मुख्यमंत्री के कड़े तेवर सुबह एक्शन बैठक मे दिए सिवनी कलेक्टर को निर्देश... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Friday, May 20, 2022

मुख्यमंत्री के कड़े तेवर सुबह एक्शन बैठक मे दिए सिवनी कलेक्टर को निर्देश...




रेवांचल टाईम्स - वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से की माफियाओं और अन्य मामलों पर कार्रवाई की चर्चा मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान गुरुवार की सुबह  एक्शन बैठक मोड पर दिखे। उन्होंने सुबह 6.30 बजे से महत्वपूर्ण बैठक ली.. वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सिवनी और नीमच जिला प्रशासन को तलब करते हुये। सिवनी और नीमच जिले के विभिन्न मुद्दों पर कलेक्टर-एसपी से उन्होंने चर्चा करते हुये कई विशेष मुद्दों पर कड़े तेवर दिखाते हुए कार्रवाई के निर्देश दिए वही पेयजल, प्रधानमंत्री आवास योजना समेत माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई और जनकल्याण कारी योजनाओं की जानकारी लेकर महत्वपूर्ण निर्देश दिए हैं। वही अफसरों को लॉ एंड ऑर्डर पर भी महत्वपूर्ण दिशा निर्देश दिए।


बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के कड़े तेवर दिखे, उन्होंने अफसरों को कड़े निर्देश दिए। माफिया और लव जिहाद के खिलाफ सीएम ने सख्त तेवर दिखाए। कहा-कुछ माफिया हैं, जो भोले-भाले लोगों को आगे कर देते हैं, हमें इनकी पहचान करना है। ग्रामीण क्षेत्रों में लव जिहाद वगैरह पर नज़र रखें, ये सब अब नहीं चलेगा। हमें जनजातीय समुदाय में विकास के माध्यम से विश्वास पैदा करना है, ये हमारे भाई बहन हैl


मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेश में सुशासन का राज लाना चाहते इसलिए प्रदेश में माफियाओं के खिलाफ सख्त तेवर अपनाते हुए कार्यवाही कर आना चाहते परंतु प्रशासनिक अधिकारियों की लापरवाही की वजह से मध्यप्रदेश शासन की योजनाओं का लाभ निचले स्तर तक नहीं पहुंच पाता साथ ही माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई करने से प्रशासनिक अधिकारियों की नाकामियों की वजह से मुख्यमंत्री भी चिंतित है लेकिन जिले में बैठे प्रशासनिक अधिकारी मुख्यमंत्री की मंशा को गंभीरता से नहीं लेते और यही कारण है कि माफियाओं का ग्राफ धीरे-धीरे घटने के बजाय बढ़ता जा रहा है प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेश में सुशासन लाने की चाह से अकसर कड़े तेवर अपनाते हैं ताकि उनकी मंशा पर प्रशासनिक अधिकारी कार्य कर सकें परंतु निचले स्तर पर स्थानीय प्रशासन और प्रशासनिक अधिकारियों की लापरवाही की वजह से लोग परेशान हो रहे हैं और मुख्यमंत्री को सुबह अति आवश्यक बैठक रखनी पड़ रही है l

रेवांचल टाइम्स अखबार के द्वारा सिवनी जिले के कई क्षेत्रों में अवैध कब्जों को लेकर कई बार खबरें प्रकाशित की गई और प्रशासन का ध्यान उस ओर आकर्षित भी किया गया परंतु कार्रवाई होना तो दूर आज प्रशासनिक अधिकारियों के द्वारा किसी प्रकार की कोई कार्रवाई नहीं की गई सिवनी जिले के लखनादौन तहसील के धूमा ग्राम में शासकीय भूमि पर भू माफियाओं के कब्जे को लेकर सामाजिक कार्यकर्ता श्रीमती नेहा श्रीवास्तव के द्वारा भूख हड़ताल तक में बैठ गया परंतु प्रशासनिक अधिकारियों के द्वारा आश्वासन के सहारे हड़ताल समाप्त करा दी गई परंतु जांच के नाम पर केवल कागजी दस्तावेज तैयार किए जा रहे हैं कार्यवाही का अता पता नहीं है उक्त मामले को लेकर मुख्यमंत्री कार्यालय भोपाल से भी सिवनी कलेक्टर को भू माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए पत्र जारी किया गया परंतु मुख्यमंत्री कार्यालय के पत्र को भी गंभीरता से नहीं लेते हुए किसी प्रकार की कोई भी कार्यवाही भू माफिया के खिलाफ नहीं की जा रही है वहीं गुरुवार की सुबह मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के द्वारा स्वयं जिला कलेक्टर सिवनी को लव जिहाद और माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए कड़े तेवर दिखाए हैं अब इसके बावजूद यदि जिला कलेक्टर भू माफियाओं पर कार्रवाई नहीं करते हैं तो आप सहज ही अंदाजा लगा सकते हैं कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मंशा पर सिवनी जिला प्रशासन  की क्या मंशा है।

No comments:

Post a Comment