महंगाई का जोरदार झटका : अब घरेलू सिलेंडर के भी दाम बढ़े, 50 रूपए की वृद्धि डालेगी बजट पर असर - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Saturday, May 7, 2022

महंगाई का जोरदार झटका : अब घरेलू सिलेंडर के भी दाम बढ़े, 50 रूपए की वृद्धि डालेगी बजट पर असर

  



रेवांचल टाईम्स:महंगाई से परेशान आम आदमी के लिए शनिवार की सुबह एक और झटका लेकर आई है। शनिवार को घरेलू गैस सिलेंडर के दामों में भी वृद्धि की गई है। घरेलू 14.2 किलोग्राम के एलपीजी सिलेंडर की कीमतों में 50 रुपये प्रति सिलेंडर की बढ़ोतरी की गई है। यह वृद्धि शनिवार यानी 7 मई 2022 से लागू होगी। गैस सिलेंडर के दामों में हुई यह वृद्धि कहीं ना कहीं आम आदमी के बजट पर असर डालेगी। राजधानी दिल्ली में 14.2 किलो के डॉमेस्टिक एलपीजी सिलेंडर की कीमत 999.50 रुपये प्रति सिलेंडर हो गई है। पिछली बार 22 मार्च को घरेलू एलपीजी के दाम 50 रुपये बढ़े थे। अप्रैल में कीमतों में कोई बढ़ोतरी नहीं की गई थी।



एक सप्ताह पहले यानी 1 मई को सरकारी तेल कंपनियों ने कमर्शियल एलपीजी सिलेंडर के भी बढ़ा दिए थे। तब प्रति सिलेंडर 102.50 रुपए कीमत बढ़ाई गई थी। वहीं, 1 अप्रैल को 19 किलो के कमर्शियल एलपीजी के दाम में 250 रुपये का इजाफा किया गया था। नई कीमत लागू होने के बाद से दिल्ली में 1 मई से 19 किलोग्राम के कमर्शयिल गैस सिलेंडर की कीमत 2253 रुपये से बढ़कर 2355.50 रुपये हो गई।

कमर्शियल सिलेंडर 2300 के पार

कमर्शियल सिलेंडर की कीमत 2300 रुपए प्रति सिलेंडर पार कर गई है। 1 मई को एक कमर्शियल सिलेंडर की कीमत 2355.50 रुपये थी। एक मार्च को 19 किलो वाले कमर्शियल सिलेंडर के रेट 105 रुपये बढ़ाया गया था। फिर 22 मार्च को 9 रुपये सस्ता हुआ। दिल्ली में 1 अक्टूबर को कमर्शियल सिलेंडर का दाम 1736 रुपये था। यानी 7 महीने में 619 रुपए तक सिलेंडर रेट बढ़ा दिए गए हैं।

लगातार बढ़ा दाम

वहीं, अक्टूबर 2021 से एक फरवरी 2022 के बीच कमर्शियल सिलेंडर के दाम 170 रुपये बढ़े हैं। नवंबर 2021 में यह 2000 का हुआ और दिसंबर 2021 में 2101 रुपये का हो गया। इसके बाद जनवरी में यह फिर सस्ता हुआ और फरवरी 2022 को और सस्ता होकर 1907 रुपये पर आ गया। इसके बाद 1 अप्रैल 2022 को यह 2253 रुपये पर पहुंच गया था।

क्रूड ऑयल 110 के पार

इस समय क्रूड ऑयल के दाम भी 110 डॉलर प्रति बैरल को दोबारा पार कर गए हैं। शनिवार सुबह ब्रेंट क्रूड 112 डॉलर प्रति बैरल के आस-पास ट्रेड कर रहा है। रूस-यूक्रेन युद्ध शुरू होने के बाद से क्रूड लगातार 100 डॉलर प्रति बैरल के पार बना हुआ है। इसकी कीमतों में उतार-चढ़ाव जारी है। इस वजह से देश में पेट्रोल-डीजल के दाम भी पिछले दिनों तेजी से बढ़े थे।

No comments:

Post a Comment