प्रधानमंत्री आवास योजना बनी भ्रष्टाचार करने की योजना जिम्मेदारो ने मचाई लूट पोटल बना मज़ाक,रोजगार सहायक ने हितग्राही के पैसे लूट कर भागा, बना मामला... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Friday, December 30, 2022

प्रधानमंत्री आवास योजना बनी भ्रष्टाचार करने की योजना जिम्मेदारो ने मचाई लूट पोटल बना मज़ाक,रोजगार सहायक ने हितग्राही के पैसे लूट कर भागा, बना मामला...







रेवांचल टाईम्स - देश के कोने कोने को गरीब अब आवास हीन न रह सके जिसके लिए सरकार रोटी, कपड़ा और मकान से जीवन जीने की मूलभूत आवश्यकताऐं दे रही हैं और उन गरीबो को उनका हक मिल सके वो हर यथा सँभव प्रयास कर रही हैं जिसे पूरा करने के लिये सभी सरकारें प्रतिबद्ध होती है जिसको लेकर केंद्र में जो भी सरकारें रही हैं प्रमुखता से रोटी, कपड़ा और मकाल के कान्सेप्ट को अपनाती हैं। देश के हर गरीब को पक्की छत नव हो जिसके लिये सरकारों द्वारा विभिन्न योजनाएं संचालित हो रही हैं तत्कालीन प्रधानमंत्री स्व श्रीमति इंदिरागांधी ने अपने ही नाम से इंदिरा आवास योजना का अपने कार्यकाल के समय शुभारंभ किया था जिससे गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वाले हर गरीब को आवास की सुविधा प्रदान की गई थी। जैसे जैसे समय गुजरता गया सरकारे बदली वैसे-वैसे आवासों के नामों में भी परिवर्तन होते गये अब इंदिरा आवास की जगह प्रधानमंत्री आवास योजना किया गया है। वतर्मान में हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपनी सोच व गरीबों के हितों को देखते हुए ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों प्रधान मंत्री आवास योजना लागू की जिसमें मापदंडों को निर्धारित किया गया है साथ ही साथ गुणवत्ता व पारदर्शिता का भी ध्यान रखा जा रहा है। पर आवंटित -प्रधानमंत्री आवास सभी पात्र हितग्राहियों को मिल सके व उनका पक्के मकान का सपना पूरा हो सके जिसके लिये केंद्र व राज्य सरकार हमेशा मॉनिटरिंग बनाये रखते हैं इसके बावजूद भी गरीबों के हक का निवाला भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ रहे हैं जहाँ पर गरीब हितग्राहियों के आवास सूची में नाम तो आ गये हैं इसके बावजूद इनके आवास कागजो में सिमटकर रह गये हैं।

    वही जानकारी के अनुसार सिवनी जिले के जनपद पंचायत केवलारी की ग्राम पंचायत पुंगार में सरपंच सचिव रोजगार सहायक और उपयंत्री की मिली भगत से ग़रीबो को मिलने वाली वाली योजनाओं में डाका डाला जा रहा है। वही जनपद केवलारी की मुख्य कार्यपालन अधिकारी के ऊपर पहले से ही ग़बन और भ्रष्टाचार की जांच चल रही है। 

