अगर आपको भी है फोन को सिरहाने रखकर सोने की आदत तो हो जाएं सावधान, मंडरा रहा है इस गंभीर बीमारी का खतरा - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Tuesday, March 15, 2022

अगर आपको भी है फोन को सिरहाने रखकर सोने की आदत तो हो जाएं सावधान, मंडरा रहा है इस गंभीर बीमारी का खतरा




रेवांचल टाईम्स:मोबाइल फोन आजकल लोगों की जिंदगी का अहम हिस्सा बन चुका है. रात को सोते वक्त भी बहुत से लोग मोबाइल फोन को अपने सिरहाने पर रखकर सोते हैं. यदि आप भी ऐसा करते हैं तो आपको तुरंत ही सावधान होने की जरूरत है. ऐसा करने के दौरान आपको संभलन जाना चाहिए, क्योंकि आपका स्मार्टफोन आपको गंभीर बीमारियां दे रहा है. ब्रिटेन की एक्जिटर यूनिवर्सिटी के एक रिसर्च में इस बात का पता चला है कि स्मार्ट फोन से निकलने वाली विकिरणों से कैंसर और नपुंसकता का खतरा बढ़ता है.

अंतरराष्ट्रीय कैंसर रिसर्च एजेंसी ने स्मार्ट फोन से निकलने वाली इलेक्ट्रो मैग्नेटिक विकिरणों को कार्सिनोजन यानि कैंसरकारी तत्वों की श्रेणी में रखा. ICRA ने चेतावनी दी है कि स्मार्ट फोन का अधिक इस्तेमाल कान और मस्तिष्क में ट्यूमर पनपने की वजह बनता है. आगे चलकर इसके कैंसर का रूप लेने की संभावना बढ़ती है. साल 2014 में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, स्मार्ट फोन से निकलने वाली इलेक्ट्रो मैग्नेटिक विकिरणों का नपुंसकता से सीधा संबंध है.

शोधकर्ताओं ने चेतावनी दी कि पैंट की जेब में स्मार्ट फोन रखने से शुक्राणुओं का उत्पादन घटता है. इसके अलावा अंडाणुओं को निषेचित करने की गति भी धीमी पड़ जाती है. यदि आप फोन को तकिये के नीचे रखकर सोते हैं तो तुरंत ही इस आदत को छोड़ दें. ऐसा करने से आपका स्मार्ट फोन फट सकता है



वहीं, साल 2017 में इजरायल की हाइफा यूनिवर्सिटी के अध्ययन में कहा गया कि सोने से आधे घंटे पहले स्क्रीन का इस्तेमाल बंद कर देना चाहिए. शोधकर्ताओं ने कहा कि स्मार्टफोन, कंप्यूटर तथा टीवी की स्क्रीन से निकलने वाली नीली रोशनी ‘स्लीप हार्मोन’ मेलाटोनिन का उत्पादन बाधित करती है. इससे लोगों को सोने में दिक्कत आने लगती है.

No comments:

Post a Comment