अधूरे पड़े सड़क निर्माण में कार्य मे जिम्मेदार जनप्रतिनिधि ओर न जिला प्रशासन के द्वारा नही दिया जा ध्यान तो करेंगे चका जाम - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Saturday, February 13, 2021

अधूरे पड़े सड़क निर्माण में कार्य मे जिम्मेदार जनप्रतिनिधि ओर न जिला प्रशासन के द्वारा नही दिया जा ध्यान तो करेंगे चका जाम




रेवांचल टाईम्स :- आदिवासी बाहुल्य जिला मंडला के अंतर्गत आने वाले विकास खण्ड बिछिया से लगे महज  चार किलोमीटर दूर ग्राम माँझीपुर में PMGSY विभाग के रोड के किनारे रिटेनिंग वॉल का काम किया जा रहा है लेकिन कार्य को अपूर्ण स्थिति में छोड़ दिया गया है ओर रोड के किनारे रिटेनिंग वॉल ना होने से कई बार बड़ी दुर्घटना हो चुकी है जिसे देखते हुए ग्राम वासियों को आवागमन में अतायधिक दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है जिससे दुर्घटना कि संभावना बनी हुई है जिससे सभी  ग्रामवासी के द्वारा इसकी शिकायते लगभग चार - पांच  वर्षों से लगातार तहसीलदार एसडीएम कलेक्टर के पास में भी कई बार इसकी लिखित शिकायत कि जा चुकी है और शासन के द्वारा मौके पे आके इसका कई बार निरीक्षण किया जा चुका है और कार्य को कराने का आश्वासन भी दिया गया है और इसके साथ साथ ही ये क्षेत्रीय विधायक नारायण सिंह पट्टा का विधान सभा क्षेत्र बिछिया के पोषक ग्राम है जिसकी नियमित रूप से शासन से नाली और रेटेनिग वॉल की मांग की गई थी लेकिन काम शुरू किया गया तो मात्र औपचारिक तौर पर ही बना और कार्य बंद कर दिया गया और इससे ग्राम वासियों को आवागमन में अत्याधिक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है और रोड के किनारे वॉल ना होने के कारण अनेको बार बड़ी दुर्घटना होने कि आशंका है जिसे देखते हुए ग्राम -वासियों के दौरा रुके हुए कार्य को शासन से जल्द से जल्द पूर्ण रूप से कराए जाने कि मांग कि जा रही है और अगर किसी कारण वश कार्य को पूर्ण नहीं करने पर ग्रामीणों के द्वारा आने वाले समय मे चका जाम करने कि बात कही जा रही है। वही ग्रामीणों का कहना है कि आवेदन प्रतिवेदन अनेक बार करने के बाद भी जिला प्रशासन का इस ओर ध्यान नही जा रहा है अब मजबूरी बस लोगों घर से सड़क तक आना पड़ेगा तब जाके स्थनीय जनप्रतिनिधि और जिला प्रशासन होश में आयेगा।

No comments:

Post a Comment