मंडला भाजपा में अध्यक्ष पद पर बैठे हुए पितामह भीष्म का पार्टी में लगातार जारी हैं विरोध को शांत करवा पाएंगे कि नहीं या धृतराष्ट्र की तरह महाभारत का आनंद लेंगे - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

Friday, October 27, 2023

मंडला भाजपा में अध्यक्ष पद पर बैठे हुए पितामह भीष्म का पार्टी में लगातार जारी हैं विरोध को शांत करवा पाएंगे कि नहीं या धृतराष्ट्र की तरह महाभारत का आनंद लेंगे




     रेवांचल टाईम्स - मंडला जिले की तीनों विधानसभा सीटों में प्रत्याशी के नाम की घोषणा हो चुकी है नाम की घोषणा होने के उपरांत सीट की आस में टकटकी लगाए हुए दीगर उम्मीदवारों का विरोध सामने आने लगा है बिछिया विधानसभा में विजय आनंद मरावी के विरोध में नीरज मरकाम व पंडित सिंह धुर्वे अपना विरोध पहले ही प्रकट कर चुके हैं क्योंकि यह दोनों नेताओं की पार्टी में उतनी पकड़ नहीं है जिससे कि उनके विरोध का प्रभाव पार्टी में पड सके पूर्व में भी बिछिया विधानसभा में शिवराज शाह को प्रत्याशी के रूप में भाजपा द्वारा मैदान में उतर गयाथा उस समय भी इन्हीं दोनों नेताओं का विरोध पार्टी में सामने आया था और विरोध का प्रभाव भी कहा जाए कि भाजपा को पराजय का सामना करना पड़ा अब मंडला विधानसभा की बात की जावे तो यहां पर भाजपा द्वारा संपत्तियां उईके को प्रत्याशी बनाया गया है जैसे ही ईनके नाम की घोषणा हुई पार्टी के प्रबल दावेदार के रूप में शिवराज शाह ईनके विरोध में सामने आ गए और शिवराज साह ने पार्टी कार्यालय को प्रणाम करते हुए अपना इस्तीफा भाजपा अध्यक्ष भीष्म द्विवेदी को सोपा शिवराज शाह मंडला जिले के एक कर्मठ और अकर्मक नेता के रूप में जाने जाते हैं इनका रूठना पार्टी के लिए घातक हो सकता है किसी भी आंदोलन के लिए शिवराज शाह की भूमिका प्रभावशाली होती है मंडला जिले में झूला पुल की सौगात भी शिवराज शाह के कारण ही उपलब्ध हो पाई इनके द्वारा यदि निर्दलीय चुनाव लड़ा जाता है तो निश्चित रूप से भाजपा को नुकसान का सामना करना पड़ सकता है मगर अभी नामांकन वापसी का पर्याप्त समय है ऐसे में हो सकता है कि पितामय भीष्म के रूप में भीष्म द्विवेदी कोई रास्ता निकाल कर शिवराज शाह को मना सकते हैं देखना यह है कि क्या शिवराज मानते हैं या विधानसभा रूपी महाभारत की जंग में पूरे दमखम के साथ चुनावी मैदान में उतरेंगे।

No comments:

Post a Comment