मण्डला: ऐसा कोई भी गाँव बाकी नहीं जहाँ पर देशी-विदेशी शराब का अवैध कारोबार न हो - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Tuesday, 7 July 2020

मण्डला: ऐसा कोई भी गाँव बाकी नहीं जहाँ पर देशी-विदेशी शराब का अवैध कारोबार न हो

केवल वैध देसी विदेशी शराब दुकानें 3 और अवैध शराब की 300,दुकानें खुलेआम संचालित ग्रामीण अंचलों मैं पैकरो के माध्यम मैं चल रहा यह गोरखधन्धा प्रशासन बने, गांधी जी के तीन बन्दर।
( क्षैत्र मैं ऐसा कोई भी गाँव बाकी नहीं जहाँ पर देशी-विदेशी शराब का अवैध कारोबार न हो ) 

रेवांचल टाइम्स मण्डला-आदिवासी बाहुल्य क्षैत्र नैनपुर के ग्रामीण अंचलों मैं एक लम्बे अर्से से यहाँ पर अवैध शराब माफियाओ का कारोबार बेरोकटोक कारोबार धड़ल्ले संचालित है ।
     सूत्रों की माने तो मण्ड़ला जिले में शराब व्यापार दो ग्रुप है एक है नैनपुर व मोहगाॅव शराब दुकानों का लाइसेंसी एक ही ठेकेदार है जो कि छत्तीसगढ़ निवासी लक्ष्मी जायसवाल है, इनकी ठेके नैनपुर,  चाबी, मोहगाव घुघरी में पूर्ण रूप से सक्रिय है। वही नैनपुर मैं 3 शराब दुकान संचालित है जिसमें मुख्यतः 1अंग्रेजी एवं 2 देशी शराब दुकानें शामिल है। नैनपुर शहर मैं एक अंग्रेजी एवं एक देशी शराब दुकान है इसी प्रकार एक देशी शराब दुकान ग्राम पिण्ड़रई मैं है, परंतु सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार यह कि नैनपुर विकास खण्ड क्षैत्र मैं ऐसा कोई भी गाँव बाकी नहीं है जहाँ पर एजेन्टो एवं पैकरो के माध्यम से अघोषित लगभग 300 से अधिक अवैध देशी -विदेशी शराब दुकानों का संचालन बेधड़क बेरोकटोक धड़ल्ले से किया जा रहा है। यहाँ से लगे महाराजपुर मण्ड़ला के ढाबो एवं राष्ट्रीय उधान कान्हा किसली क्षैत्र मैं संचालित रेस्टारेन्टो,  होटलों मैं सभी ब्रान्ड़ो की शराब आसानी से उपलब्ध हो रही है। और तो और यहाँ पर यह भी जन चर्चा व्यप्त है कि यहाँ की अंग्रेजी शराब दूसरे राज्यों मैं भी भेजी जा रही है। लाइसेंसी शराब ठेकेदार के आदमियो के द्वारा यहाँ के ग्रामीण अंचलों में यह कृत्य एक लम्बे अरसे किया जा रहा है, गाँव गाँव अवैध शराब आसानी से उपलब्ध हो जाने के कारण इस तरफ नौजवान युवा साथियों का रूझान काफी संख्या मैं दिखाई दे रहा है, यहाँ पर आबादी के हिसाब से जैसा बड़ा गाँव है वहां पर एक नहीं तीन चार अघोषित अवैध शराब की दुकानें खोलकर बगैर किसी भय और ड़र के कारोबार को बेखौफ संचालित किया जा रहा है । 
   ग्रामीणों ने यह भी बताया कि गाँवों मैं सस्ती और महँगी दोनों किस्म की शराब धड़ल्ले से ठेकेदार के एजेन्टो के द्वारा बेची जा रही है। वही ग्रामीणों का यह भी कहना है कि जब से गाँवों मैं यह अवैध शराब कारोबार चल रहा है तभी से यहाँ पर आये दिन लड़ाई झगड़े दुर्घटना और अन्य जघन्य अपराधों की संख्या बढ़ी है । इनके खिलाफ जो भी ग्रामीण व समाज सेवी एवं ग्राम पंचायतों के जनप्रतिनिधियों ने सिकवा शिकायत करने की हिम्मत जुटाई है तो उन्हें जान से मारने एवं झूठे मामलो में फंसा देने की खुलेआम धमकी दी जाती है । यहाँ तक कि मीडिया से जुड़े जिम्मेदार पत्रकार को भी अब ये नुमाईन्दे जान से हाथ धोने की अन्य माध्यमों से लगातार धमकी देने से बाज नहीं आ रहे हैं ।
