किन्नरों का ऐलान- कोरोना से देश की रक्षा के लिए निर्वस्त्र होकर करेंगे अनुष्ठान - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Monday, July 26, 2021

किन्नरों का ऐलान- कोरोना से देश की रक्षा के लिए निर्वस्त्र होकर करेंगे अनुष्ठान



हिसार. हरियाणा के हिसार जिले में अखिल भारतीय मंगलमुखी ( किन्नर ) समाज (All India Mangalmukhi (Kinnar) Society) का वार्षिक सम्मेलन किया जा रहा है. इस सम्मलेन में देशभर के किन्नर शामिल होंगे. प्रतिवर्ष होने वाले इस सम्मेलन में पिछले साल पाकिस्तान से भी किन्नरों ने हिस्सा लिया था, लेकिन इस समय दोनों देशों के सम्बन्ध ख़राब होने के कारण पाकिस्तान के किन्नरों को नहीं बुलाया गया.

सम्मेलन 8 से 10 दिन चलेगा जिसमें कोरोना (Corona Virus) से निजात पाए जाने को लेकर अनुष्ठान किए जाएंगे. पहले दिन यज्ञ होगा, वहीं चाक पूजन के साथ साथ निर्वस्त्र होकर कोरोना से निजात के लिए अनुष्ठान किया जाएगा जिसमें किसी को जाने की अनुमति नहीं होगी. हिसार से पूर्व पार्षद एवं किन्नर समाज की अगवा शोभा नेहरू ने कहा कि प्रधानमंत्री को तुरंत किसानों से बात करके उनकी समस्याओं का समाधान करना चाहिए. नेहरू ने कहा कि मंगलमुखी समाज पूरी तरह से किसानों के साथ हैं.

लाल बहादुर शास्त्री ने जय जवान जय किसान का नारा दिया था. वहीं अब किसान दिल्‍ली के बॉर्डरों पर पड़े हैं. सरकार देशहित व किसानहित के लिए उनकी समस्या सुनकर समाधान करे. उन्होंने कहा कि कोरोना से देश, समाज व शहर के लोगों की रक्षा के लिए मंगलमुखी समाज की तरफ से विशेष अनुष्ठान किया जाएगा. इस अनुष्ठान में किन्नर समाज के लोग पूरी तरह निर्वस्त्र होकर महाकाली की पूजा करेंगी. इसके इलावा शहर में चाक पूजन अनुष्ठान भी किया जाएगा. कोरोना के कारण इस बार हो रहे इस सम्मेलन में सीमित संख्या में ही समाज के लोगों को बुलाया गया है.

No comments:

Post a Comment