हम शूरवीरों के वंशज हमें कोई डरा नहीं सकता, भाजपा राज में हो रही आदिवासियों की हत्याओं और आदि उत्सव के विरोध में कांग्रेस ने किया प्रदर्शन... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Saturday, May 7, 2022

हम शूरवीरों के वंशज हमें कोई डरा नहीं सकता, भाजपा राज में हो रही आदिवासियों की हत्याओं और आदि उत्सव के विरोध में कांग्रेस ने किया प्रदर्शन...

 



रेवांचल टाईम्स - प्रदेश में लगातार हो रही आदिवासी नागरिकों की हत्याओं और आदिवासियों पर हो रहे अत्याचार व शोषण के विरोध में कांग्रेस पार्टी ने आक्रामक होकर प्रदेश सरकार के विरोध में विरोध प्रदर्शन का मोर्चा खोल दिया है। 5 मई को कांग्रेस विधायक नारायण सिंह पट्टा निवास विधायक डॉ अशोक मर्सकोले व कांग्रेस जिलाध्यक्ष एड राकेश तिवारी ने जिला कांग्रेस कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस करके प्रदेश की भाजपा सरकार को घेरने की शुरुआत की थी। उसी क्रम में 7 मई शनिवार को घुघरी मुख्यालय में बिछिया विधायक नारायण सिंह पट्टा व जिला कांग्रेस अध्यक्ष एड राकेश तिवारी के नेतृत्व में एक बड़ा विरोध प्रदर्शन किया गया। सैकड़ों की संख्या में उपस्थित आदिवासी नागरिकों ने भाजपा सरकार की आदिवासी उत्पीड़न वाली कार्यशैली का विरोध किया। 

आदिवासियों की हत्याओं पर शोक की जगह उत्सव मना रही भाजपा

विरोध प्रदर्शन में उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए जिला कांग्रेस अध्यक्ष एड राकेश तिवारी ने कहा कि भाजपा इंसान को इंसान नहीं समझती, लोगों की जान की इनके लिए कोई कीमत नहीं। प्रदेश में आदिवासी नागरिकों का उत्पीड़न चरम पर पहुंच गया है। आदिवासी नागरिकों को डराने के लिए उनके साथ हिंसा शोषण अत्याचार की घटनाओं को संरक्षण देकर बढ़ावा दिया जा रहा है। चाहे वो नेमावर की घटना हो, चाहे खरगौन की घटना हो या हमारे पड़ोसी जिले सिवनी के कुरई सिमरिया की घटना हो, जिस तरह से एक षड्यंत्र के साथ आदिवासियों की हत्याओं को अंजाम दिया गया है उससे लगता है कि भाजपा की सरकार ने प्रदेश में आदिवासियों की हत्याओं की खुली छूट दे दी है। सिवनी के कुरई में बजरंग दल और अन्य हिन्दू संगठनों ने जिस तरीक़े से दो आदिवासी नागरिकों की हत्या की है उसपर सरकार को शोक और संवेदना प्रकट करनी थी लेकिन उसकी बजाय भाजपा रामनगर में आदि उत्सव मनाकर खुशियां मना रही है। लगता है। कितनी शर्मनाक है ये बात कि किसी की मौत पर नाच गाना किया जाए। ये भाजपा ही कर सकती है लेकिन अब बहुत हो गया अब हमारे आदिवासी नागरिक इनके चाल चरित्र को समझ चुके हैं। अब भाजपा की खटिया खड़ी और बिस्तर गोल होने वाला है। कांग्रेस पार्टी ने आदिवासी समाज के विकास और अस्तित्व की लड़ाई हमेशा से लड़ी है। इस बार भी हम आदिवासी समाज की रक्षा के लिए खड़े हैं सीना तान के सरकार से लड़ाई लड़ेंगे। निवास विधायक डॉक्टर अशोक मर्सकोले ने कहा कि भाजपा का आदिवासी विरोधी चेहरा आज सबके सामने है। आदिवासी समाज के हमारे लोगों को षड्यंत्र पूर्वक फसाना और मारना भाजपा राज का मुख्य काम बन गया है। हमने सिवनी जाकर पीड़ित परिवारों से मुलाकात की और उनकी पीड़ा को समझा लेकिन आदिवासियों के नाम से मंत्री और सांसद का पद पाने वाले सांसद आज अपने समाज के लोगों के ही साथ खड़े नहीं है, आरोपियों को बचाने के लिए खड़े हैं। अब कांग्रेस पार्टी हर लड़ाई लड़ने के लिए तैयार है।आदिवासी कांग्रेस के प्रदेश महासचिव कमल सिंह मरावी ने कहा कि भाजपा हम आदिवासियों को कमजोर न समझे क्योंकि जब जब हम आदिवासी अपने पर आये हैं तो बड़े बड़े तानाशाहों को हमने धूल चटा दी है। भाजपा संरक्षित ये जो कुछ तथाकथित लूटमार वाले संगठन हैं ये समझ जाएं वरना जब हम आदिवासी समझाने में आएंगे तो जंगल मे भी जगह नहीं मिलेगी। भाजपा सरकार आदिवासी विरोधी है ये सिर्फ कहा नहीं जाता बल्कि भाजपा के कर्म ऐसे हैं कि आदिवासी कभी इन्हें अपना नहीं मान सकता। ये आरक्षण खत्म करने की बात करते हैं ये आदिवासियों को खत्म करने की बात करते हैं पर शायद ये भूल गए हैं ये जो ऐसा सोचते हैं इनका वजूद भी हमसे ही है। हमें खत्म करने की बात तो भूल जाओ बस अब अपनी सोचो कि तुम्हारा क्या होगा। इस दौरान गुलाब उइके, जोश सिंह ठाकुर, छबि कछवाहा, मुकेश कछवाहा, नेतराम साहू, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष प्रदीप गोस्वामी, रानू हरदहा, रामभजन पटेल, हरि कुलेश, इकबाल खान, विकास साहू सहित अन्य वक्ताओं ने भी अपने संबोधन दिए और भाजपा सरकार की आदिवासी विरोधी मानसिकता और कार्यों की पोल खोलते हुए मुखरता से विरोध किया।

