पति नहीं हजम कर पाया पत्नी की सरकारी नौकरी.....सामने आई हैरान करने वाली वजह - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Tuesday, June 7, 2022

पति नहीं हजम कर पाया पत्नी की सरकारी नौकरी.....सामने आई हैरान करने वाली वजह




रेवांचल टाईम्स:पश्चिम बंगाल में एक पति ने अपनी पत्नी के नौकरी करने से नाराज होकर उसका हाथ काट दिया। आरोपी पति ने ऐसा इसलिये किया क्योंकि उसकी पत्नी की सरकारी अस्पताल में नर्स की नौकरी लग गई थी। उसे डर था कि नौकरी लगने के बाद उसकी पत्नी उसे छोड़ देगी।

जानकारी के अनुसार, रेनू खातून नाम की महिला की सरकारी अस्पताल में नर्स के तौर पर नौकरी लगी थी लेकिन उसके पति मोहम्मद शेख को डर सताने लगा कि अगर उसकी पत्नी ने नौकरी शुरू की तो वह उससे दूर हो जाएगी और किसी और से शादी कर लेगी। मोहम्मद शेख को उसके दोस्त अक्सर कहा करते थे कि उसकी बीवी एक दिन उसे जरुर छोड़कर चली जाएगी। जिसके कारण उसने वारदात को अंजाम देने की सोची।

पीड़िता रेनू खातून ने बताया कि जब उसका नाम सरकारी नौकरी में आया तो उसके पति ने सोच लिया की उसे यह सरकारी नौकरी नहीं करने देगा। क्योंकि उसे लगने लगा कि वह उसे छोड़कर कहीं और जगह चली जाएगी। इस बात को लेकर उसने पति के शक को दूर करने के लिए कई बार समझाया लेकिन वह नहीं माना। शनिवार को 10 बजे खाना खाने के बाद मैं सो गई लेकिन रात में मेरी दो बार आंख खुली तो मैंने देखा कि वह बार-बार वाशरूम जा रहा है। पूछने पर बताया कि उसके पेट में दर्द है। उसके थोड़ी देर में उसने तकिए को मुंह पर रखकर कैंची से हाथ काट डाला। उसके साथ तीन लोग और थे। वह सारे डाक्यूमेंट्स भी लेकर भाग गए। बाद में उसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया।

वहीं, डॉक्टर ने बताया कि मरीज दांया हाथ पूरी तरह से कटा हुआ था। उसकी हालत गंभीर थी और माथे पर भी चोट के निशान थे। उसकी जान बचाने के लिए उसके हाथ को काटना पड़ा। फिलहाल पुलिस ने आरोपी और उसके दोस्तों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। घटना के बाद से ही आरोपी और उसके दोस्त फरार चल रहे हैं।

No comments:

Post a Comment