कातलबोडी पंचायत का भ्रष्टाचार चरम सीमा पर... चहेतो को फायदा दिलाने के चक्कर में पंचायत ने नहीं निकाली निर्माण कार्यों की निविदा... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Saturday, March 12, 2022

कातलबोडी पंचायत का भ्रष्टाचार चरम सीमा पर... चहेतो को फायदा दिलाने के चक्कर में पंचायत ने नहीं निकाली निर्माण कार्यों की निविदा...

 


रेवांचल टाईम्स–आज जहां एक ओर सरकार भ्रष्टाचार को खत्म करने के अथक प्रयास में लगीं हुईं हैं । वहीं दूसरी ओर भ्रष्टाचार ना खत्म हो रहा है और ना ही रूकने का नाम लें रहा है । जिसके चलते चंद पैसों के लिए अपना इमान बेचने वाले अधिकारी एवं कर्मचारी के द्वारा भ्रष्टाचार को बखूबी अंजाम दिया जा रहा है । जिसके चलते सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है। जिसके चलते पंचायत के सचिव सरपंच जैसे कर्मचारी हो रहे हैं मालामाल और भर रहे हैं अपनी जेब। इसी तर्ज में एक पंचायत का मामला सामने आया है जो जिला सिवनी की पंचायतों में अधिकारियों का कोई दवाब नहीं  नजर आ रहा है जिसके चलते पंचायत के सचिव एवं सरपंच अपने पद का दुरुपयोग कर हो रहे हैं मालामाल वही एक मामला सामने आया है जो कि सिवनी जनपद के अंतर्गत आने वाली ग्राम पंचायत कातलबोडी  का है। जहां वर्तमान सचिव शंकर लाल सनोडिया एवं सरपंच रीना माल्या ( शेरू माल्या ) ने मिलकर जमकर किया हैं भ्रष्टाचार अपने पद का दुरुपयोग करते हुए अपने चहेतों को आपसी फायदा एवं खुद को फायदा दिलाने के चक्कर में नहीं निकाली गई निर्माण कार्यों की निविदाएं सात साल में एक निविदा निकाली एवं मनमाने ढंग से घटिया सामग्रियों का प्रयोग कर किया है । निर्माण कार्य बिना कोटेशन के हो गए पंचायत में निर्माण कार्य । जिम्मेदारों एवं संबंधित अधिकारियों के सुस्त रवैया एवं मिलीभगत के चलते सचिव शंकर लाल सनोडिया एवं सरपंच रीना माल्या शेरू माल्या जैसे लोग बन रहे करोड़ पति। ओर लगा रहे हैं चूना ओर हो रहे हैं मालामाल....?


विनोद दुबे के साथ रेवांचल टाईम्स की रिपोर्ट

No comments:

Post a Comment