सिपाही पर हुआ एक्शन, हुआ ये बड़ा खुलासा - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Thursday, July 14, 2022

सिपाही पर हुआ एक्शन, हुआ ये बड़ा खुलासा



देवरिया: उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले के गौरी बाजार थाने में तैनात एक सिपाही फर्जी जन्म प्रमाण-पत्र लगाकर नौकरी कर रहा था. जांच में पुष्टि होने पर आरोपी सिपाही के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज किया गया है. उसने दो अलग-अलग सालों में जन्मतिथि दिखाकर हाईस्कूल की परीक्षा उत्तीर्ण कर धोखाधड़ी की है.

इस मामले में सिविल लाइन पुलिस चौकी प्रभारी ने आरोपी पुलिसकर्मी के विरुद्ध धोखाधड़ी समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया है. एसपी ने तत्काल प्रभाव से आरोपी सिपाही को सस्पेंड कर दिया है.

गौरतलब है की गाजीपुर जिले के मोहम्दाबाद थाना क्षेत्र के आदिलाबाद गांव के रहने वाले अरविंद सिंह कुशवाहा 2018 में पुलिस में सिपाही पद पर भर्ती हुआ. उसने 2011 में इंटर कालेज मोहमदाबाद गाजीपुर से हाईस्कूल की परीक्षा उत्तीर्ण की थी. इसमें जन्मतिथि 2 जून 1997 थी. दोबारा देवर्षि देवल माता रहसी देवी भृगुनाथ उ.मा.पंडित मरदह गाजीपुर से हाईस्कूल पास किया, जिसमें जन्मतिथि 22 जून 1997 अंकित है.

पुलिस विभाग में नियुक्ति में 2012 के हाईस्कूल प्रमाण पत्र लगाया. इसकी शिकायत पुलिस विभाग में किसी ने की थी. एसपी के निर्देश पर एडिशनल एसपी राजेश सोनकर ने पूरे मामले की जांच की तो दो बार हाईस्कूल अलग-अलग जन्मतिथि में करने की पुष्टि हुई. इसके बाद सदर कोतवाली में आरोपी सिपाही के खिलाफ धोखाधड़ी समेत विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया है. यही नहीं आरोपी सिपाही को निलंबित कर दिया गया है. एसपी संकल्प शर्मा ने कहा कि गौरी बाजार थाने में तैनात 2018 बैच का एक कांस्टेबल जिसका नाम अरविंद है, उनके खिलाफ एक कंप्लेंट प्राप्त हुई थी कि उन्होंने फर्जी बर्थ सर्टिफिकेट से यह नौकरी प्राप्त की है, एडिशनल एसपी द्वारा जांच कराई गई, उसमें यह तथ्य सामने आया है, उसके आधार पर डिपार्टमेंटल एंक्वायरी शुरू की गई है, इन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है.

No comments:

Post a Comment