शहपुरा के सीएससी परिसर में डॉक्टर व स्टाफ के लिए आवासीय भवन का घटिया तरीके से किया जा रहा निर्माण .. ...अनुविभागीय अधिकारी ने जांच के बाद कालम तुडवाने के दिये निर्देष - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Sunday, February 6, 2022

शहपुरा के सीएससी परिसर में डॉक्टर व स्टाफ के लिए आवासीय भवन का घटिया तरीके से किया जा रहा निर्माण .. ...अनुविभागीय अधिकारी ने जांच के बाद कालम तुडवाने के दिये निर्देष

 



रेवांचल टाइम्स न्यूज़.. शहपुरा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र परिसर में अस्पताल में पदस्थ डॉक्टर व नर्स स्टाफ के लिए नवीन आवासीय भवन का निर्माण कार्य मध्यप्रदेश ग्रह निर्माण एवं अधोसंरचना विकास मण्डल के द्वारा भवन निर्माण कार्य 4जी ओैर 2एफ नेशनल हेल्थ मिशन के अंतर्गत लगभग पचासी लाख की लागत से किया जा रहा है यहां जबलपुर की निर्माण कंपनी जेपी इंटरप्राइजेज के ठेकेदार के द्वारा निर्माण कार्य कराया जा रहा है । भवन निर्माण में गुणवत्ता हीन तरीके से ठेकेदार के द्वारा कार्य कराया जा रहा है इसकी शिकायत मिलने पर एसडीएम काजल जावला ने मौके पर जाकर देखा तो निर्माण कार्य में गुणवत्ताहीन तरीके से फाउंडेशन का कार्य करवाना पाया गया। वही ठेकेदार के द्वारा अस्पताल के सेपरेट बोर का उपयोग भवन निर्माण के लिए किया जा रहा है जिस पर स्थानीय लोगों ने एसडीएम से शिकायत की थी इस मामले पर एसडीएम ने ठेकेदार के प्रतिनिधि को मौके पर जाकर अवगत कराया था कि इसके लिए सेपरेट मीटर लगाने तथा उसका भुगतान स्वयं ठेकेदार को ही करने के लिए कहा था  इस सबके बाद भी ठेकेदार और जबाबदार विभाग हाउसिंग बोर्ड के अधिकारियो की मिलीभगत और लापरवाही के कारण  गुणवत्ताहीन कार्य को अंजाम दिया जा रहा था जिसके बाद अनुविभागीय अधिकारी राजस्व काजल जावला ने वहां पर बन रहे कालम और फाउंडेशन की जांच करवाने के लिए सैपंल कलेक्ट करवाया मां नर्मदा टेस्टिगं एवं रिसर्च लिबोटरिस जबलपुर में जांच करवाई जिसकी जांच में कालम फेल हो गये है ।

जांच  में कालम फेल कालम तुडवा कर पुनः बनवाने के दिये आदेश:- अनुविभागीय अधिकारी राजस्व काजल जावला आईएएस के द्वारा 25 जनवरी को सामुदायिक स्वास्थ्य क्रेन्द्र शहपुरा के परिसर में निर्माणाधीन आवासीय परिसर का निरीक्षण किया जिसमें भवन निर्माण में घटिया व गुणवत्ताहीन आवासीय परिसर का निर्माण करना पाया गया था मौके पर ही ठेकेदार के द्वारा बनाये गये प्रयोगशाला में पांच ईटो सैंपल टेस्ट करवाया जो मौके पर ही फेल हो गये इसके बाद 31 जनवरी को स्थल पर एनडीटी रिबाउंड हैमर टेस्ट कराया गया जिसमें जी टाईप भवन के कालम पूर्णतया फेल पाये , 30 जनवरी को कास्त किये गये एम20 कालम का एम 12 स्ट्रेथ पाया गया जबकि एफ टाईप भवन के एम 20 कालम का एम 22 स्ट्रेथं पाया गया ,जिससे जाहिर होता है भवन का गुणवत्ताहीन निर्माण हो रहा है जिसके बाद अनुविभागीय अधिकारी राजस्व ने निम्न गुणवत्ता की संरचना को हटवाकर डीपीआर और इस्टीमेट के आधार पर गुणवत्ता युक्त कार्य करवाने केे  लिए अनुविभागीय अधिकारी हाउसिंग बोर्ड डिण्डौरी को निर्देशित किया है साथ ही एक सप्ताह में रिर्पोट पेश करने के लिए आदेशित किया है ।

No comments:

Post a Comment