जिला पंचायत क्षेत्र क्रमांक 5 से पुष्प लता पति चंदन सिंह कालबेले के द्वारा दाखिल किया गया नामांकन पत्र... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Tuesday, June 7, 2022

जिला पंचायत क्षेत्र क्रमांक 5 से पुष्प लता पति चंदन सिंह कालबेले के द्वारा दाखिल किया गया नामांकन पत्र...


रेवांचल टाईम्स - आज बालाघाट जिला पंचायत के क्षेत्र क्रमांक 5 से जिला पंचायत सदस्य हेतु  पुष्प लता चंदन सिंह कालबेले  ने अपना नामांकन फार्म जमा किया, ऐसे तो कालबेले परिवार स्वतंत्रता संग्राम के समय से ही कांग्रेसी र उसहा है लेकिन परिवार के लोगों को कभी भी जनपद या जिला स्तर के किसी भी चुनाव में पार्टी ने आज तक ना समर्थन दिया और ना ही कोई टिकट दिया जिसके चलते, आज कालबेले परिवार के सदस्यों को निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में फॉर्म भरने के लिए विवश होना पड़ा, कालबेले परिवार के लोगों ने कांग्रेस के महात्मा गांधी जी से लेकर आज तक के राष्ट्रीय एवं क्षेत्रीय सभी को हमेशा अपनी सेवाएं प्रदान की उसके बावजूद भी क्षेत्रीय, जिला स्तरीय एवं प्रदेश के किसी भी नेता ने उस परिवार के लोगों को साथ लेकर आगे बढ़ाने की कभी कोशिश भी नहीं की हमेशा संगठन में पद देकर शांत करने का प्रयास किया जिससे आम जनमानस की भावना हमेशा से आहत होती रही है जिसकी वजह रही कि जिला पंचायत सदस्य के लिए क्षेत्र क्रमांक 5 से युवा समाजसेवी तपेश कालबेले की माता जी को आज निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में अपना नामांकन जिला पंचायत सदस्य हेतु करना पड़ा, कहां जाता है कि श्री चंदन सिंह कालबेले पूर्व मंत्री स्वर्गीय लिखीराम कावरे के पारिवारिक सदस्य के रूप में हमेशा कंधे से कंधा मिलाकर कार्य करते थे पार्टी के लिए भी और पूरे परिवार के लिए भी उसके बावजूद भी इस प्रकार की नजरअंदाजी  कहीं ना कहीं कालबेले परिवार को आघात पहुंचाती रही है, लांजी किरनापुर क्षेत्र की जनता के साथ साथ जिले के प्रमुख मुद्दों को हमेशा ही कालबेले परिवार ने पक्ष और विपक्ष दोनों के सामने मजबूती से रखा  है, चाहे कोरोना काल में सिविल अस्पताल लांजी में एक्स-रे एवं सिटी एक्सीडेंट मशीन की मांग हो या किरणापुर चिकित्सालय में कोविड-19 की बनाने की मांग हो या जिले में उद्योगों को लेकर, बेरोजगारी को लेकर, महंगाई को लेकर हमेशा इस परिवार ने जनता के मुद्दों को पक्ष और विपक्ष के सामने मजबूती के साथ प्रस्तुत किया है, किन्हीं किरनापुर के बिच गाडवी नाले का पुल, आलीटोला के मंडवाझरी  डेम, किरनापुर के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय हो, और बहुत ऐसे उदाहरण जो कि इस परिवार द्वारा जनता को लाभ पहुंचाने हेतु प्रयास किये गये है, सामाजिक एवं धार्मिक स्थलो के आम जनता के लिए बिना किसी दबाव या पाबंदी के उपयोग एवं दर्शन करने हेतु प्रयास किया है। जिसकी वजह से आज हजारों श्रद्धालु भक्त लांजी के कोटेश्वर धाम में दर्शन का लाभ ले पाते हैं परिवार ने हमेशा ही सभी जाति धर्म के लोगों को एक साथ एकता के सूत्र में पिरोए रखने हेतु हमेशा ही प्रयास किया है क्षेत्र की जनता भली-भांति जानती है की इस परिवार के साथ कहीं ना कहीं राजनीतिक दृष्टि से नाइंसाफी हुई है। कालबेले परिवार का हमेशा से ही यह मकसद रहा है कि वह आम जनता पर एवं सामाजिक एवं धार्मिक दृष्टि से किसी के साथ भी कहीं भी कोई अन्याय नहीं होना चाहिए। हमेशा लोगों के लिए आम जनमानस के लाभ के लिए यह परिवार संघर्षरत रहा है।

No comments:

Post a Comment