Covid-19 ने बढ़ाई दहशत! कोरोना की चपेट में डॉक्टर समेत 1000 से ज्यादा हेल्थवर्कर - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Friday, January 7, 2022

Covid-19 ने बढ़ाई दहशत! कोरोना की चपेट में डॉक्टर समेत 1000 से ज्यादा हेल्थवर्कर



नई दिल्ली। भारत में कोरोना केसों ने रिकॉर्ड तोड़ दिया है. पिछले 24 घंटे में कोरोना के 1,16,390 केस सामने आए हैं। यह बुधवार की तुलना में 56.5% ज्यादा हैं. देश में अब तक कोरोना के 3,51,09,286 केस सामने आ चुके हैं। भारत में सबसे ज्यादा केस महाराष्ट्र में 36,265 मिले हैं, जबकि बंगाल में 15,421, दिल्ली में 15,097, तमिलनाडु में 6,983 केस, केरल में 4,649 केस सामने आए हैं. देश में कुल मिले केसों में 66.97% केस इन्हीं 5 राज्यों से मिले हैं।

वहीं सबसे ज्यादा चिंताजनक यह है कि इस बार कोरोना की चपेट में स्वास्थ्य कर्मियों का आंकड़ा भी बढ़ता जा रहा है। देश भर में अबतक तकरीबन एक हजार से ज्यादा डॉक्टर और स्वास्थ्यकर्मी कोरोना की चपेट में हैं। राज्यवार अगर इस आंकड़े पर नजर डालें तो…

बिहार
बिहार में 300 से ज्यादा डॉक्टर (वरिष्ठ और जूनियर डॉक्टर) और स्वास्थ्यकर्मी कोरोना पॉजिटिव हैं. सबसे ज्यादा मामले पटना के NMCH और गया में ANMCH से हैं। इसी बीच बिहार के सभी शिक्षण संस्थान तत्काल प्रभाव से पूरी तरीके से बंद कर दिए गए हैं. 4 जनवरी की बैठक में 9वीं से 12वीं तक की कक्षा 50 फ़ीसदी उपस्थिति के साथ खोलने का निर्देश था. मगर कोरोना वायरस के मामलों में वृद्धि के कारण गुरुवार को तत्काल प्रभाव से सभी शिक्षण संस्थान, स्कूल, कॉलेज, कोचिंग संस्थान इत्यादि बिहार में बंद कर दिए गए हैं।

झारखंड
झारखंड में कोरोना तेजी से फैल रहा है. आलम ये है कि सूबे के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल रिम्स में बुधवार को कोरोना के रिकॉर्ड केस मिले. यहां डॉक्टर औऱ नर्स समेत 179 स्वास्थ्य कर्मियों संक्रमित पाए गए हैं. रिम्स में 1493 लोगों के सैंपलों की जांच गई, इसमें से 245 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. वहीं रिम्स में 179 डॉक्टर्स और मेडिकल स्टाफ की रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

दिल्ली
तीसरी लहर के मद्देनजर, दिल्ली के सरकारी अस्पतालों में 100+ हेल्थकेयर वर्कर्स कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. राजधानी में 24 घंटे के भीतर कोरोना वायरस के 15,097 नए मामले सामने आए हैं. प्रदेश में अब संक्रमण दर 15.34% पर पहुंच गई है. इस जानलेवा वायरस से 6 मौतें भी हुई हैं. वहीं, सक्रिय मामले बढ़कर 31,498 हो गए हैं।

महाराष्ट्र
मुंबई में कोरोना कहर बरपाने लगा है. यहां बीते 3 दिन में कोरोना से 230 डॉक्टर संक्रमित हो चुके हैं. महाराष्ट्र एसोसिएशन ऑफ रेजिडेंट डॉक्टर्स के अध्यक्ष गणेश सोलंके ने बताया कि इन डॉक्टर्स की जांच कराई गई, जिसमें यह संक्रमित मिले हैं।

चंडीगढ़
चंडीगढ़ पीजीआई में कोरोना से पिछले 2 दिन में 146 डॉक्टर और मेडिकल स्टाफ संक्रमित मिले हैं. हालांकि, सभी को हल्के लक्षण हैं और इन्हें क्वारंटीन कर दिया गया है।

