लोकायुक्त ने जिला पंचायत का लिपिक को 20 हजार की रिश्वत रंगे लेते हाथ पकड़ा - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Friday, December 30, 2022

लोकायुक्त ने जिला पंचायत का लिपिक को 20 हजार की रिश्वत रंगे लेते हाथ पकड़ा

  



दैनिक रेवांचल टाइम्स :मध्य प्रदेश में रिश्वतखोर घूस लेने से बाज नहीं आ रहे हैं। इसी बीच ताजा मामला शुक्रवार को रायसेन जिले से सामने आया है। यहां जिला पंचायत कार्यालय में पदस्थ लिपिक आशीष श्रीवास्तव को भोपाल लोकायुक्त (Bhopal Lokayukta) ने 20 हजार रुपए की रिश्वत (Bribe) लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा। आरोपी लिपिक सरपंच प्रतिनिधि से रोजगार सहायक को सचिव का प्रभार दिलाने के लिए 25 हजार की रिश्वत मांग रहा था।

सचिव का प्रभार दिलाने मांगी घूस

जानकारी के मुताबिक, रायसेन जिले की गैरतगंज जनपद के अंतर्गत ग्राम पंचायत टेहरी मुरपार में हरनाम सिंह लोधी पिता गुलाब सिंह लोधी सरपंच प्रतिनिधि के रूप में कार्यरत हैं। उसने पुलिस अधीक्षक लोकायुक्त कार्यालय भोपाल को शिकायत की थी कि उसकी मां प्रभा बाई ग्राम पंचायत टेहरीमुरपार की सरपंच हैं और वह सरपंच प्रतिनिधि का कार्य करता है। उसकी ग्राम पंचायत में सचिव की पदस्थापना नहीं होने से ग्राम पंचायत का कार्य प्रभावित होता है। जिस पंचायत में सचिव नहीं होता, वहां नियम अनुसार कार्य ग्राम रोजगार सहायक को दिया जा सकता है।

इसी संबंध में ग्राम रोजगार सहायक मनोज यादव को सचिव का प्रभार दिलाने के लिए मुख्य कार्यपालन अधिकारी ज़िला पंचायत रायसेन के कार्यालय में पदस्थ लिपिक आशीष श्रीवास्तव से मिला था। लिपिक द्वारा सचिव का प्रभार दिलाने के एवज में 25 हजार की राशि मांगी गई। आवेदक की शिकायत सही मिलने पर आरोपी को ट्रैप करने की योजना बनाई गई।
रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा


No comments:

Post a Comment