बकायेदारों पर विद्युत विभाग सख्त....तड़के 4 बजे बिजली कनेक्शन काटने पहुंचा अमला - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Friday, December 2, 2022

बकायेदारों पर विद्युत विभाग सख्त....तड़के 4 बजे बिजली कनेक्शन काटने पहुंचा अमला

 




रेवांचल टाईम्स:अधारताल क्षेत्र में आज सुबह उस समय हड़कंप मच गया जब बिजली विभाग के कर्मचारी सुबह चार बजे से लोगों के घरों में घुसकर बिजली की लाइन काटने लगे। सूचना मिलने के बाद कांग्रेस नेता सौरभ नाटी शर्मा सहित स्थानीय लोग मौके पर पहुंचकर बिजली कर्मियों को जमकर फटकार लगाई और फिर अधारताल थाने में लिखित शिकायत दर्ज कराते हुए बिजली विभाग की गाड़ी और सीढ़ी भी जप्त करवाई गई। पूछताछ में लाइनमैन ने बताया कि जे.ई और ए.ई साहब के निर्देश पर ही सुबह-सुबह लाइन काटी जा रही है। कांग्रेस नेता ने तुरंत ही काटे गए बिजली कनेक्शन भी जुड़वाए।

अधारताल के आस्था नगर में रहने वाले संदीप शुक्ला ने बताया कि आज सुबह जब वो अपने घर में सो रहें थे, उसी दौरान बिजली विभाग के कर्मचारी आए और बिना किसी सूचना के लाइन काट दी। लाइनमैन से जब पूछा गया तो उनका कहना था कि अधिकारियों के द्वारा लिस्ट सौंपी गई है, उसी के तहत हम लोग बिजली काटने की कार्रवाई कर रहें है। संदीप शुक्ला ने बताया कि सिर्फ उनके घर में ही नहीं बल्कि कई लोगों के घरों में रात के अंधेरे में घुसकर उनके घरों की लाइन काटी गई है।

बिजली विभाग में पदस्थ लाइनमैन स्वयं खंबे में ना चढ़कर अप्रशिक्षित आउटसोर्स कर्मियों को लाइन काटने चढ़ाया हुआ था, और उन्हीं से ही बिजली कटवाया जा रहा था। ऐसे में समझा जा सकता है कि अभी तक आउटसोर्स कर्मचारियों की बिजली के खंभे से गिरकर या फिर करंट लगने से मौत हुई है तो उसका जिम्मेदार कौन है। लाइनमैन से जब पूछा गया कि आउटसोर्स कर्मचारी को क्यों खंबे पर चढ़ाया तो उसका जवाब चौंकाने वाला था। लाइनमैन का कहना था कि हम लोग हमेशा से ही ऐसा करते आ रहे हैं।

कांग्रेस नेता सौरव नाटी शर्मा के मुताबिक बिजली विभाग के लाइनमैन के पास बिजली काटने वालों की लिस्ट भी मिली है जो कि संभवता फर्जी है, क्योंकि उस लिस्ट में नाम तो लिखे हुए थे लेकिन उसमें ना ही बिजली विभाग की सील लगी थी और ना ही अधिकारियों के साइन थे। लिहाजा समझा जा सकता है कि बिजली विभाग की यह लिस्ट फर्जी है जिसे लेकर लाइनमैन घूम रहा था। सौरभ शर्मा ने बताया कि जितने भी घरों की लाइन अंधेरे में काटी गई थी, उन सभी घरों की लाइन तुरंत जुड़वा दी गई है और इसके बाद अधारताल थाना पुलिस में शिकायत भी दर्ज करवाई गई है।

स्थानीय निवासी और कांग्रेस नेता की शिकायत पर अधारताल थाना पुलिस ने शिकायतदर्ज कर बिजली विभाग की गाड़ी और सीढ़ी को जप्त कर लिया है। पुलिस का कहना है कि कुछ लोगों के द्वारा बिजली विभाग से संबंधित एक लिस्ट दी गई है, जिसमें बिजली काटने का आदेश तो दिया है लेकिन उसमें ना ही सील लगी है और ना ही अधिकारी के साइन हैं। अब इस मामले की विस्तृत रूप से जांच की जा रही है।

No comments:

Post a Comment