सीएम शिवराज ने किसानों की दी बड़ी खुशखबरी, फसल खरीदी की तारीख घोषित - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Thursday, March 25, 2021

सीएम शिवराज ने किसानों की दी बड़ी खुशखबरी, फसल खरीदी की तारीख घोषित

 


भोपाल। बेमौसम बारिश से परेशान किसानों के लिए राहत वाली खबर है क्योंकि प्रदेश की शिवराज सरकार ने समर्थन मूल्य पर फसल खरीदी के लिए तारीख का ऐलान कर दिया है। प्रदेश में अब 27 मार्च से गेहूं, चना, मसूर और सरसों की न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदी की जाएगी।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार को कहा कि बारिश के कारण न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदी का काम बाधित हो गया था लेकिन अब 27 मार्च से खरीदी प्रारंभ हो रही है।

इससे पहले चना, मसूर और सरसों की फसलों की खरीदी के लिए 22 मार्च की तारीख तय की गई थी, लेकिन मौसम की स्थिति को देखते हुए फसल खरीदी स्थगित कर दी गई थी।

अब 27 मार्च से प्रदेश के सभी खरीदी केंद्रों पर उपार्जन की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। इस वर्ष खरीदी केंद्रों की संख्या 906 से बढ़ाकर 1085 कर दी गई है। इस बार शिवराज सरकार ने 135 मीट्रिक टन गेहूं खरीदी का लक्ष्य रखा है।

दूसरी तरफ, सीएम चौहान की घोषणा के बाद ओलावृष्टि से फसलों के नुक्सान का सर्वे शुरू हो गया है, जिसकी रिपोर्ट आने के बाद किसानों को मुआवजा दिया जाएगा। हालांकि सर्वे रिपोर्ट के बाद मुआवजा वितरण कब तक होगा यह अभी तय नहीं है।

बता दें कि बीते दिनों कृषि मंत्री कमल पटेल ने किसानों के लिए टोल फ्री नंबर 0755-2558823 जारी किया था, जिस पर वे अपनी शिकायते दर्ज करा सकते हैं।

कृषि विभाग ने फसल खरीदी की प्रक्रिया के दौरान किसानों से कोरोना गाइडलाइन के पालन का अनुरोध भी किया है। विभाग ने कहा है कि उपार्जन केंद्रों पर किसान मास्क पहन कर आएं और सोशल डिस्टेंडिंग का ध्यान रखें।

No comments:

Post a Comment