परिवार से समाज मे बेटियों के सम्मान और उनके संरक्षण जनजागृति क़ि पहल है बेटी महोत्सव - आलोक दुबे - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Sunday, March 14, 2021

परिवार से समाज मे बेटियों के सम्मान और उनके संरक्षण जनजागृति क़ि पहल है बेटी महोत्सव - आलोक दुबे

 




रेवांचल टाईम्स :-  बंदे मातरम बेटी महोत्सव महिला सामजिक संस्थाओ, सामजिक कार्यकर्ता, पत्रकार व नागरिक हुए शामिल)

       गत दिवस सिवनी कि उपनगरी भैरोगंज मे विगत वर्षो क़ि तरह बंदे मातरम बेटी महोत्सव क आयोजन संस्कृति कश्यप के 7 वे जन्मदिन के अवसर पर संपन्न हुआ जिसमे बेटी संरक्षण एवं सम्मान विचार गोष्ठी, महिला संगीत क आयोजन किया गया इस अवसर जिला भाजपा अध्यक्ष आलोक दुबे, बालाजी गुरुकुल के जनक तिवारी, समाज सेवीका अंजू तिवारी,पर्वती डेहेरिया प्राचीन श्री हनुमान घाट. जीर्णोद्धार एवं सौंदर्यकरण समिति महिला संरक्षण सदस्य निर्मला ठाकुर शनिघाम ट्रस्ट सिवनी के महिला प्रकोष्ठ अध्यक्ष रुकमणी सनोडिया, बंजारा समाज क़ि प्रतिनिधि डा. अनीता राठौर,शारदा महिला जागृति मंच क़ि रंजीता ग्वालवंशी,आनंद शर्मा,डा. विकास उके, निर्मलादेवी डिग्री कालेज जाम सिवनी के जीवन सनोडिया,डा एस. के. कुशवाहा,शंकर माखिजा, पत्रकार अनिल दंभादे, गुड्डू श्रीवास, संदीप लहोरीया मुख्य रूप से उपस्थित थे



      इस अवसर पर बेटी महोत्सव के शुभारंभ पर सभी ऩे संस्कृति कश्यप को पुष्पो से अभिनंदन कर उसका मिष्ठान खिलाकर सम्मान और दुलार किया और उसके उज्जवल भविष्य क़ि सभी ऩे शुभकामनाए दी

      बेटी महोत्सव को संबोधित करते हुए मुख रूप से पधारे जिला भाजपा अध्यक्ष आलोक दुबे ऩे कहा क़ि परिवार से समाज मे बेटियों के सम्मान एवं संरक्षण जनजागृति क अनूठा आयोजन है बेटी महोत्सव हमे शासन और प्रशासन क़ि योजनाओ तक सिमित नही रहा है समाज और राष्ट्र क गौरव है ये बेटियां जो आने वाले राष्ट्र नवनिर्माण मे हर क्षेत्र मे अग्रसर हो रही है सबसे फले इन बेटियों को परिवार, समाज मे सम्मान मिलना चाहिए आज इनके उज्जवल भविष्य के लिऐ चाहे केन्द्र हो या राज्य क़ि सरकारे हर प्रकार से अग्रसर है

       सामजिक कार्यकर्ता लक्ष्मी कश्यप छात्र जीवन से हम सभी के साथ मिलकर जो पर्यावरण, जल सरंक्षण, स्वच्छता अभियान, बेटी संरक्षक और नगर सौंदर्यकरण मे लगे रहते थे आज उसका स्वरूप समय के साथ बदल कर अपने नगर जिले मे उनके द्बारा जो भी रचनात्मक कार्य किए जा रहे वो सराहनीय है और प्रेरणा दायक है हमारा पूर्व समय से ही समय समय पर हर स्तर मे जो हो सकता है मदद करते आ रहे है आज बेटी महोत्सव मे आई बेटियों एवं मातृशक्ति को मे अभिनंदन करता हू

          इस अवसर पर बालाजी गुरुकुल के जनक तिवारी ऩे कहा क़ि चाहे शैक्षणिक संस्थाओ और समुदायिक स्तर पर जो बेटियों एवं महिलाओ के सशक्तिकरण क़ि विभिन्न के आयोजन होते है वो आयोजन तक हि सीमित ना हो उनको अमल कर अपने घर-परिवार क़ि बेटियों एवं महिलाओ को सम्मान देकर ही समाज मे सकारत्मक भाव क जन्म होगा आज जो बेटी महोत्सव के मध्यम से सामजिक कार्यकर्ता लक्ष्मी कश्यप अपनी बेटियों के जन्म दिन क़ो एक उत्सव के रूप मे आयोजित विगत 7 वर्षो से करते चले आ रहे है ये वास्तव मे समाज मे बेटियों के लिऐ सम्मान व समाज मे प्रेरणा क कार्य है

     इस अवसर पर सामजिक कार्यकर्ता लक्ष्मी कश्यप, श्याम विश्वकर्मा, राहुल,पूजा कश्यप, संस्कृति, सृष्टि, वेद, आकाश,पवित्र व अन्य नागरिक हुए उपस्थित।

No comments:

Post a Comment