आदिवासी जिले में दगाबाज परिषद सोशल मिडिया से लॉलीपॉप फर्जी आंकड़ों से खजाना में डांका... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Tuesday, November 22, 2022

आदिवासी जिले में दगाबाज परिषद सोशल मिडिया से लॉलीपॉप फर्जी आंकड़ों से खजाना में डांका...


रेवांचल टाइम्स - प्रदेश के मुखिया शिवराज सरकार का दिल जितने वाली संस्था जन अभियान परिषद! सरकार को कहीं का नहीं छोड़ा मात्र खजाना का यार है! जिला से लेकर ब्लाक स्तर में लूटेरे की फौज की हुकूमत है ! जनता चीख चिल्ला रही की परिषद दगाबाज है ! सरकार को पलीता लगा रही है ! दैनिक रेवांचल टाइम्स ने चीख पुकार को प्रमुखता से प्रकाशन किया जिससे हड़कम भी मचा!पर धीरे-धीरे मामला ठंडे बस्ते में गया लूटेरो की फौज ने भी चैन की साँस ली स्तिथि जस की तस है ।

     आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र मंडला जिला के विकासखंड बीजाडांडी देखा जा सकता खैरात में मिला कार्यालय कबाड़खाना बना हुआ है! एमएस डब्ल्यू बीएसडब्ल्यू के छात्र छात्राओं को आज भी अप्रशिछित परामर्शदाता पढ़ा रहे है जिला अधिकारी से जबरजस्त सेटिंग के चलते रविवार को लगने वाली क्लास में अप्रशिछित परामर्श दाता को विद्यार्थी के भविष्य से खिलवाड़ करते देखा जा सकता सरकार पानी की तरह पैसा बहा रही है जमीनी हकीकत सरकार के मुँह में कालिख पोत रही बताया गया जन अभियान परिषद का क्रियान्वयन बहुत भयावह है ब्लाक समन्वयक फील्ड वर्क नहीं करती सरकार की योजना को जन जन तक पहुंचने का कार्य कागजी घोड़े तक सीमित है!परिषद की फौज सोशल मिडिया में बहुत तेज सक्रिय जिला से हुकुम होते हि परिचित को बुला बैनर के सांथ खड़े कर फोटो खिंचा फटाफट पोस्ट करते है जिससे सरकार को बता सके बहुत अच्छा कार्य चल रहा है यहां की जनता सब जानती है परिषद का खेल 20-20 जैसा है इनकी यही कार्यशैली रही सरकार क्लीनबोल्ड हो सकती है!सूत्र बताते है परिषद द्वारा गांव गांव बनाये गए प्रत्येक समूह के खाते में कई कई हजारो रूपये आता अध्यछ सचिव से निकलवा बंदरबाट किया जाता है यह जाँच का विषय है।

No comments:

Post a Comment