Sawan Mass 2022: सावन के महीने में ना करें ये काम, वरना महादेव का क्रोध पड़ेगा झेलना - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Sunday, July 10, 2022

Sawan Mass 2022: सावन के महीने में ना करें ये काम, वरना महादेव का क्रोध पड़ेगा झेलना



 रेवांचल टाइम्स:Sawan Mass 2022: देवादिदेव महादेव को सावन का महीना बहुत प्रिय है। इस महीने का प्रत्येक दिन महादेव को समर्पित होता है। सावन के महीने में महादेव अपने भक्तों पर अपनी दया का सागर उडेल देते हैं। वहीं महादेव के भक्त भी इस महीने में महादेव को प्रसन्न करने के लिए विधिपूर्वक उनकी पूजा करते हैं, लेकिन वहीं कुछ ऐसे भी कार्य हैं जिन्हें सावन के महीने में भूल से भी नहीं करना चाहिए। वरना आपको महादेव के कोप का भाजन बनना पड़ सकता है और आपके जीवन में परेशानियों का अंबार लग सकता है। तो आइए जानते हैं सावन के महीने में भूलकर भी कौन से कार्य नहीं करने चाहिए।

सावन के महीने में कभी भी देर तक नहीं सोना चाहिए। प्रतिदिन ब्रह्म मुहूर्त में उठकर नित्यक्रियाओं से निवृत्त होकर भगवान भोलेनाथ की पूजा-अर्चना और ध्यान-स्मरण करना चाहिए। जो व्यक्ति सावन के महीने में देर तक सोता है और महादेव की आराधना नहीं करता है, वह व्यक्ति रोगी और निर्धन हो सकता है।

सावन के महीने में भूलकर भी मांसाहार और मदिरा आदि का सेवन ना करें। जीवों की हत्या करने से महादेव के क्रोध का आपको सामना करना पड़ सकता है।

कभी भी दूसरे स्त्री पर नजर ना रखें। अपनी पत्नी को छोड़कर किसी अन्य महिला में आसक्ति आपका बहुत बड़ा नुकसान कर सकती है।

इस महीने में थोड़े से ही प्रयास से महादेव प्रसन्न हो जाते हैं, इसीलिए इस माह किसी भी काम के लिए झूठ और प्रपंच आदि का सहारा ना लें।

चोरी आदि से दूर रहें। क्योंकि चोरी करना हिन्दू सनातन धर्म में बहुत बड़ा पाप माना जाता है। इस महीने में सभी प्रकार के छल-कपट का त्याग करें।

(Disclaimer: इस स्टोरी में दी गई सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं। रेवांचल टाइम्स इनकी पुष्टि नहीं करता है। इन तथ्यों को अमल में लाने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें।)


No comments:

Post a Comment