सात साल पहले मुलाकात, चार साल तक कसमे-वादे, पर फेरों के बाद दुल्हन ने मांग लिया तलाक, जानें क्यों? - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Saturday, May 14, 2022

सात साल पहले मुलाकात, चार साल तक कसमे-वादे, पर फेरों के बाद दुल्हन ने मांग लिया तलाक, जानें क्यों?



चार साल तक प्रेम संबंध था। परिवार से लड़-झगड़कर उसने अपने प्रेमी से शादी भी की। यहां तक तो सबकुछ बहुत अच्छा चल रहा था। पर यही से कहानी में ट्वीस्ट आता है। सुहागरात से ठीक पहले दुल्हन अपने प्रेमी और पति से तलाक की मांग कर देती है। सुनने में यह कहानी आपको बहुत अजीब लग रही होगी। बिल्कुल यह मामला है ही अजीब। उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जिले में प्रेम विवाह करने के बाद सुहागरात पर दुल्हन ने अपने पति से तलाक की मांग कर दी। हालांकि परिजनों ने उसे काफी समझाया, लेकिन वह अपनी जिद पर अड़ी रही। फिलहाल दुल्हन ने अपने पति से तलाक ले लिया है।


जानकारी के अनुसार, एक युवती का अपनी बहन के देवर से चार साल प्यार चला। उसने परिवार के विरोध में जाकर प्रेमी से शादी की, लेकिन शादी के अगले ही दिन उसने पति के साथ रहने से इनकार दिया। उसने पति से तलाक मांग लिया। दोनों परिवारों ने युवती को मनाने का प्रयास किया, लेकिन वह नहीं मानी। दरअसल, सोनीपत निवासी इंजीनियर के भाई की मुरादाबाद में ससुराल है। इंजीनियर का भी मुरादाबाद आना-जाना लगा रहता था।

करीब सात साल पहले इंजीनियर के अपनी भाभी की छोटी बहन से संबंध हो गए थे। इसके बाद युवती भी कई बार सोनीपत गई। युवती ने अपने परिवार से साफ साफ कह दिया गया कि वह बहन के देवर से ही शादी करेगी। परिवार इस शादी के लिए तैयार नहीं था। बावजूद इसके युवती प्रेमी से शादी के लिए अड़ गई। बेटी की जिद के आगे परिवार ने हार मान ली और इंजीनियर के साथ युवती की शादी कर दी। फेरे की रस्में पूरी होने के बाद युवती ने उसने साथ रहने से साफ इनकार दिया।

उसने कहा है कि वह अपने मायके जाना चाहती है। युवती मायके आ गई। इसके बाद वह कभी नहीं गई। युवती पर दोनों परिवारों ने ससुराल जाने के लिए दबाव बनाया तो उसने एसएसपी कार्यालय में प्रार्थना पत्र दे दिया। उसने आत्महत्या करने की धमकी दी।

युवती के प्रार्थना पत्र को नारी उत्थान केंद्र में भेज दिया गया। यहां कई काउंसलिंग में उसे मनाने का प्रयास किया गया, लेकिन युवती पति के साथ रहने को तैयार नहीं हुई। काउंसलर ऋतु नारंग ने बताया कि पति पत्नी के बीच आपसी सहमति से समझौता हो गया है, अब दोनों अलग अलग रहेंगे।

No comments:

Post a Comment