माँ शेरावाली मोतीनाला के दरबार मे जले अनंत कलश नवरात्रि में रही भक्तो की धूम - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Sunday, October 25, 2020

माँ शेरावाली मोतीनाला के दरबार मे जले अनंत कलश नवरात्रि में रही भक्तो की धूम



रेवांचल टाईम्स - इस वर्ष भी नवरात्रि के पावन पर्व पर ग्राम मोतीनाला में माता दरबार मां शेरावाली मां कुवाँर नवरात्रि में अनंत ज्योति कलश जले मां शेरावाली दरबार की महिमा ही बहुत निराली है यहां के प्रसाद से ही सारे दुखों का निवारण होता है और इस स्थान की मान्यता है कि जो रोते हुए आता है हँसता हुआ जाता है हर कस्ट का निवारण बस यहाँ का प्रसाद ही है और बस हर कष्ट का दूर होता है यहाँ की प्रसाद खाने से सभी भक्त जन रोते हुए आते हैं और हंसते हुए जाते हैं यहाँ माईं की बड़ी महिमा है मां शेरावाली माता दरबार मोतीनाला की  आठ दिन पूरी नवरात्रों में बड़ी संख्या में भक्तो का आना होता है पर इस समय पूरे देश मे कोरोना संक्रमित महामारी फैली हुई है फिर भी मंदिर के सभी सदस्यों ने कोरोना को ध्यान में रखते हुए और सभी नियमों का पालन करते हुए दोनों टाइम सुबह शाम आरती, पूजा और रात्रि में लागातार जस का आयोजन हुआ आज कन्या भोजन, भंडारा, भोजन महा प्रसाद वितरण किया गया कन्याओं को चुनरी भेंट करके सभी भक्त जन अपनीं मनोकामना पूर्ण करते हुए आज महा प्रसाद ग्रहण किये बड़ी ही हर्ष उल्लास के साथ नवरात्रि महा पर्व मनाया गया बड़ी संख्या में दूर दूर से भक्त जन आये हुये थे जो हर्ष उल्लासपूर्ण मनाया गया 

           वही माँ शेरावाली दरबार के

पुजारी श्री धरम सिंह सैयाम का कहना हैं कि सभी भक्त जनों की सभी  मनोकामनाएं पूर्ण करती बस आये हुए भक्तो को माँ शेरावाली वाली पर पूर्ण भरोसा होना चाहिए वो कभी भी यहाँ से निराश नही होंगे माता जी के दरबार मे हर प्रकार की गम्भीर बीमारियों का भी ईलाज यहां के प्रसाद से ही होता है और सब ठीक हो जाते हैं सभी भक्त जनों का कष्ट दूर होती हैं यहां लगभग 15 वर्षो से नवरात्रि माता दरबार मे भक्त गण अपनी श्रद्धा भक्ति के साथ बड़ी धूम धाम से मानते हैं।


हरीश बिंझिया की खास खबर 

मोतीनाला, भाईबहन नाला

No comments:

Post a Comment