क्षैत्र ग्रामीण अंचलों में खुलेआम हो रही अवैध शराब बिक्री, प्रशासन अनजान - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Tuesday, March 16, 2021

क्षैत्र ग्रामीण अंचलों में खुलेआम हो रही अवैध शराब बिक्री, प्रशासन अनजान

 


विदेशी शराब की गाँव गाँव खोली गई है अवैध दुकानें 

रेवांचल टाइम्स - आदिवासी बाहुल्य मण्ड़ला जिले के नैनपुर क्षैत्र के ग्रामीण अंचलों मैं नहीं थम रही है अवैध शराब की बिक्री इधर विभागीय  नुमाईन्दो के द्वारा लगातार देशी विदेशी अवैध शराब पड़ने और दबिश देने की बातें की जा रही है वहीं गाँव गाँव आज भी धड़ल्ले से देश विदेश अवैध शराब अवैध शराब की  बिक्री थमने का नाम नहीं ले रहा है  शराब कोचियों को समाप्त करने खुद शराब ठेकेदार यहाँ पर एक लम्बे अरसे से खुद गाँव गाँव किराना दुकानों,  चाय पान की होटलों एवं सड़क किनारे जगह जगह धड़ल्ले से शराब को  बेच रहा है लेकिन शासन का समुचित ध्यान  आखिर इन अवैध शराब खाने पर ना पड़ना यहाँ पर ऐसे अनेको संदेहो को जन्म दे रहा है जिसकी परिकल्पना महज एक दिव्य स्वप्न के समान होगा । यहाँ पर जो अवैध शराब पकड़ने की कार्य वाही दिखाई देती है यह मात्र औपचारिकता पूर्ण है ।अगर ऐसा ही विभागीय रवैया एवं  प्रयास चलता रहा तो सारी काय॔ वाही  विफल होते नजर आयेगी और   ना ही  अवैध शराब की बिक्री पर रोक लग पायेगी और ना शराब कोचियों पर रोक लगेगी रोजाना नए-नए शराब कोचिये पैदा होते जा रहे है और धड़ल्ले से नगर व आसपास के क्षेत्रों में जगह-जगह अवैध शराब की बिक्री रफ्तार पकड़ी  हुए है। आबकारी व पुलिस विभाग की तरफ से किसी भी प्रकार की कोई भी कार्यवाही नजर नहीं आ रही है क्या शासन सरकारी शराब दुकान के अधिक मुनाफा को देखकर अवैध शराब बेचने से लेकर शराब कोचियों को खुली छूट दे रखी है या फिर आबकारी और पुलिस की सांठगांठ से इस अवैध कारोबार को खुला संरक्षण दे रखा है और नगर ,और गाँव गाँव, यहाँ  के गली, मोहल्ले, होटलों, ढाबो व में खुले आम शराब बेचने का सिलसिला लगातार जारी है।

शासन के नियमों का नही हो रहा पालन

शराब बिक्री को लेकर शासन ने तरह-तरह के नियम व मापदंड सुनिचित कर रखे थे लेकिन सरकारी शराब दुकानों में यह सभी नियमों का पालन नही हो रहा है, जिसका फायदा शराब कोचिये उठा रहे है और जितनी मात्रा में शराब की खरीदी करनी है, उतना एक दिन में बार-बार लाइन लगाकर खरीदा जा रहा है। चाहे हम देशी शराब की बात कहे या इंग्लिश शराब की दोनों शराब की अवैध बिक्री रोजाना हो रही है दुगने कीमत पर हो रही है बिक्री

अवैध शराब बेचने वाले मुनाफा के चक्कर में शराब दुकान से ज्यादा मात्रा में शराब खरीद कर दुगुने कीमत में बेचते है जिससे शराब पीने वालों को सरकारी शराब दुकान के खुलने का इंतजार नही करना पड़ता है और बड़ी आसानी से शराब उपलब्ध हो जाती है। देशी शराब एक पाव 80 से 100 रुपये तक और इंग्लिश शराब 100 से 200 रुपये तक बेचा जाता है।

पूर्व मैं भी जिले की स्वैच्छिक समाज सेवी संस्था जागृति युवा संस्थान मण्ड़ला के वरिष्ठ पदाधिकारियों एवं क्षैत्रीय समाज सेवियो के द्वारा नैनपुर क्षैत्र मैं गाँव गाँव ठेकेदार के द्वारा अवैध रूप से बिकवाई जा रही है देशी विदेशी शराब के अवैध कारोबार के खिलाफ सख्त काय॔ वाही करने के लिए संम्बधित  आबकारी विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों से लेकर मध्यप्रदेश सरकार के मंत्रियों को लिखित मैं प्रमाणित सिकायत प्रेषित करने की जन माँग की गई थी किन्तु यहाँ पर जाँच के नाम पर मात्र औपचारिकता पूर्ण किया गया और अवैध शराब कारोबार बंद होने की बातें की जा रही है  लगातार विरोध के बावजूद  आज भी विभागीय संरक्षण मैं ठेकेदार यहाँ पर गाँव गाँव अवैध शराब कारोबार संचालित किया हुआ है ।जिसे लेकर समूचे क्षैत्र मैं व्यापक आक्रोश दिखाई दे रहा है ।

No comments:

Post a Comment