मध्यप्रदेश पावर ट्रांसमिशन कंपनी ने आदिवासी बहुल क्षेत्र बिछिया में ऊर्जीकृत किया 132 के.व्ही. सबस्टेशन - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Thursday, July 21, 2022

मध्यप्रदेश पावर ट्रांसमिशन कंपनी ने आदिवासी बहुल क्षेत्र बिछिया में ऊर्जीकृत किया 132 के.व्ही. सबस्टेशन

 


 

मण्डला 21 जुलाई 2022

          मध्यप्रदेश पावर ट्रांसमिशन कंपनी ने मंडला जिले के आदिवासी बहुल क्षेत्र बिछिया में 15.2 करोड़ की लागत से 132 के.व्ही. सबस्टेशन और 27 करोड़ लागत से 132 केवी मंडला-बिछिया डबल सर्किट डबल स्ट्रिंगिंग लाइन स्थापित कर कुल 42.2 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से मंडला जिले की पारेषण क्षमता को मजबूती प्रदान की है। गत दिवस  132 केव्ही की 44 किलोमीटर लाइन और 50 एम.व्ही.ए. क्षमता के पावर ट्रांसफार्मर के साथ नये 132 के.व्ही. सबस्टेशन बिछिया को ऊर्जीकृत किया गया। इस सबस्टेशन के निर्माण से क्षेत्र के 316 गांवों के करीब 40 हजार विद्युत उपभोक्ताओं को अब उचित वोल्टेज की गुणवत्तापूर्ण विद्युत न्यूनतम व्यवधान के साथ मिल सकेगी।

 

दुर्गम इलाकों एवं घने जंगलों के बीच से निर्मित की गई है लाईन

 

          मध्यप्रदेश पावर ट्रांसमिशन कंपनी के अति उच्चदाब निर्माण संकाय के मुख्य अभियंता इंजी. आर.के. खंडेलवाल ने बताया कि 132 के.व्ही. बिछिया सबस्टेशन के लिये मंडला से 132 के.व्ही. का फीडर लाना बेहद चुनौती पूर्ण था। दुर्गम इलाकों में घने और रिजर्व जंगलों के बीच करीब 44 किलोमीटर की डबल सर्किट लाईन का निर्माण 27 करोड की लागत से किया गया है। करीब 14 हेक्टेयर वन क्षेत्र में लाईन ले जाने के लिये वन विभाग से अनुमति प्राप्त करना पड़ी, इस पूरे निर्माण में 5.256 किलोमीटर का रिजर्व वन क्षेत्र भी शामिल है।

 

50 कि.मी. फीडर अब हो गया 200 मीटर

66 किलोमीटर की लाईन हुई 16 किलोमीटर

 

          इस नये सबस्टेशन के बनने से क्षेत्र के विद्युत उपभोक्ताओं को बहुत लाभ होगा। बिछिया सब स्टेशन से 33 के.व्ही. के फीडरों के माध्यम से बिछिया, घुटास, कुदेला आदि क्षेत्रों को उचित गुणवत्ता की व्यवधान रहित बिजली उपलब्ध रहेगी। पहले बिछिया क्षेत्र में विद्युत आपूर्ति 132 केव्ही सबस्टेशन मंडला से 50 किलोमीटर लंबे 33 केव्ही फीडर के माध्यम से हुआ करती थी। इस सबस्टेशन के बनने से ये फीडर अब मात्र 200 मीटर का हो गया है। इसी तरह पहले घुटास के लिये 66 किलोमीटर लंबा 33 के.व्ही. का फीडर था जो अब घटकर 16 किलोमीटर का रह जायेगा। इसी तरह 33 के.व्ही. कुदेला सबस्टेशन को 146 किलोमीटर लंबे फीडर के माध्यम से सप्लाई मिला करती थी जो अब घटकर 81 किलोमीटर हो गई है। इस फीडर के माध्यम से 203 गांवों के 22640 उपभोक्ताओं को विद्युत सप्लाई की जाती है।

 

मंडला जिले का चौथा अति उच्चदाब सबस्टेशन

 

        132 के.व्ही. सबस्टेशन बिछिया मंडला जिले का चौथा अति उच्चदाब का सबस्टेशन है। इसके पहले मध्यप्रदेश पावर ट्रांसमिशन कंपनी 132 के.व्ही. सबस्टेशन मंडला, 132 के.व्ही. सबस्टेशन मनेरी तथा 132 के.व्ही. सबस्टेशन नैनपुर के माध्यम से मंडला जिले में विद्युत आपूर्ति करती थी। इस नये सबस्टेशन के बनने से मंडला जिले की कुल ट्रांसफारमेशन क्षमता बढ़कर 250 एम.व्ही.ए. की हो गई है।

 

प्रदेश का 407 नंबर का अति उच्चदाब सबस्टेशन

 

       बिछिया मध्यप्रदेश पावर ट्रांसमिशन कंपनी का 407 वें नंबर का अति उच्चदाब सबस्टेशन है। प्रदेश में 132 के.व्ही. के 307, 220 के.व्ही. के 86 तथा 400 के.व्ही. के 14 सबस्टेशन संचालित है।

No comments:

Post a Comment