Chaitra Navratri 2022: अष्टमी-नवमी के दिन इस मुहूर्त में करेंगे कन्या पूजन तो दूर होंगे सारे कष्ट - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Thursday, April 7, 2022

Chaitra Navratri 2022: अष्टमी-नवमी के दिन इस मुहूर्त में करेंगे कन्या पूजन तो दूर होंगे सारे कष्ट



रेवांचल टाइम्स : चैत्र नवरात्रि में पूरे 9 दिन मां की पूजा की जाती है. हर दिन मां के अलग-अलग स्वरूपों की पूजा होती है. वहीं नवरात्रि में सबसे खास दिन अष्टमी और नवमी को मानते हैं. अष्टमी के दिन महागौरी और नवमी के दिन सिद्धिदात्री की पूजा आराधना की जाती है. वहीं इन दोनों दिन कन्याओं का पूजन भी किया जाता है. कन्या पूजन के बाद ही व्रत को सफल मानते हैं. ऐसे में अष्टमी नवमी के शुभ मुहूर्त के बारे में पता होना जरूरी है. आज का हमारा लेख इसी विषय पर है. आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि अष्टमी और नवमी के शुभ मुहूर्त क्या है. 

अष्टमी-नवमी की तिथि और शुभ मुहूर्त (Ashtami Navami Date & Subh Muhurt)

अष्टमी तिथि (Ashtami Date 2022) – 09 अप्रैल दिन शनिवार
अष्टमी की शुरुआत – 8 अप्रैल को रात 11.05 मिनट
अष्टमी की समापन – 9 अप्रैल रात 1.23 मिनट
कन्या पूजन (Kanya Pujan 2022) का शुभ मुहूर्त – 11.58 मिनट – 12. 48 मिनट
नवमी (Navami Date 2022) के दिन कन्या पूजन की तिथि – 10 अप्रैल की रात 1.23 मिनट से शुरू
नवमी (Navami Date 2022) के दिन कन्या पूजन की समापन तिथि – 11 अप्रैल सुबह 3.15 

इन बातों का रखें ख्याल

  1. अष्टमी या नवमी वाले दिन ब्रह्म मुहूर्त में उठें और स्नानादि करके मां का स्मरण करें.
  2. अब साफ कपड़े पहन कर शुभ मुहूर्त पर पूजा करें.
  3. अष्टमी और नवमी पर दुर्गा मां के नाम का हवन जरूर करना चाहिए वरना पूजा अधूरी मानी जाती है.
  4. ध्यान रहे अष्टमी की रात 12:00 बजे ही व्रत पारण ना करें. नवमी के दिन सुबह पूरे विधि विधान से पूजा करके अपनी व्रत का समापन करें. और कन्याओं को भोजन कराने के बाद ही भोजन करें.

नोट – इस लेख में दी गई जानकारी मान्यताओं और सूचनाओं पर आधारित है.

रेवांचल टाइम्स  इसकी पुष्टि नहीं करता है. अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से संपर्क करें.

No comments:

Post a Comment