हम दिल दे चुके सनम : टूटा सात फेरो का अटूट रिश्ता, पति ने कराई पत्नी की दूसरी शादी - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Wednesday, April 28, 2021

हम दिल दे चुके सनम : टूटा सात फेरो का अटूट रिश्ता, पति ने कराई पत्नी की दूसरी शादी



आप सभी लोगों ने 1999 में आई फिल्म हम दिल दे चुके सनम तो देखी ही होगी. इस फिल्म में अभिनेत्री का पति उसके प्रेमी से मिलाने के लिए बहुत सारे जतन करता है, ऐसे ही कुछ कहानी बिहार से सामने आई है. जहां एक पति अपनी ही पत्नी से इतना प्यार करता है कि उसकी खुशी के लिए अपने प्यार की कुर्बानी तक दे दी है. आइए जानते हैं इनकी पूरी कहानी…




बिहार के खगड़िया में रहने वाली सपना कुमारी की शादी भागलपुर के सुल्तानगंज में रहने वाले उत्तम मंडल से 7 साल पहले हुई थी. शादी के बाद कुछ दिनों तक दोनों एक दूसरे से बेहद प्यार करते थे. इन दोनों के दो बच्चे भी हुए. लेकिन शादी के थोड़े समय बाद ही सपना को किसी युवक से प्यार हो गया और वह प्यार इस कदर हुआ कि वह अपने पति को छोड़ने के लिए तैयार हो गई.लेकिन उसकी इच्छा थी कि उसका पति भी उसकी मर्जी में शामिल हो. पति के आशीर्वाद के ही दूसरा विवाह करवाया जाए.

इस बात का पता जब पति उत्तम को चला तो उसने अपनी पत्नी को काफी समझाने की कोशिश की. लेकिन पत्नी नहीं मानी. उस पर
प्यार का भूत सवार था कि उसके प्रेमी से उसकी शादी करा दी जाए. सपना के ससुराल वालों से लेकर उसके मायके वाले तक उसके विरोध में थे. लेकिन फिर भी सपना नहीं मानी. अपने पति से सपना ने कहा कि वह अपने प्रेमी के साथ जीवन बिताना चाहती है. लेकिन इसमें आपकी मर्जी जरूर होने चाहिए. पत्नी की खुशी को सर्वोपरि रखकर पति उत्तम ने उसको प्रेम विवाह करने की अनुमति दे दी.

ज्ञात हो कि सपना जिस लड़के से प्यार करती थी वह उसके पति का ही रिश्तेदार था. रिश्तेदारी के बहाना बनाकर व उनके घर आया करता था ,यहीं से उनकी प्रेम कहानी को बढ़ावा मिला. उत्तम को कभी यह लगा ही नहीं कि उसकी पत्नी का अफेयर किसी लड़के के साथ हैं. इस बात का पता चलने पर उत्तम ने उस लड़के को भी समझाया था, लेकिन लड़के ने जवाब में कहा कि मैं तो मान जाऊंगा लेकिन अपनी पत्नी से पूछ लो.

पत्नी की खुशी के लिए पति उत्तम ने अपने परिवार को मनाया. इसके साथ ही गांव के दुर्गा मंदिर में सभी परिजनों के उपस्थिति में पत्नी का दूसरा विवाह भी करवा दिया. ससुराल वालों के सामने ही सपना ने अपने प्रेमी के साथ सात फेरे लिए.

No comments:

Post a Comment