पंचायत चुनाव का बहिष्कार प्रशासन के विरोध में खड़ा हुआ पूरा गांव बोलेगांव, सिरेगाव पंचायत में अब तक किसी प्रत्याशी ने नहीं भरा नामांकन... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Monday, June 6, 2022

पंचायत चुनाव का बहिष्कार प्रशासन के विरोध में खड़ा हुआ पूरा गांव बोलेगांव, सिरेगाव पंचायत में अब तक किसी प्रत्याशी ने नहीं भरा नामांकन...


रेवांचल टाईम्स - लांजी क्षेत्र के ग्राम बोलेगाव मैं बीते दिनों एसपी समीर सौरभ के निर्देशन में लांजी किरनापुर और बालाघाट पुलिस ने अवैध रूप से लोगों के रुपए डबल करने वाले 11 आरोपियों को गिरफ्तार किया था इन 11 आरोपियों में लांजी थाना क्षेत्र से मुख्य आरोपी सोमेंद्र पिता योगेंद्र टकराने हेमराज पिता तुलसीराम आमा डारे वही कृष्णापुर थाना क्षेत्र में अजय पीर के पिता स्वर्गीय बृजलाल छिड़के को गिरफ्तार किया गया था पुलिस के द्वारा गिरफ्तार किए गए आरोपियों को छुड़ाने के लिए लोगों के द्वारा जमकर विरोध प्रदर्शन कर भोले गांव से बालाघाट तक बाइक रैली भी निकाली गई थी लोगों का कहना है कि पुलिस ने बिना किसी शिकायत के आधार पर इन्हें गिरफ्तार किया है इसके अलावा लोगों का यह भी कहना है कि अब तक इन लोगों के द्वारा इसी प्रकार से धोखाधड़ी नहीं की गई है तो पुलिस के द्वारा यह कार्रवाई क्यों की गई है पुलिस की इस कार्रवाई का असर अब कृष 3 पंचायत चुनाव में देखने को मिल रहा है डबल मनी के मामले में गिरफ्तार किए गए सभी 11 आरोपियों में प्रमुख चर्चिच बोलेगा निवासी सोमेंद्र कंकरायने जिनकी प्रसिद्धि किसी राजनेता से कम नहीं है उनकी रिहाई के लिए लोग सोशल मीडिया से लेकर चाय की दुकान तक इसका खुला समर्थन कर रहे हैं इन दिनों क्षेत्र में चुनावी सरगर्मी तेज हो गई है क्षेत्र के हर पंचायत में चुनाव को लेकर तरह-तरह की बातें बन रही है लगभग क्षेत्र की 90% पंचायत से नाम निर्देशन पत्र जमा किए जा चुके हैं वही डबल मनी की नगरी ओ जाने वाले राम बोलेगा में अब तक एक भी उम्मीदवार ने नाम निर्देशन पत्र जमा नहीं किया है पूरे गांव के साथ साथ सिरेगाव मैं भी अब तक एक भी उम्मीदवार ने नाम निर्देशन पत्र जमा नहीं किया है इसके अलावा ग्राम लालसा से जारी सहित पंचायत ऐसी है जिनमें 12 पंच के नामांकन पत्र जमा हुए हैं एवं यह पत्र भी ग्रामीणों के दबाव में अंतिम दिनों में उठा लेने की जानकारी प्राप्त हो रही है एक प्रकार से देखा जाए तो राम के लोग चुनाव का बहिष्कार कर रहे हैं लोगों का अप्रत्यक्ष रूप से कहना है कि पुलिस प्रशासन के द्वारा सोमेंद्र कंकरायने एवं हेमराज आमा डारे को गिरफ्तार करके बहुत ही गलत कार्रवाई की गई है जिसके विरोध में ड्रामा से चुनाव का विरोध कर रहे हैं।

No comments:

Post a Comment