        वही केवलारी जनपद में ऐसा मामला प्रकाश में आया है जहाँ पर रोजगार सहायक जमील खान ने खुल के मनमानी और योजनाओं में भ्रष्टाचार कर रहा है जिसकी अनेक बार शिकायत हुई पर पेसो के दम पर बचता आया है। वही ग्राम के लोगो को योजनाओं का लाभ दिलाने के नाम पर खुल के वसूली की गई है साथ ही आवास का काम शुरू ही नही हुआ और हितग्राही के खाते में राशि डाल निकाल ली गई जिसकी शिकायत मंडला जिले जनपद पंचायत नैनपुर की पिंडरई चौकी में की गई शिकायत में बताया गया है कि रोजगार सहायक जमील खान ने हितग्राही के प्रधानमंत्री आवास के लिए पहली किस्त उसके बैक एकाउंट में डाली और फिर दूसरी क़िस्त 49 हज़ार डाल दी फिर हितग्राही से दी गई राशि उससे छीन कर भाग गया जिसकी शिकायत आवेदक के द्वारा लिखित शिकायत की उसमे न्याय की गुहार लगाई है। जिसमे उल्लेख किया है कि मैं प्रार्थी शेख असलम पिता श्री शेख सुलेमान निवासी पुंगार तह केवलारी जिला सिवनी ( म०प्र०) का निम्नलिखित प्रार्थना करता हूँ 

            मैने दिनांक 17/12/2022 को सेन्ट्रल बैंक शाखा पिण्डरई (मण्डला) से पी. एम. आवास की पहली एंव दूसरी किस्त की जमा राशि में से 49000/- (उनंच्चास हजार रुपये) निकाला विड्राल जीमल खान ने मरा और बैंक के बाहर निकला मेरे पीछे पीछे बैंक के अंदर से जीमल खान आया और बोला कि ला मै मेरे रुपये गिन के देता हूँ कहकर जबरदस्ती मेरे रुपये बैंक पासबुक व आधार कार्ड छीन लिया और आल्टो कार में बैठकर भाग गया। मैने इससे सम्पर्क करने की कोशिश की तब यह कहकर टालता रहा कि एक दो दिन में दे दूंगा इस तरह से टाला मटोली करता रहा परंतु न रुपये, न ही आधार कार्ड और बैंक पासबुक दिया ।


जमील खान द्वारा मेरे चिन्हित प्लाट पर भी फर्जीवाड़ा किया गया कही का प्लाट, कहीं की फोटो आदि का जियो टेक करके शासन से धोखा देकर दो किस्त खाता मे आई जबकि मेरे पी. एम. आवास पर होल्ड लगा था। मेरा चिन्हित प्लाट जस का तस है। न तो नींव है, न ही दीवार अर्थात जमील खान द्वारा यह पूरा कृत्य एक सुनियोजित षडयंत्र रचकर किया गया है।

इनका कहना है ....

चौकी में एक शिकायत प्राप्त हुई है जिसमे आवेदक ने आवेदन में कहा है कि रोजगार सहायक जमील खान ग्राम पंचायत पुंगार जो कि सिवनी जिले की ग्राम पंचायत है। पर उनकी बैंक पिंडरई में प्रधानमंत्री आवास की राशि यहाँ की बैंक से निकाल कर आवेदक से छीन कर भाग गया है, प्राप्त आवेदन की जांच चल रही है आज हमने बैंक से फोटेज जप्त किये है, बहुत जल्द आरोपी भी गिरफ्त में होगा।

                                           मानिक पटले

                               चौकी प्रभारी पिंडरई

           मेरा नाम से प्रधानमंत्री आवास सरकार मिला था पर सरपंच सचिव और रोजगार सहायक जमील खान ने सरकारी योजना दिलाने के नाम पर खुल के वसूली करते है मुझसे भी राशि मंगाई मेने पहले दे दी फिर आवास की क़िस्त डाली और मुझे कहा कि बैंक पहुँचो पासबुक आधार कार्ड लेकर देख लेते है और राशि निकाल कर अपना काम चालू कर दो में बैंक गया और मेरे साथ जमील खान भी गया बैंक से मुझे 49 हजार रुपए मिले उसने कहा आओ एक बार गिन लेते है पैसे लेते हुए वह अपनी आल्टो कार में बैठ गया और गाड़ी चालू किया और पूरे पैसे लेकर भाग गया जिसकी शिकायत मेने पिंडरई चौकी में की है।

                                         शेख अशलम

                             शिकायतकर्ता ग्राम पुंगार

No comments:

Post a Comment