युवक कांग्रेस ने किया पुतला दहन

इस विरोध प्रदर्शन में युवक कांग्रेस विधानसभा बिछिया के अध्यक्ष विकास साहू के नेतृत्व में युवाओं ने सिवनी की घटना के विरोध में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रभारी मंत्री बिसाहुलाल सिंह व सांसद कुलस्ते का पुतला दहन किया और जोरदार नारेबाजी की। इस दौरान युवक कांग्रेस के बिछिया ब्लॉक अध्यक्ष मयंक जोध, घुघरी अध्यक्ष अनुराग शर्मा, घुटास अध्यक्ष पवन चक्रवर्ती, अंजनियाँ अध्यक्ष विमल हरदहा आकाश पटेल सहित सैकड़ों की संख्या में युवा उपस्थित रहे।

हम शूरवीरों के वंशज हम डरते नहीं लड़ते हैं

        बिछिया विधायक ने कहा कि भाजपा और आरएसएस न तो संविधान को मानते हैं और न ही आदिवासियों के स्वतंत्र अस्तित्व को इसलिए हम आदिवासियों के स्वतंत्र वजूद को ये लोग खत्म करना चाहते हैं। ये चाहते हैं कि हम अपनी प्रकृतिवादी संस्कृति को छोड़कर इनके गुलाम बन जाएं पर शायद ये भूल गए हैं कि हम आदिवासियों ने बड़े बड़े तानाशाहों को तक धूल चटा दी है तो ये भाजपा आरएसएस लगते कहाँ हैं। ये हमारे अस्तित्व को खत्म करने की बात करते हैं लेकिन यदि हम आदिवासी अपनी पे आ गए तो इनके वजूद का क्या होगा ये सोच भी नहीं पाएंगे। जिन्हें यह नहीं मालूम वे हमारे जननायक बिरसा मुंडा, टंट्या मामा, शंकर शाह रघुनाथ शाह और वीरांगना रानी दुर्गावती की वीरगाथाओं का पता लगा लें। आदिवासियों से मत टकराओ वरना मिट जाओगे क्योंकि तुमने लड़ाई अभी सीखी होगी लेकिन हम तो जन्म से ही लड़ाके पैदा होते हैं। सिवनी के कुरई थानांतर्गत सिमरिया गांव में 3 मई की रात में हमारे दो आदिवासी भाइयों की हिन्दू संगठनों के लोगों ने घर से निकालकर पीटकर हत्या कर दी। अपने मृतक आदिवासी भाइयों के परिवार से मिलने मैं खुद उनके घर गया। जो बातें परिवार के लोगों ने बताई हैं उनके मुताबिक ये कोई घटना नहीं बल्कि पहले से प्लानिंग करके षड्यंत्र करके सोचे समझे रूप से की गई हत्या है जिसका उद्देश्य हम आदिवासियों को डराने का है। हत्या के दौरान पुलिस की मौजूदगी की बात सामने आ रही है। यह पूरा षड्यंत्र और हत्याकांड भाजपा सरकार के संरक्षण से घटित हुआ है। इसकी सीबीआई या न्यायिक जांच होना जरूरी है। विधायक ने कहा कि भाजपा सरकार की उल्टी गिनती शुरू हो गई है अब ये अपने दिन गिनना शुरू कर दें। 2018 में भी इन्होंने हम आदिवासियों को छेड़ा था जिसका अंजाम 2018 के चुनाव में इन्होंने देख लिया है अब फिर इन्होंने हमें छेड़ा है अब इस बार इनका क्या होगा ये कल्पना भी नहीं कर पाएंगे। हम आदिवासियों का इतिहास शूरवीरों का इतिहास है जो इससे टकराया है उसका वजूद तक मिट गया है। अपने आदिवासी समाज के हक़ अधिकार की लड़ाई के साथ सबकी रक्षा की जबाबदारी भी हमारी है, और हम अपनी जबाबदारी के साथ मैदान में उतर चुके हैं। इस दौरान जिले के कांग्रेस पदाधिकारियों के साथ कार्यकर्तागण व सैकड़ों की संख्या में जनसमुदाय उपस्थित रहा। कार्यक्रम का संचालन आदिवासी कांग्रेस जिलाध्यक्ष राधेशाह मरावी व आभार प्रदर्शन ब्लॉक कांग्रेस घुघरी अध्यक्ष अरविंद कुशराम ने किया। कार्यक्रम के अंत में सिवनी के सिमरिया गांव में मृत हुए दोनों आदिवासी भाइयों को श्रद्धांजलि अर्पित की गई।

No comments:

Post a Comment