45 दिन बंद रहेंगी शराब की प्राइवेट दुकानें - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Thursday, September 30, 2021

45 दिन बंद रहेंगी शराब की प्राइवेट दुकानें



नई द‍िल्‍ली. द‍िल्‍ली सरकार (Delhi Government) की ओर से राष्ट्रीय राजधानी में नई आबकारी नीत‍ि (New Excise Policy) लागू की गई है. इस वजह से 1 अक्‍टूबर से शराब की सभी प्राइवेट दुकानों (Private Liquor Shops) को बंद कर द‍िया जाएगा. इस दौरान स‍िर्फ सरकारी शराब की दुकानों को ही खुलने की अनुमति होगी. यानी अगले 45 दिन तक द‍िल्‍ली में शराब की भारी क‍िल्‍लत होने की संभावना है. यही नहीं, इस दौरान शराब की दुकानों पर लंबी कतार लगने और शराब के आउट ऑफ स्‍टॉक होने की स्थिति बन सकती है.दरअसल राष्ट्रीय राजधानी में निजी शराब की दुकानें 1 अक्टूबर से डेढ़ महीने बंद रहेंगी, जोकि कुल शराब दुकानों की करीब 40 फीसदी हैं. दिल्ली सरकार की नई आबकारी नीति के तहत 266 निजी शराब की दुकानों सहित सभी 850 शराब की दुकानें खुली निविदा के जरिए निजी कंपनियों को दे दी गई हैं. वहीं, नए लाइसेंस धारक शहर में शराब की खुदरा बिक्री 17 नवंबर से शुरू करेंगे. हालांकि इस दौरान शराब की खुदरा बिक्री के लिए सरकारी शराब की दुकानें खुली रहेंगी, लेकिन ये सरकारी दुकानें 16 नवंबर को बंद हो जाएंगी.

आबकारी विभाग ने कही ये बात
हालांकि दिल्‍ली में शराब के संभावित सकंट को देखते हुए आबकारी विभाग सर्तक है. इस बारे में आबकारी विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि सरकारी शराब की दुकानों को मांग में इजाफा होने की संभावना के मद्देनजर पर्याप्त भंडारण सुनिश्चित करने को कहा गया है.

शराब माफिया उठा सकते हैं इस मौके का पूरा
दिल्‍ली सरकार ने प्राइवेट दुकानों को 1 अक्‍टूबर से बंद करने का तो फैसला ले ल‍िया है लेक‍िन द‍िल्‍ली की शराब की जरूरत को कैस पूरा क‍िया जाएगा, इसकी कोई तैयारी नहीं की है. ऐसे में माना जा रहा है कि शराब माफिया इस मौके का पूरा फायदा उठा सकते हैं. हालांकि आबकारी विभाग ने सभी होलसेलरों से कहा है कि वे अगले चार महीने का स्टॉक वैसे ही मेंटेन करते रहें, जैसे अभी कर रहे हैं. शराब के स्टॉक में किसी भी तरह की कमी न करें.


नई आबकारी नीत‍ि से दूर होगी ये दिक्‍कत
द‍िल्‍ली में मौजूदा शराब की दुकानों के आवंटन की बात करें तो कुल 272 वॉर्ड में शराब की करीब 850 दुकानें हैं. इनमें से 50 फीसदी दुकनें स‍िर्फ 45 वॉर्ड में ही हैं. इनमें से 79 वॉर्ड तो ऐसे हैं जहां पर एक भी शराब की दुकान नहीं है. वहीं, 45 ऐसे वॉर्ड हैं, जहां एक से दो दुकानें हैं. नई आबकारी नीति 2021- 22 के मुताबिक, दिल्ली के 68 विधानसभा क्षेत्रों में 272 निगम वार्डों को 30 जोन में बांटा गया है. नई दिल्ली नगर पालिका परिषद एर‍िया और दिल्ली छावनी में 29 दुकानें होंगी. जबकि इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर शराब की 10 रिटेल दुकानें होंगी.

No comments:

Post a Comment