पश्चिम बंगाल
पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता और आसपास के क्षेत्रों के विभिन्न मेडिकल कॉलेज अस्पतालों के 400 से अधिक डॉक्टरों और चिकित्सा कर्मचारियों कोरोना जांच रिजल्ट पॉजिटिव आया है. जिनमें कोलकाता मेडिकल कॉलेज, कोलकाता नेशनल मेडिकल कॉलेज और एनआरएस अस्पताल शामिल हैं। ऐसे में कोलकाता में बड़ी संख्या में डॉक्टर संक्रमित हो रहे हैं। कोलकाता के एनआरएस अस्पताल में डॉक्टर, जूनियर डॉक्टर और नर्स मिलाकर अब तक 200 लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं. इसके अलावा कल्याणी कॉलेज ऑफ मेडिकल में 47 डॉक्टर और मेडिकल स्टाफ संक्रमित हैं. सभी होम आइसोलेशन में हैं। उधर, रायगंज मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में मेडिकल स्टाफ के 17 लोग संक्रमित हुए हैं। वहीं कोलकाता के आर जी कर अस्पताल में मेडिकल स्टाफ के 125 लोग संक्रमित हुए हैं।

उत्तर प्रदेश
उत्तर प्रदेश में करीब 75 डॉक्टर व स्वास्थ्यकर्मी कोविड पॉजिटिव पाए गए हैं. जिसमें लखनऊ मेदांता में 56 स्टाफ व एक इमरजेंसी डॉक्टर पॉजिटिव हैं. वहीं लोकबंधु अस्पताल में दो डॉक्टर व फार्मासिस्ट कोरोना पॉजिटिव पाए गए, साथ ही केजीएमयू में 6 डॉक्टर कोविड पॉजिटिव पाए गए हैं। वहीं नोएडा के जिला अस्पताल में स्थित पीजीआई के दो डॉक्टर कोरोना संक्रमित पाए गए हैं. पीजीआई डायरेक्टर ने बताया कि दो दिन पहले डॉक्टरों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. दोनों का अस्पताल में इलाज चल रहा है. संपर्क में आए स्टाफ और लोगों को जांच की जा रही है. अभी तक सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई है।

छत्तीसगढ़
एम्स रायपुर में 33 डॉक्टर कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. वहीं बिलासपुर में 40 डॉक्टर, 35 नर्स और 30 स्टाफ कोरोना की चपेट में हैं. रायगढ़ के लखीराम मेडिकल कॉलेज में तीन डॉक्टर कोरोना पॉजिटिव हैं. राजनगांव के पेंड्री मेडिकल कॉलेज में अब तक 14 डॉक्टर कोविड पॉजिटिव हैं।

राजस्थान
राजस्थान में अब तक 48 डॉक्टर और नर्स कोरोना की चपेट में हैं. वहीं सूबे के सीएम ने भी गुरुवार को ट्वीट कर जानकारी दे दी कि उन्हें भी लक्षण मिले हैं. सीएम ने ट्विटर पर बताया, आज शाम मैंने अपना कोविड टेस्ट करवाया जो पॉजिटिव आया है. मेरे बेहद हल्के लक्षण हैं और कोई अन्य परेशानी नहीं है. मेरे संपर्क में आए सभी लोगों से निवेदन है कि वे स्वयं को आइसोलेट कर लें और अपना कोविड टेस्ट अवश्य करवाएं. इससे पहले बुधवार को ही सीएम गहलोत के पुत्र वैभव गहलोत कोविड पॉजिटिव निकले थे. ऐसे में राजस्थान में भी कोरोना अपनी रफ़्तार पकड़ रहा है।



सुप्रीम कोर्ट में होगी वर्चुअल सुनवाई
इसके अलावा कोविड के लगातार बढ़ते संक्रमण के चलते सुप्रीम कोर्ट में अब सिर्फ वर्चुअल सुनवाई ही होगी। जस्टिस अदालत कक्ष के बजाय अपने आवास से वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से सुनवाई के लिए शामिल होंगे. सिर्फ बहुत जरूरी मामले, नए मामले, जमानत मामले, स्टे से जुड़े मामले, नजरबंदी या बंदी प्रत्यक्षीकरण यानी हेवियस कॉर्पस के मामले और सुनवाई के लिए पहले से निश्चित तारीख के मामलों की सुनवाई 10 जनवरी से की जाएगी. इस संबंध में सुप्रीम कोर्ट ने सर्कुलर जारी किया है।

No comments:

Post a Comment