Health Tips: शक्कर की जगह करते हैं गुड़ का इस्तेमाल तो पहले जान लें ये जरूरी बातें - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Wednesday, September 8, 2021

Health Tips: शक्कर की जगह करते हैं गुड़ का इस्तेमाल तो पहले जान लें ये जरूरी बातें



कई लोग मीठे के रूप में आजकल शक्कर की जगह गुड़ का इस्तेमाल करते हैं. गुड़ का प्रयोग करने से पहले जान लें कुछ जरूरी बातें.

Replacing Sugar With Jaggery: हेल्थ शोज से लेकर यूट्यूब ट्यूटोरियल तक आजकल ज्यादातर लोग मीठे के लिए शक्कर की जगह गुड़ का इस्तेमाल करने की सलाह देते हैं. यह कहा जाता है कि अगर मीठा खाना ही है तो गुड़ के रूप में खाइये. बाजार में आजकल तमाम तरह का गुड़ मिलने भी लगा है, इसमें जैगरी पाउडर भी शामिल है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि गुड़ और शक्कर दोनों में समान कैलोरी होती हैं.


अगर आप इस मुगालते में हैं कि गुड़ खाने से आपके शरीर में कम कैलोरीज पहुंचेंगी तो आप गलत हैं. दोनों ही एक ही प्रोडक्ट से बनते हैं और दोनों की कैलोरी वैल्यू सेम ही होती है.


क्या फर्क है -


गुड़ और शक्कर दोनों ही गन्ने के रस से बनते हैं फिर दोनों में क्या अंतर है. दरअसल गुड़ रस का रिफाइन्ड फॉर्म नहीं है जबकि शक्कर को रिफाइन्ड करके बनाया जाता है. शक्कर को बनाने के लिए गन्ने के रस को कंडेन्स करके क्रिस्टलाइज किया जाता है जबकि गुड़ के लिए गन्ने के रस को खूब उबाला जाता है और फिर जमाया जाता है. इनका शरीर पर भी एक जैसा प्रभाव ही पड़ता है.


गुड़ में क्या है खास -


चूंकि गुड़ रिफाइन्ड नहीं होता इसलिए शक्कर की तुलना में हेल्दी माना जाता है. जबकि शक्कर रिफाइन्ड होती है. इसके साथ ही बनाने के तरीके की वजह से गुड़ में आयरन और कुछ मात्रा में मिनरल और फाइबर्स होते हैं. इसलिए जब आप गुड़ खाते हैं तो ये भी आपके शरीर में जाते हैं जबकि शक्कर खाने से केवल मिठास और उसकी कैलोरी ही शरीर में पहुंचती है.

No comments:

Post a Comment