समर्थन मूल्य पर हो रही धान खरीदी में व्याप्त अव्यवस्था को सुधारने कलेक्टर को लिखा पत्र....... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Wednesday, December 29, 2021

समर्थन मूल्य पर हो रही धान खरीदी में व्याप्त अव्यवस्था को सुधारने कलेक्टर को लिखा पत्र.......




रेवांचल टाईम्स–जिला पंचायत वार्ड नंबर 2 की सदस्य सरिता घनश्याम सनोडिया ने कलेक्टर को पत्र लिखा है कि समर्थन मूल्य पर धान खरीदी चल रही है, परंतु मेरे द्वारा देखा गया एवं भ्रमण के दौरान किसानों ने भी अवगत कराया है कि धान खरीदी केंद्रों में धान को अनायास ही फेल कर दिया जाता है, धान पास हो जाए तो हमाल नहीं और हमाल है तो बोरी नहीं है। इस प्रकार की अव्यवस्थाओं का आलम फैला हुआ है।

        कल ही कारीरात ओपन कैब एवं गोपालगंज के कलबोडी में अव्यवस्थाओं के विरोध में नेशनल हाइवे जाम किया गया। जिस पर पुलिस ने किसानों पर सख्ती बरतते हुए किसानों पर केस दर्ज कर जमीन और मकान बिकवा कर हर्जाना बसूल करने की धमकी दी। मेरा निवेदन है कि केस जरुर दर्ज करवाएं, किसानों पर नहीं बल्कि ऐसी स्थिति उत्पन्न होने के लिए जिम्मेदार वरिष्ठ अधिकारियों पर मुकदमा दर्ज किया जाए,तब स्थिति सुधरेगी। मेरे क्षेत्र के खरीदी केंद्रों में निम्नलिखित समस्या है -

(1)- शीलादेही, चावड़ी और कारीरात केंद्र में अभी तक लक्ष्य से 25 से 30 प्रतिशत खरीदी हुई है जबकि खरीदी चालू हुए एक माह बीत गया अब 15 दिन में 70% खरीदी करने के लिए बारदानो एवं मजदूरों की आवश्यक व्यवस्था की जाए।

(2)- गोपालगंज के कलबोडी वेयरहाउस की क्षमता 30 हजार मैट्रिक टन है और समिति को 64 हजार मैट्रिक टन खरीदी करना है। वेयरहाउस के प्रांगण में जगह की भी कमी है अतः शेष 34 हजार मैट्रिक टन माल की खरीदी गोपालगंज समिति प्रांगण में चालू की जाए।

(3)- मैसेज आने के बाद किसान माल बेचने जाता है और खरीदी केंद्र में अव्यवस्था के चलते उनके खरीदी मैसेज समाप्त हो जाते हैं और माल पोर्टल पर नहीं चढता। इस समस्या का निराकरण किया जाए।

 


रेवांचल टाईम्स के साथ विनोद दुबे की रिपोर्ट

No comments:

Post a Comment