Deepawali 2022: इन वास्तु टिप्स की मदद से मां लक्ष्मी होंगी प्रसन्न,कारोबार में तरक्की के साथ घर आएगी खुशहाली - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Sunday, October 23, 2022

Deepawali 2022: इन वास्तु टिप्स की मदद से मां लक्ष्मी होंगी प्रसन्न,कारोबार में तरक्की के साथ घर आएगी खुशहाली



हिंदू पंचांग के अनुसार कार्तिक मास कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि को दीपावली का त्यौहार मनाया जाता है। दीपावली को रोशनी का त्योहार भी कहते हैं। इस दिन पूरी धरती दीयों की रोशनी से जगमगा उठती है। 5 दिनों तक चलने वाले इस महापर्व की शुरुआत धनतेरस से हो जाती है। धनतेरस के दिन मां लक्ष्मी और धन के स्वामी भगवान कुबेर की पूजा की जाती है। दीपावली का त्योहार भले ही 24 अक्टूबर को मनाया जाएगा। लेकिन लोग इसकी तैयारियों में करीब एक महीना पहले से जुट जाते हैं।

दीपावली में घर की साफ- सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाता है। इन दिन ऑफिस और घरों में भगवान गणेश और मां लक्ष्मी की पूजा कर लोग सुख -समृद्धि और शांति की कामना करते हैं।

आइए जानते हैं माता लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए कुछ आसान से वास्तु टिप्स

1. घर के बीचों- बीच की जगह को ब्रह्मस्थान कहते हैं। वास्तु शास्त्र के अनुसार ब्रह्म स्थान को साफ- सुथरा और खाली रखें। उस जगह कोई भी भारी वस्तु न रखें। यदि पहले से कोई भारी फर्नीचर रखा हो तो उसे हटा दें।

2. घर में रखी टूटी-फूटी, पुरानी, बेकार की वस्तुएं दीपावली की सफाई के दौरान सबसे पहले घर से हटा दें। पुरानी, टूटी- फूटी चीजें रखने से घर में निगेटिव एनर्जी का वास होता है। यदि आप धन के रास्ते में आने वाली सभी बाधाओं को खत्म करना चाहते हैं तो जल्द से जल्द पुरानी खराब चीजों हटा दें।

3. ईशान कोण को देव स्थान भी कहते हैं वास्तुशास्त्र के अनुसार ईशान कोण में देवताओं का वास होता है। यदि घर के ईशान कोण में गंदगी होगी तो देवता घर में आने से इंकार कर देंगे इसलिए घर की सफाई करते समय ईशान कोण की सफाई पर विशेष ध्यान दें।

No comments:

Post a Comment