ओमिक्रॉन की भारत में दस्तक, कर्नाटक में दो मामलों का पता चला - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Thursday, December 2, 2021

ओमिक्रॉन की भारत में दस्तक, कर्नाटक में दो मामलों का पता चला



भारतीय आयुर्विज्ञान परिषद (आईसीएमआर) के महानिदेशक बलराम भार्गव ने गुरुवार को यहां कहा कि कर्नाटक में दो व्यक्ति जीनोम सीक्वेंसिंग के बाद ओमिक्रॉन से संक्रमित पाये गये हैं। दोनों मामलों की ट्रैवल हिस्ट्री दक्षिण अफ्रीका की है।

भार्गव ने कहा, "कर्नाटक में स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा स्थापित 37 प्रयोगशालाओं के आईएनएसएसीओजी कंसोर्टियम के जीनोम सीक्वेंसिंग के माध्यम से अब तक ओमिक्रॉन के दो मामलों का पता चला है। हमें घबराने की जरूरत नहीं है, लेकिन जागरूकता जरुरी है।"

उन्होंने कहा कि नए वैरिएंट से पॉजिटिव आने वाले दोनों के संपर्कों की पहचान कर ली गई है और उनकी निगरानी की जा रही है।

लव अग्रवाल ने कहा, सभी ओमिक्रॉन संबंधित मामलों में अब तक हल्के लक्षण पाए गए हैं। देश और विदेश दोनों में ऐसे सभी मामलों में कोई गंभीर लक्षण नहीं देखा गया है। डब्ल्यूएचओ ने कहा है कि वायरस को लेकर अध्ययन किया जा रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव ने कहा कि दुनिया भर के लगभग 29 देशों ने अब तक ओमिक्रॉन के 373 मामले दर्ज किए हैं।

मौजूदा कोविड स्थिति पर एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए, अग्रवाल ने कहा कि दुनिया भर में मामलों में वृद्धि देखी जा रही है। अकेले यूरोप में पिछले एक सप्ताह में 70 प्रतिशत मामले सामने आए हैं।

No comments:

Post a Comment