिम्मेदारी है। राजभाषा हिंदी सलाहकार इस्पात मंत्रालय भारत सरकार के सदस्य सुधीर कसार एवं कार्यपालन यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग श्री कुशरे ने जल जीवन मिशन से जुड़े विभिन्न पहलुओं एवं योजनाओं के क्रियान्वयन के विषय में विस्तृत बात रखी। इस अवसर पर ग्रामोद्योग संस्थान के निदेशक हरिओम शुक्ला के द्वारा प्रशिक्षण में जल जीवन मिशन के उद्देश्यों पर प्रकाश डाला गया और संस्था के कार्यक्षेत्रों के बारे में अथितियों को विस्तार से बताया गया। जल जीवन मिशन की अवधारणा समुदाय की भागीदारी समितियों के कर्तव्य एवं योजना का क्रियान्वयन कैसे किया जाये। इन सभी बिंदुओं पर प्रशिक्षक डॉ. महेश गूंजेले
, सिलविया आनंद, प्रीति बालाराव, प्रतीक शुक्ला, संजय संतोष प्रसाद, सुधीर परवार के द्वारा प्रशिक्षण दिया गया। ग्राम भवरदा में प्रशिक्षणार्थियों का फील्ड विजिट कर सोशल मेप, रिसॉर्स मेप और टाइम लाइन तैयार करवाया गया। प्रतिभागियों द्वारा ट्रांजिट वाक के माध्यम से ग्राम के बारे में जाना और ग्राम की बसाहट और संसाधनों की जानकारी जुटाई। प्रशिक्षण में सभी प्रतिभागियों को सहभागिता प्रमाण पत्र प्रदान किए गए।

No comments:

Post a Comment