     जिले की स्वैच्छिक समाज सेवी संस्था " जागृति युवा संस्थान " जामगाॅव मण्ड़ला जो कि सामाजिक न्याय एवं नि:शक्त जन कल्याण संचालनालय भोपाल मध्यप्रदेश से विभागीय मान्यता प्राप्त है इनके वरिष्ठ पदाधिकारियों  एवं विषय विशेषज्ञों के द्वारा शासन से प्राप्त निर्देशानुसार ग्रामीण अंचलों मैं जब भी नशा मुक्ति को लेकर वातावरण एवं चेतना निर्माण कार्य क्रमो का आयोजन किया जाता है तो यहाँ पर आये जनसमुदाय एवं प्रबुद्ध नागरिकों,  महिलाओं के द्वारा खुलकर  इस बात की जानकारी देते है कि हमारे गाँवों मैं शहर मैं बैठे शराब ठेकेदार लगातार शराब पहुँचा कर यहाँ पर धड़ल्ले से अवैध शराब की बिक्री करवा रहा है जिसे बन्द करवाना नितांत आवश्यक है । घरों मैं शराब पीने के पश्चात  आये दिन पत्नी,  बच्चों,  बूढ़े माता पिता के साथ झगड़ा होता है,  घरों मैं रखे खाने के अनाज  एवं और भी ऐसी आवश्यक सामग्रियों  को बेच बेच कर शराब कारोबार लगातार सेवन कर असमय मृत्यु की आगोस मैं समा रहे हैं । शराब सेवन के बाद गम्भीर बीमारियों  से जूझना पड़ रहा है । महिलाओं के द्वारा शराब बन्दी को लेकर विरोध भी किया जाता है किन्तु इसका ठेकेदार को कोई फर्क नहीं पड़ता है । ठेकेदार के द्वारा  अवैध शराब गाँव पहुँच सेवा अपनी चौपहिया वाहनों से किया जाता है, इनकी गाड़ी सरपट दौड़ती गाँव मैं खुले ठीहो तक आसानी से पहुँच जाती है । ग्रामीणों ने यह भी बताया है अगर समय रहते शराब ठेकेदार की इस कार्य प्रणाली पर रोक नहीं लगाई गई तो समूचे क्षैत्र मैं अनेक तरह विवाद  एवं जघन्य अपराधों की संख्या दिन प्रति दिन बढ़ते जायेगी । 
  विगत काफी दिनों से रेवांचल टाइम्स के द्वारा नैनपुर जनपद पंचायत क्षैत्र के ग्रामीण अंचलों मैं  बेरोकटोक बेधड़क गाँव गाँव अवैध रूप हो रही शराब बिक्री के खिलाफ मुहिम छेड़ कर जिला कलेक्टर मण्ड़ला, जिला पुलिस अधीक्षक मण्ड़ला  एवं संबंधित विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों सहित मध्यप्रदेश सरकार का समुचित ध्यान इस ओर आकर्षित करवाने का प्रयास जारी है । बहरहाल सामाजिक न्याय एवं नि:शक्त जन कल्याण संचालनालय भोपाल मध्यप्रदेश से विभागीय मान्यता प्राप्त  संस्था ( ngo )के द्वारा विगत दिनों मध्यप्रदेश शासन भोपाल के मुख्य मंत्री माननीय शिवराज सिंह चौहान  , आबकारी  आयुक्त ग्वालियर, भोपाल एवं जिला कलेक्टर मण्ड़ला जिला पुलिस अधीक्षक मण्ड़ला को एक लिखित जन माँग, शिकायत प्रेषित कर यहाँ पर एक लम्बे अरसे से  गाँव गाँव अवैध रूप से संचालित शराब कारोबार को तत्काल बन्द करवाने की माँग अपने पत्र मैं  किये है । अगर समय शीमा के अन्दर यहाँ पर संचालित अवैध शराब कारोबार को पूर्णतः बन्द नहीं किया जाता है इसे लेकर विशाल  जनादोलन  करने की रणनीति बनाई जा रही है । जिला कलेक्टर मण्ड़ला एवं पुलिस अधीक्षक मण्ड़ला से जन माँग की गई है कि इस तरफ  अपना समुचित ध्यान आकर्षित कर निष्पक्ष उच्चस्तरीय कार्य वाही की जाये ।।

No comments:

Post a comment