नीम के पेड़ से लटकी हुई मिली तीन बहनों की लाश.... पुलिस ने जताई यह आशंका - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Wednesday, July 27, 2022

नीम के पेड़ से लटकी हुई मिली तीन बहनों की लाश.... पुलिस ने जताई यह आशंका




रेवांचल टाइम्स :मध्य प्रदेश के खंडवा में कॉलेज में पढ़ने वाली 2 छात्राओं सहित तीन बहनों ने घर के बाहर नीम के पेड़ से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. इस घटना से आसपास के इलाके में सनसनी फैल गई. प्रथम दृष्टया आत्महत्या का कारण पता नहीं चल पाया है. घटना का पता उस समय चला जब लड़कियों की मां रात को उठी. उन्हें लड़कियां घर में नहीं मिलीं. लड़कियों की मां के कमरे का दरवाजा बाहर से बंद था. शोर मचाने पर पहुंचे लोगों ने दरवाजा खोला.

पुलिस का क्या कहना है

खंडवा जिले के जावर थाना क्षेत्र के ग्राम कोटापेट फाल्या में जाम सिंह का परिवार रहता है. जाम सिंह की पहले ही मौत हो चुकी है. जावर थाना प्रभारी शिवराम सिंह ने बताया कि श्याम सिंह की 3 लड़कियों ने घर के बाहर नीम के पेड़ से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. इस घटना की जानकारी लगने के बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भिजवाया.

थाना प्रभारी ने बताया कि लड़कियों के नाम सोनू, सावित्री और ललिता है. मृतकों में शामिल दो लड़कियां खंडवा के एसएन कॉलेज में पढ़ाई करती थीं. प्राथमिक जांच के दौरान फिलहाल आत्महत्या का कारण स्पष्ट नहीं हो पाया है. पुलिस के मुताबिक पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत का कारण पता चल पाएगा. प्रथम दृष्टया पूरा मामला आत्महत्या का ही है.

लड़कियों को गायब देख कर चौक गई मां

पुलिस के मुताबिक सोनू, सावित्री और ललिता अलग कमरे में सोती थीं, जबकि उनकी मां हरली बाई अलग कमरे में सोई हुई थीं. जब रात में उनकी मां की नींद खुली तो तीनों लड़की कमरे में नहीं थीं. इसके बाद जब उन्होंने दरवाजा खोलने की कोशिश की तो कुंडी बाहर से लगी हुई थी. हरली बाई ने शोर मचाकर पड़ोसियों को बुलाया. उन्होंने घर से बाहर निकलकर देखा तो घर के सामने स्थित नीम के पेड़ पर तीनों लड़कियां लटकी हुई थीं.

No comments:

Post a Comment