गया चेन्नई ट्रेन की शुरुआत करके जनता की भावनाओं के साथ रेलवे ने किया खिलवाड़ - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Sunday, January 3, 2021

गया चेन्नई ट्रेन की शुरुआत करके जनता की भावनाओं के साथ रेलवे ने किया खिलवाड़



रेवांचल टाईम्स - नैनपुर फिर एक बार रेल्वेविभाग के उच्चाधिकारियों ने अपने स्वार्थ ओर वाह वाही बटोरने को लेकर गया से चेन्नई ओर चेन्नई से गया के लिए वीकली ट्रेन चलाकर आदिवासी अंचल,एवं नैनपुर की जनता के साथ खिलवाड़ किया है,



         जनता उन जवाबदार पद में बैठे सांसद,ओर केंद्रीय मंत्रियों से पूछती है कि एक आम गरीब जनता को इस ट्रेन के चलने से कैसी सुविधा मिल पाएगी,क्या गरीब जनता को इसकी टिकिट मिल पाएगी,क्या उसे गया से चेन्नई ओर चेन्नई से गया कि यात्रा करना है,जो वो बेचारा गरीब उस ट्रेन में बैठकर 10,15, 20,किलोमीटर की दूरी से बाजार करने आ पाएगा, नहीं तो फिर इन जन प्रतिनिधियों को खुश होने कि और श्रेय लेनी की क्या जरुरत,तारीफ़ तो तब थी जब को पहले से चल रही नैनपुर से जबलपुर ओर जबलपुर से नैनपुर के बीच कम से कम एक ट्रेन चलवा दिए होते,सिर्फ जनता के साथ छलावा के अलावा कुछ नहीं किया,इस ट्रेन के चलने से सिर्फ लंबी दूरी के मुसाफिरों को फायदा मिलेगा ओर प्रशासन को वाह वाही,

      जब लंबी दूरी की ट्रेन चलेगी तो क्या कोरोना का समय नहीं रहेगा ,या एक्सप्रेस ट्रेन में कॉरोना चड़ नहीं पाएगा,नैनपुर स्टेशन की अहमियत सिर्फ झंडी हिलाने तक सीमित रह जाएगी ,फिर भी तीन जिलों के सांसद खुश है और चुप्पी साधे हुए हैं,क्योंकि गरीब जनता यात्रा करे ना करे अपनी यात्रा पक्की, ओर लोग फिर भी उनकी मनसा समझने में नाकाम,

      जनता उन तीनों जिले के सांसदों से मांग करती है कि अगर जनता के इतने ही हितेसी हो तो कम से कम सुबह शाम दो फेरे की ट्रेन ही चलवा दो तो आदिवासी अंचल की जनता भी कम पैसों पर सुखद यात्रा कर सके,और स्कूल, कॉलेज,कोचिंग जाने वालों के लिए बच्चे कम पैसों में यात्रा कर सकें।

        गरीब आदिवासी अंचल की जनता की एक ही मांग ट्रेन चलाओ ओर सफ़र करो आसान।

         हमारे नगर एवं जिले के प्रतिनिधियों को इस विषय पर विशेष ध्यान देना चाहिए और रेलवे के आला अधिकारियों से वार्तालाप कर जल्द से जल्द गोंदिया जबलपुर पैसेंजर ट्रेन की शुरुआत करवानी चाहिए जिससे कि जिले एवं आसपास के लोगों को आवागमन करने में आसानी हो सके।

No comments:

Post a Comment