एनएसयूआई कार्यकर्ता की हत्या मामले में, मण्डला पुलिस का बड़ा खुलासा - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Sunday, June 28, 2020

एनएसयूआई कार्यकर्ता की हत्या मामले में, मण्डला पुलिस का बड़ा खुलासा

   
दिनांक  26 27 के मध्य रात्रि  हुए गोलीकांड  जिसमें  मंडला के एनएसयूआई कार्यकर्ता को  गोली मारकर  हत्या कर दी गई थी जिसके बाद अपराधी फरार हो गए थे  जिसका खुलासा मण्डला पुलिस के द्वारा  किया गया  और अपराधीयो  को गिरफ्तार कर रायपुर से मण्डला लाया गया घटना का विवरण :- दिनांक 27.06.20 को महाराजपुर पुलिस गश्त पार्टी को कंट्रोल रूम मंडला से सूचना मिली कि गुरुद्वारे के पास फायरिंग हुई है जिसमें एक व्यक्ति घायल है तथा उसे अस्पताल लेकर गये हुए हैं । थाना प्रभारी महाराजपुर अपनी टीम के साथ तत्काल मौके पर पहुँचे किन्तु मौके पर घायलों को जिला अस्पताल ले जाने की सूचना पर तुरन्त जिला अस्पताल मण्डला पहुँचे जहाँ पर घटना के चश्मादीद साक्षी दिगंबर उर्फ दिग्गू बैरागी ने घटनाक्रम इस प्रकार बताया कि घटना दिनाँक 26/06/2020 की रात्रि 12.00 के करीब साहिल परोचिया का जन्मदिन मनाने के बाद मटरू ढाबा पौंडी महाराजपुर से मण्डला एक स्कूटी से मैं और नीरज कछवाहा तथा मृतक सोनू परोचिया लौट रहे थे । मृतक सोनू परोचिया स्कूटीके बीच में बैठा था तथा दिग्गू बैरागी स्कूटी चला रहा था । जैसे ही गुरूद्वारे के पास पहुँचे कि पीछे से हैप्पी उर्फ मयूर यादव पिता गणेश यादव उम्र 32 साल निवासी लाल बहादुर शास्त्री वार्ड मंडला व अन्य साथी सफेद रंग की बोलेरो गाड़ी से आये और जान लेवा तरीके से स्कूटी को पीछे से टक्कर मार दी जिसे तीनों लोग सड़क पर गिर गये । तभी हैप्पी यादव बोलेरो से उतरा और पुरानी रंजिश के कारण सोनू परोचिया को सीने में गोली मार कर हत्या कर दी और मौके से अपने साथियों केसाथ फरार हो गया । उसकी रिपोर्ट पर थाना महाराजपुर अपराध क्रमांक 195/2020 धारा 302, 307, 34 भादवि 3(2)(5) एससी/एसटी एक्ट का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया । घटना की खबर लगते ही पूरे मंडला शहर मे सनसनी फैल गई थी ।
प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए आरोपियों की पतासाजी करने हेतु वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा निर्देशित किया गया । प्रकरण विवेचना के दौरान पुलिस अधीक्षक मण्डला को मुखबिर द्वारा सूचना मिली कि घटना का मुख्य आरोपी हैप्पी यादव घटना में प्रयुक्त बोलेरो वाहन को कटरा में परिहार ढाबे के पास अपने साथियों को देकर एक पलसर मोटर सायकिल क्रमाँक- MP51ME-7288 से रायपुर तरफ भागा है । सूचना पर पुलिस अधीक्षक मण्डला द्वारा थाना प्रभारी बिछिया, मोतीनाला को नाकाबंदी करने हेतु निर्देशित किया गया एवं सीमावर्ती छत्तीसगढ़ राज्य की पुलिस को सूचना देकर आरोपी की गिरफ्तारी पर 10,000/- रूपये की ईनाम उदघोषणा जारी की गई । प्रकरण में सायबर सेल रायपुर को सूचना मिली कि मण्डला जिले के सोनू परोचिया के हत्या के आरोपी हैप्पी यादव एवं पीयुष मरावी गुड़ियारी थाना क्षेत्र में किराये के मकान लेने घूम रहे हैं । जिसे रायपुर सायबर सेल द्वारा अभिरक्षा में लेकर मण्डला पुलिस को सूचना दी गई । सूचना पर थाना महारापुर से एक पुलिस टीम रवाना की गई जो थाना गुड़ियारी रायपुर से आरोपी हैप्पी यादव एवं पीयुष मरावी को मोटर सहित मण्डला लाया गया । आरोपी हैप्पी यादव एवं पीयुष मरावी से पूछताछ की गई पूछताछ में इन आरोपियों ने 20 दिन पहले जयसवाल ढ़ाबे में मृतक सोनू के द्वारा हैप्पी यादव की मारपीट करने के कारण बदला लेने के लिए हैप्पी यादव ने अपने साथी विपिन्न मरकाम, आयुष यादव, पीयुष मरावी, रवि यादव के साथ सोनू परोचिया की हत्या करने का प्लान बनाया गया था । उसी प्लान के तहत दिनाँक 26.06.2020 की रात्रि में मौका मिलने पर साथियों के साथ बोलेरो वाहन में जाकर महाराजपुर स्थित गुरुद्वारे के पास मृतक की स्कूटी में टक्कर मार दी। गिरने पर सोनू परोचिया को हैप्पी यादव ने देशी पिस्टल से गोली मारकर हत्या कर दी थी । प्रकरण में मुख्य आरोपी हैप्पी यादव के बताये अनुसार घटना में प्रयुक्त देशी पिस्टल एवं सफेद रंग की बोलेरो क्रं एमपी 20 सीबी 9534 , पल्सर मोटर साईकिल क्रं एमपी 51 एमई 7288 पुलिस द्वारा जप्त कर ली गई है तथा घटना मे शामिल पांचो आरोपियो को मंडला पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया है।

No comments:

Post a Comment