लोकसेवा के 10 साल पूरे होने पर आज लोकसेवा केंद्र मवई मै लोकसेवा सुशासन दिवस मनाया गया - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Monday, January 25, 2021

लोकसेवा के 10 साल पूरे होने पर आज लोकसेवा केंद्र मवई मै लोकसेवा सुशासन दिवस मनाया गया





रेवांचल टाइम्स  मवई -वीडियो कॉन्फ्रंसिंग में सम्पूर्ण प्रदेश में मनाया गया लोकसेवा एवं शुसासन कार्यक्रम भोपाल से शिवराज सिंह चौहान और लोक सेवा प्रबंधन मंत्री डॉ अरविंद सिंह भदोरिया ने डॉ आशीष अग्रवाल द्वारा लिखित पुस्तक "सुशासन" का  मिंटो हॉल में लोकसेवा के 10 वर्ष होने पर आयोजित भव्य कार्यक्रम में विमोचन किया। इस अवसर पर राज्य मंत्री सुरेश धाकड़ और वरिष्ठ पत्रकार धर्मेंद्र पैगवार भी उपस्थित थे डॉ आशीष अग्रवाल ने सुशासन विषय जोकि लोक सेवा प्रबंधन विभाग के अंतर्गत आता है पर पीएचडी की है। वे संघ और भाजपा के संस्थापक स्वर्गीय नारायण प्रसाद गुप्ता नाना  के नाती है। किताब में डॉक्टर हेडगेवार, छत्रपति शिवाजी,पं दीनदयाल उपाध्याय अटल बिहारी वाजपेई  महर्षि अरविंद, आचार्य विनोबा भावे, लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक के सुशासन पर विचार समाहित है। जिसकी शुरुआत प्रदेश के लाडले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के संबोधन से हुआ।जिसमें उन्होंने सुशासन का अर्थ समझाया जहा नागरिकों को आधारकार्ड,मूलनिवासी,स्थाई जाती ओर अन्य प्रमाण पत्र बनवाने के लिए भटकना पड़ता था।वहीं अब लोकसेवा के माध्यम से कम खर्च ओर आसानी से बन जाते है। लोकसेवा सुशासन दिवस मै लोकसेवा केन्द्र मवई में कार्यक्रम के दौरान, अमरजीत सिंह चौहान, इंद्रेश साकट, पुरुषोत्तम साहू, लक्ष्मी कांत पाठक, एवं अन्य ग्रामीणों के साथ प्रशासन की ओर से कार्यपालन अधिकारी रमेश नामदेव जनपद स्टाफ गणमान्य नागरिक ,ओर लोकसेवा के कर्मचारी स्टाफ उपस्थित थे।ओपचारिक रूप से मनाया गया लोकसेवा सुशासन दिवस

 लोकसेवा के सफलता पूर्वक 10 वर्ष पूर्ण होने पर जहा लोकसेवा केन्द्र के माध्यम से प्रदान कि जाने वाली सेवाओं को जन जन तक पहुंचाने के बात कही गई वहीं दूसरी ओर मवई में आयोजित यह कार्यक्रम महज एक ओपचारिक साबित हुई कार्यक्रम में आम जन से ज्यादा जनपद स्टाफ उपस्थित रहा वही आम जन को संबोधित कर रहे मुख्यमंत्री किन्तु आमजन की उपस्थिति नाम मात्र रही  जहा एक तरफ सरकार लोकसेवा एवम् सुशासन के बढ़ते कदम के तहत योजनाओं के प्रचार प्रसार मै लाखो खर्च करती है।वहीं मावई मै लोकसेवा के प्रबंधन द्वारा उक्त कार्यक्रम में कोई विशेष रुचि नहीं ली गई एवं शासन के आदेश एवं मुख्यमंत्री की मंशा को भी हवा में उड़ा दिए कार्यक्रम का प्रसार की कमी के कारण सरी योजनाएं दम तोड रही है



रेवांचल टाइम्स से मंदन चक्रवर्ती मवई की रिपोर्ट

No comments:

Post a Comment